Amateur sex Analsex Aunty ki chudai Balo wali chut Behan chudai Erotic Stories Gand chudai Garm chut Hindi sex stories Hindi Stories Lust Stories Nangi ladki Romantic Sex Kahani Sex stories Sexstory अमीर औरत की चुदाई इंडियन बीवी की चुदाई ऑफिस सेक्स कमसिन कली किचन में चुदाई कुँवारी चुत कोई देख रहा है कोई मिल गया गर्म चुत गर्लफ्रेंड की चुदाई गांड की चुदाई जिगोलो से चुदाई दर्दभरी चुदाई देसी चुदाई कहानी देहाती लड़का नौकर से चुदाई पुलिसवाली की चुदाई बस में चुदाई बहन की रसीली चुत बालकनी में चुदाई बुआ की चुदाई बूढ़ा पति बड़ी चूचिया भाई बहन की चुदाई भाभी की चुदाई भूखी मलाईदार चुत माँ की प्यासी चुत रंडी बनी माँ रसदार चुत रसीली चुत राजनीति और हवस शहर की चुत सामूहिक चुदाई सिनेमा हॉल में चुदाई सीलबंद गांड की चुदाई सीलबंद चुत सीलबंद चुत की चुदाई सेक्स कहानी सेक्स स्टोरी सेक्सी कहानी

वेटिंग रूम से शुरू हुआ चुदाई का खेल

स्टेशन के वेटिंग रूम से शुरू हुई चुदाई की खेल दिल्ली तक बन गई राजधानी मेल

फिर मॉम बोली रोहन क्या चाट कर ही फिर से पानी निकाल दोगे। अब डाल दे बेटा। अपना मोटा लन्ड अपनी माँ कि चुत में डालकर चोदो। मैं भी प्यासी हूँ बेटे। मेरी भी चुत तुम्हारे लन्ड के लिए तड़प रही है। कल रात से मेरी चुत तुम्हारी लन्ड की दीवानी हो चुकी है। अब बिना देर किए चोद दो मुझे।

मैं भी बिना देर किए माँ के गांड़ के नीचे एक तकिया लगाया और माँ के एक पैर को उठाकर अपना लन्ड उनकी चुत पर लगाया। और जोर का झटका मारा, लन्ड में तेल लगे होने के कारण मेरा लन्ड एक बार मे ही माँ की चुत में समा गया

मेरे सभी https://nightqueenstories.com के हैंडसम हॉट और सेक्सी पाठकों और मेरे दोस्तों को मेरा दण्डवत नमस्कार। कैसे हो मेरे प्यारे दोस्तों। आप सब की इतना सारा मोहब्बत के लिए मैं तहेदिल से आपका आभारी हूँ। ऐसे ही प्यार बनाए रखना। और https://nightqueenstories.com के कहानियों का एन्जॉय करना। आपकी हरेक डिमांड पूरी की जाएगी, आप जैसा कहानी चाहेंगे आपसब तक पहुचाई जाएगी। आप ज्यादा से ज्यादा कमेंट किया करें, ताकि हम आपकी डिमांड पर खरे उतरे सकें और आपको अनोखी और सबसे अलग, सबसे मजेदार कहानियां आपतक पहुँचा सकें।

तो दोस्तों चलिए चलते है कहानी की ओर।

मेरे प्यारे दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं मेरा नाम रोहन विस्वास है। मैं 24 साल का हूँ और मैं दिल्ली में रहता हूँ और IT सेक्टर में जॉब करता हूँ। मेरे फैमिली में मेरी माँ और मेरी एक बहन है पिताजी का देहांत 10 साल पहले जो चुका है।

मेरी मॉम एक सरकारी अधिकारी हैं। और कानपुर में पोस्टेड हैं। मेरी माँ की उम्र 46 साल है लेकिन वो 35 से भि कम की लगती हैं। उनका नाम कलावती है।

इससे पहले भी मैं अपनी मॉम और मेरे बीच हुई चुदाई की शुरुआत की कहानी आपसब के समक्ष रख चुका हूँ। अगर आप वो कहानी नहीं पढ़ें हैं तो मैं नीचे कहानी का शीर्षक और लिंक दे रहा हूँ आप सब जरूर पढ़ें।

चुदाई के करंट में उलझ गए माँ बेटे : स्टेशन के वेटिंग रूम में माँ-बेटे की चुदाई की दास्तान

घर पहुँचने के बाद मालिश करते हुए कैसे मेरी मॉम मुझसे चुदवा ली

अब आगे पढ़िए।

तो दोस्तों ठंढ के मौसम थी और तगड़ी ठंड पड़ रही थी। ट्रेन लेट होने के कारण हम वेटिंग रूम में सो रहे थे। तभी मेरा लन्ड खड़ा हो गया और मैं मॉम को नींद में ही चोद दिया।

फिर ट्रेन में माँ मेरे लन्ड को हिला हिलाकर मेरा वीर्य निकाली और मेरे लन्ड को शांत कर दी।

हम दिल्ली पहुँच चुके थे। और स्टेशन पर चुदाई और ट्रेन में माँ के साथ मेरे संबंध ने माँ को भी पूरा खोल दिया था। माँ अब मुझसे पूरा खुलकर बात कर रही थी। हम नई दिल्ली स्टेशन से टैक्सी लिए और अपने रूम पर आ गए। दिन के 4 बज चुके थे। और हमदोनों माँ बेटे काफी थक चुके थे।

घर आने के बाद सामान रखा और मैं बोला, माँ मैं नीचे शॉप से दूध और ब्रेड ले आता हूँ। और शाम के लिए सब्जियां भी ले लेंगे। तब तक आप नहाना चाहें तो नहा लीजिए। माँ बोली ठीक है।

तौलिया में माँ की चुचियाँ और गांड़ बड़ी मुश्किल से ढक रहे थे

मैं नीचे चला गया और थोड़ी ही देर में सामान लेकर आ गया और बेल बजाया तो माँ दरवाजा खोली। माँ अभी जस्ट नहाकर बाथरूम से निकली ही थी तो वो बस तौलिया में थी। और तौलिया उनकी चुचियों से चूतड़ों तक बमुश्किल से था। उनकी गोरी चिकनी जांघे साफ दिखाई दे रही थी। माँ की जांघे बहुत मोटी थी। मैं तो एकटक माँ को देखता ही रह गया। तो माँ बोली अब अंदर भी आओगे ये ऐसे देखते रहोगे। तो मैं अंदर आया और माँ दरवाजा लगा दी। तबतक मैं किचन में सामान रख दिया और वापस आया तो बोला मॉम आप बहुत हॉट हो। आपसे ज्यादा खूबसूरत इस दुनिया मे कोई शायद ही होगा।

तो माँ बोली हट पागल अपने माँ को ऐसे बोलता है। और बोली मैं कपड़े पहन के आती हूँ फिर चाय बनाती हूँ। और फिर मॉम दूसरे रूम में चली गई। उन्हें जाते हुए मैं देख रहा था उनकी बड़ी बड़ी कसी हुई चूतड़ गजब के थिरक रहे थे।

मॉम अंदर गई लेकिन दरवाजा नही लगाई। और माँ अंदर जाने के बाद बैग से गाउन ब्रा और पैंटी निकाली। मैं पर्दे को हल्का हटाकर देख रहा था।

फिर माँ तौलिया हटा दी और दूसरे तरफ रख दी। अब माँ बिल्कुल नंगी थी। लेकिन उनकी गांड़ मेरे तरफ थी। दोस्तों माँ की गांड़ बिल्कुल गोल और चौड़ी थी। फिर माँ पहले लाल रंग की स्ट्रिप वाली पैंटी पहनी और फिर ब्रा और फिर गाउन। माँ की गाउन ब्लैक रंग की थी। जिसमे माँ की गोरी जिस्म चमक रही थी और माँ किसी अप्सरा की तरह लग रही थी।

फिर मैं झट से वहां से आकर चेयर पर बैठ गया तभी माँ बाहर आई तो मैं फिर से बोला माँ आप तो बिल्कुल स्वर्ग से उतरी हुई अप्सरा लग रही हो। माँ कुछ नही बोली बस मुस्कुरा दी। और किचन में चली गई।

थोड़ी देर बाद माँ आवाज दी कि चीनी कहाँ है। तो मैं किचन में गया और माँ को बताया। माँ चाय बनाने लगी और ब्रेड को टोस्ट करने लगी। मैं पीछे से माँ को पकड़ लिया और बोला माँ आप बहुत अच्छी हो। माँ बोली अच्छा बहुत मस्का लगाता है तू।

मैं माँ को पकड़े हुए गालों पर किस कर लिया फिर माँ बोली जाओ नहा लो फ्रेश लगेगा। तब तक मैं चाय ब्रेड तैयार कर देती हूँ।

फिर मैं नहाने चला गया। लेकिन माँ के प्रति मैं लगातार खिंचा जा रहा था। और उन्हें सोचते हुए बाथरूम में ही मुठ मारा।

फिर मैं तौलिया में बाहर आया तबतक मॉम टोस्ट और चाय टेबल पर लेकर आ गई और बोली ठंड है जल्दी से कपड़े पहन लो और चाय पियो मैं कपड़े पहन कर बैठा और हमदोनों चाय पिये। तब तक शाम के 7 बज गए। तो मैं बोला माँ खाना बाहर से आर्डर कर देते हैं। आज आप भी थकी हुई हो तो रहने दो मत बनाओ। तो माँ बोली कि नही आर्डर मत करो मैं बना दूँगी। तो मैं बोला अरे माँ कल से आप ही को तो बनाना है आज बाहर से मंगवा लेते हैं। तो मॉम मान गई। तो मैं कॉल करके आर्डर कर दिया। और फिर हम टिवी देखने लगे।

रात को 9 बजे खाना आया तो हमलोग खाना खाए। फिर कुछ देर टीवी देखे। फिर माँ बोली कि रोहन चलो आज मैं तुम्हारी मालिश कर देती हूँ। तो मैं बोला ठीक है मॉम चलिए।

मेरे रूम पर एक ही बिस्तर है। लेकिन 7×7 का डबल बेड है। है तो इसमें 2 अलग अलग लेकिन दोनों साथ लगा हुआ है।

हमदोनों रूम में आ गए तो माँ बोली कि ठंड है रूम हीटर है तो जला दो ताकि कमरा गर्म हो जाए। तो मैं चला दिया। फिर माँ बोली कि कपड़े उतार कर तौलिया पहन लो।

मैं उनके सामने ही कपड़े उतार दिया और तौलिया पहन लिया और पेट के बल लेट गया। अब माँ तेल अपने हाथों में लगाई और पहले मेरे हांथो को मालिश करने लगी। माँ के स्पर्श से ना जाने क्यों मेरे बदन में सनसनी बढ़ने लगी और वह धीरे धीरे नीचे की तरफ जाने लगी। और मेरा लन्ड खड़ा होने लगा। मेरी माँ मेरे पूरे पीठ में ऑइल लगाकर मालिश कर रही थी। फिर माँ बोली कि अगर अंडरवियर पहने हो तो तौलिया हटा दो। फिर मैं तौलिया लूज किया तो माँ खिंचकर दूर फेंक दी। फिर माँ मेरी अंडरवियर में हाथ डालकर मेरी चूतड़ों और दरारों में मालिश करने लगी। मेरे लन्ड में अब और तनाव बढ़ने लगा। फिर माँ मेरी पैरों में मालिश की और बोली अब सीधा हो जाओ। मैं जैसे ही सीधा हुआ मेरा लन्ड बिल्कुल कुतुबमीनार की तरह खड़ा हो गया। फिर माँ हँसने लगी लेकिन बोली कुछ नही। और मेरे पैरों को मालिश करने लगी। फिर धीरे धीरे वो ऊपर आयी और मेरे पेट पर मालिश करने लगी मेरा तो बुरा हाल था।

मेरा 7 इंच का लन्ड मेरी माँ के मुट्ठी में भी ठीक से नही आ रहे थे

अब माँ पेट पर मालिश करते हुए मेरे अंडरवियर में भी अंदर हाथ डाल रही थी जिससे मेरा लन्ड उनकी हाथों में टच हो जा रहा था। इससे मेरा शरीर ऐंठने लगा।

फिर माँ मेरे अंडरवियर को नीचे कर दी और मेरे लन्ड को पकड़ ली। मेरा 7 इंच का लन्ड मेरी माँ के मुठी में भी ठीक से नही आ रहे थे। फिर माँ मेरे लन्ड पर ढेर सारा तेल लगाई और मेरे लन्ड की मालिश करने लगी। मेरे मुँह से आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह ….. निकलने लगी

माँ बोली रोहन तुम्हारा लन्ड बहुत बड़ा है। तुम्हारी शादी जिससे होगी वो बहुत खुशनसीब होगी

तो माँ बोली रोहन तुम्हारा ये तो बहुत बड़ा है बहुत कम मर्दों के इतना बड़ा होता है। जिससे तुम्हारी शादी होगी वो बहुत खुशनसीब होगी। इतना सुनते ही मैं उठा और माँ को गले से लगा लिया। और माँ को किस करने लगा। शायद माँ भी यही चाहती थी इसीलिए उन्होंने भी मेरा विरोध करने के बजाए किस करने में साथ देने लगी। माँ भी मेरे होंठो को चूसने लगी।

हमदोनों ने करीब 5 मिनट तक किस किया फिर मैं माँ के गाउन उतार दिया। अब माँ सिर्फ लाल रंग की ब्रा और पैंटी में थी। और फिर मैं माँ के ब्रा को भी अलग कर दिया। और मैं लेट गया माँ को भी साथ मे खिंच लिया और उनके होंठो को किस करने लगा। थोड़ी देर बाद माँ हटी और नीचे गई और मेरे लन्ड को चूसने लगी। 5, 7 मिनट वो मेरे लन्ड को चूसी होंगी की मेरा सारा माल उनके मुँह में ही निकल गया। माँ वीर्य को उगलने के बजाए निगल गई। लेकिन माँ मेरा लन्ड चुसते रही। और थोड़ी ही देर में एक बार फिर से मेरा लन्ड खड़ा हो गया। तो मैं उठा और माँ को लेटा दिया और उनकी पैंटी को निकाल दिया। मैं उनकी चुत देखते ही हैरान हो गया क्योंकि रात में तो माँ के चुत झांटो से भरी हुई थी। मतलब साफ था को मॉम नहाते समय अपने चुत के बाल को भी साफ कर दी थी।

फिर मैं माँ के चुत को चाटने लगा। माँ सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह…

करने लगी और कहने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. राजजजाआआआ चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से.. चाटो जोर से ओह रोहन चाटो रोहन चाटो।

चाटो मेरी चुत बेटा खा जाओ मेरी चुत…. चुत से पानी निकाल दो चाटकर आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरे राजा…राजअअअअअअअ।। चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह रोहन बेटा मेरी चुत बहुत प्यासी है। चाटो जोर।से।…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. ऐसे ही बेटा ऐसे ही जोर जोर से चाटो मेरी चुत।..

मॉम बोली रोहन क्या चाट कर ही फिर से पानी निकाल दोगे, अब अपना मोटा लन्ड मेरी चुत में डालकर चोदो

चाटो और जोर से चाटो।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. खा जाओ मेरी चुत राजज्ज्ज़ा चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह.. तुम कितने अच्छे हो मेरे बेटे…. चाटो राजा चाटो मेरी चुत। पूरा निगल जाओ मेरी चुत को। आ हहहहहहहहह। ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बेबी चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। …

मैं 10,12 मिनट से माँ की चुत चाट रहा था और माँ एक बार झड़ चुकी थी। इधर मेरा भी लन्ड अब फिर से पूरे जोश में आ चुका था। फिर मॉम बोली रोहन क्या चाट कर ही फिर से पानी निकाल दोगे। अब डाल दे बेटा। अपना मोटा लन्ड अपनी माँ कि चुत में डालकर चोदो। मैं भी प्यासी हूँ बेटे। मेरी भी चुत तुम्हारे लन्ड के लिए तड़प रही है। कल रात से मेरी चुत तुम्हारी लन्ड की दीवानी हो चुकी है। अब बिना देर किए चोद दो मुझे।

मैं भी बिना देर किए माँ के गांड़ के नीचे एक तकिया लगाया और माँ के एक पैर को उठाकर अपना लन्ड उनकी चुत पर लगाया। और जोर का झटका मारा, लन्ड में तेल लगे होने के कारण मेरा लन्ड एक बार मे ही माँ की चुत में समा गया और मैं चोदना शुरू किया तो माँ पागल हो गई। और कहने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई…..आआहहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी…..

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह…

आआहहहहहहहहहहहहहह….. रोहन मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर जोर से चोदो मेरे शेर….. चोदो रोहन बेटे चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह…..

बहुत दिनों बाद मर्द का लन्ड मिला है मेरी जान चोदो।. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजा आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. राजा मेरी जान चोदो…………तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है…. मेरी बच्चेदानी में ठोकर मार रहा है। आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. बहुत बड़ा लंड है तुम्हारा… बेटे। जिस चुत से तू निकला है उस चुत को आज चोद के फाड़ दे बेटा

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. रोहन मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. ओह मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो…

मैं आने वाली हूँ बेटे जोर जोर से चोदो। आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… आहहहहहहहहहहहहहहहहह….

और फिर माँ के चुत से फव्वारा छूट पड़ा। बिल्कुल गर्म रस निकल रहा था। बहुत पानी निकला था मेरी माँ के चुत से। अब माँ के चुत से फच फच की तेज आवाज आने लगी थी।

तभी मेरा भी लन्ड पानी छोड़ने लगा और माँ मेरी कमर को अपने दोनों पैरों में फंसा कर नीचे करने लगी। और नीचे से अपनी कमर उछालने लगी। और फिर मैं माँ के ऊपर लुढ़क गया मेरी गर्म सांसे बहुत तेज चल रही थी।

फिर माँ मुझे जोर से बाहों में भिचते हुए मुझे किस की। और आई लव यू बोली।

उस रात हम 4 बार चुदाई किये। उसी रात मैं माँ की गांड़ भी मारा। और फिर हम नंगे ही एक दूसरे के बाँहो में सो गए। सुबह 10 बजे हम जगे। और फिर हम दोनों साथ मे नहाते हुए एक बार फिर शावर के नीचे चुदाई किए। माँ मेरे पास 2 महीना रुकी और हम जम के चुदाई किये। अब माँ नौकरी से रिजाइन दे दी है और मेरे पास ही दिल्ली में रहती है। हमदोनों माँ बेटे पति पत्नी की तरह रहते हैं। माँ भी बहुत खुश हैं मुझसे चुदवाकर।

तो दोस्तों ये थी मेरी माँ के साथ जबरदस्त चुदाई। 

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

 

100% LikesVS
0% Dislikes

One thought on “वेटिंग रूम से शुरू हुआ चुदाई का खेल

  1. jo housewife aunty bhabhi mom girl divorced lady widhwa akeli tanha hai ya kisi ke pati bahar rehete hai wo sex or piyar ki payasi haior wo secret phon sex yareal sex ya masti karna chahti hai .sex time 35min se 40 min hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *