मॉडल बनी रंडी

मॉडल बनने चली थी और रंडी बन के रह गई

नमस्ते। मैं मेघा हूँ। बरसने वाला नही मेरा नाम मेघा है। मैं 22 साल की हूँ। और IIT दिल्ली से इंजीनियरिंग कर रही हूँ। और यह मैं बस मॉम डैड के खुशी के लिए कर रही हूँ। वरना मेरा बचपन से सपना था कि मैं मॉडलिंग करूँ। मैं एक मारवाड़ी फैमिली से हूँ और आप सब को पता ही है मारवाड़ियों के जिन में खूबसूरती और हॉटनेस होती है। तो मैं भी किसी अप्सरा से कम नही हूँ। और मुझे रेड और ब्लैक कलर पसन्द भी है। जो मेरी दूधिया चमड़ी पर कयामत बना देती है।

खैर मैं कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही मॉडलिंग करने को सोचने लगी। और अखबारों, मैगजीन, सोशल मीडिया पर मॉडलिंग का एडवरटाइज ढूढने लगी। और जैसे ही मुझे कुछ दिखता मैं कॉल मैसेज करके बात करती। एक दिन मुझे एक एजेंट का नम्बर मिल गया। तो मैं उससे बात की तो वह मुझे काम दिलवाने के भरोसा दिया लेकिन एक शर्त रखी कि पहले मुझे खुश करना होगा। तो मैं पूछी कितना पैसा चाहिए तो वह बोला मैडम पैसे तो हम इतने कमाते हैं कि तुम जैसे हजार लड़कियों को एकसाथ खरीद सकते हैं

फिर मैं उससे पूछी क्या करना होगा मुझे। तो वह बोला समझ जाओ। खुश करने का मतलब। फिर थोड़ी देर चुप रहने के बाद बोला मेरे साथ सेक्स करना होगा। वेसे मैं कोई सरप्राइज नही हुई ये सुनकर क्योंकि जैसा मैं रोज अखबारों समाचारों में पढ़ती थी यह तो आम था। खैर मैं भी तो चुदक्कड़ ही थी। एक नम्बर की चुदक्कड़। मैं कॉलेज में कई लड़को से चुद चुकी थी। इतना ही नही अच्छे मार्क्स केलिए बूढ़े प्रोफेसरों के सूखे लन्ड से भी चुद चुकी थी।

कैसे एक आईआईटियन लड़की स्टूडेंट से वर्ल्ड की टॉप वेश्या बन गई

तो मैं सोची एक बार चुदने से करियर को पंख लग जाएगा तो क्या बुरा है। तो मैं तैयार हो गई और बोली कब और कहाँ। तो वह खुश हो गया।

और बोला कि अपनी अच्छी फोटो भेजो जिसमें तुम अलग अलग पोज में हो। और कपड़े बिल्कुल शार्ट और कुछ न्यूड फोटो होनी चाहिए। ताकि मैं आगे बात कर सकूँ। और फिर मैं उसे ढेर सारी फोटो भेज दी। अगले दिन मुझे ऑडिशन के लिए कॉल आया तो मैं चली गई। वहां जाने के बाद वह एजेंट मेरा ही इंतजार कर रहा था। और बोला तुम तैयार हो तो मैं बोली हां।

फिर वह कुछ कंडीशन सुनाया। वह बोला कि तुम्हारी ऑडिशन होगी जिसमें तुम्हें मेरे साथ सेक्स भी करना होगा। और तुम जितनी स्टाइल मार सकती हो मारना। क्योंकि यह शूट होगा। तो मैं बोली मतलब मेरा सेक्स के टाइम वीडियो बनेगा। तो वह बोला हां। तो मैं मना की तो वह बोला कि चिंता मत करो। डाइरेक्टर और प्रोड्यूसर को दिखाने के लिए यही होता है। तभी तुम्हे एक्टिंग का चांस मिलेगा। और उन्हें पसन्द आ गया तो तुम्हे फिल्मों में ब्रेक मिलने से कोई रोक नही पाएगा। और प्राइवेसी का पूरा ख्याल रखा जाएग। और तुम्हे मशहूर करने के लिए तुम्हारी मर्जी से इस वीडियोज के इस्तेमाल भी किया जा सकता है। जिससे तुम रातों रात स्टार बन जाओगी।

फिल्मों में काम के नाम से मेरे जेहन में मस्त रसायन फुट पड़ी। और फिर मैं तैयार हो गई।

और फिर मधुर आवाज की धुन बजने लगी। और मुझे धीरे धीरे स्ट्रिपिंग करना था। और फिर उसे अपनी मस्त अदाओं से रिझाना था। मैं एक एक कर सारे कपड़े उतार दी। और अपने लटके झटके दिखाने लगी। मैं जब आखिरी कपड़ा यानी पैंटी उतारी तो मेरी वह क्लीन शेव बुर देखकर पागल हो गया और भूल गया कि ऑडिशन चल रहा है। और अपनी होंठो पर जीभ फिराते हुए उठा और मेरे पास आकर मेरे होंठो पर अपना होंठ रख किस करने लगा। और मेरी चुचियों को ऐसी बेदर्दी की तरह उमेठा जैसे मैं कोई जानवर हूँ। उधर कैमरे वाला भी चटखारे मारने लगा।

उसका 10 इंच का बिल्कुल काला बड़ा मोटा लन्ड किसी अफ्रीकन की तरह था।

फिर वह मेरे चुत में तीन उँगली डाल दिया। और जोर जोर से मेरे चुत में उँगली करने लगा।

वह राक्षस की तरह पेश आ रहा था। फिर वह मुझे नीचे धकेलने लगा मैं समझ गई वह लन्ड चुसवाना चाहता है। मैं भी नीचे हो गई। और उसके पठानी शूट के पायजामे के नाडे को खोल दिया जिससे उसका पायजामा जमीन पर आ गया। और वह पायजामे को निकाल दिया। और मैं उसकी अंडरवियर के ऊपर से ही उसके लन्ड को जीभ से चाटने लगी। वह मेरे सर को पकड़ा और लन्ड पर दबा दिया। लेकिन मैं सेक्स नही कर रही थी बल्कि मेरे दिमाग मे एक्टिंग घूम रही थी इसलिए मैं कोइ कसर नही छोड़ना चाहती थी। इसलिए जल्दबाजी नही कर रही थी। लेकिन वह जल्दबाजी में था। उसने खुद ही अपना अंडरवियर नीचे कर दिया और पैरो से अलग कर दिया। फिर वह पठानी कुर्ते को भी उतार फेंका। अब उसका काला सा मोटा लन्ड मेरे सामने था।

दोस्तों उसका लन्ड बहुत बड़ा था। सच मे वह असली मर्द था। मैं इतना बड़ा लन्ड सिर्फ एक बार ली थी। 6 महीने पहले। मेरे चाचा जी का लन्ड था वह। हां सही सुना आपने। दरअसल मेरे चाचाजी मेरे कॉलेज में प्रोफेसर हैं। और मुझे भी वो नही छोड़े और नम्बर के लिए चोद दिए। खैर उसपर फिर कभी कहानी लिखूँगी।

उसका काला लन्ड किसी अफ्रीकन की तरह था। फिर उसने मेरा सर पकड़ा और मेरी मुंह मे लन्ड जड़ तक डाल दिया। मेरी तो सांसे रुक गई। और मैं गों गों की आवाज करने लगी मैं हटाना चाहती थी लेकिन वह मेरे मुँह को जोर जोर से चोदने लगा। फिर मैं जोर से उसको पीछे की तब लन्ड निकाला। लेकिन फिर वह मेरे मुँह को चोदने लगा। और फिर मुझे उठाया और मेरी दोनो टांगो को पकड़ के किसी पत्ते की तरह हवा में उठा लिया और अपना लन्ड मेरी चुत पर सेट कर जोर से मुझे नीचे कर दिया। मेरे मुँह से चीख निकल गई। साले का लन्ड था या मूसल। मेरी चुत चिर दिया था हरामी ने। मेरी आँखों से आंसू आ गए थे। उसका लन्ड मेरी पेट तक गया था। 9, 10 इंच से कम नही होगा उस कुत्ते हरामी का लन्ड। और अब वो मुझे उछाल उछाल के चोदने लगा।

थोड़ी देर में मेरी दर्द गायब हो गई। और मुझे मजा भी आने लगा। उसका लन्ड सच मे कमाल था दोस्तों। अब उसका लन्ड मुझे बहुत मजा दे रहा था। मैं तो भूल ही गई थी कि मेरी ऑडिशन चल रही है।

उसने मेरी ऐसी चुदाई की की मैं बेहोश हो गई

ऐसे ही वो मुझे उछाल उछाल के करीब 10 मिनट तक चोदा और मेरी 2 बार पानी निकाल दिया। जब मेरी पानी निकलता तो वो मुझे उपर उठा देता जिससे उसका लन्ड मेरी चुत से बाहर आ जाता और फिर मेरी चुत से झरने की तरह पानी बहने लगता।

फिर वह मुझे वेसे ही चोदते हुए बिस्तर के पास ले गया और मुझे नीचे किया। और किसी जानवर की तरह मुझे झटके में उल्टा कर दिया और आगे की ओर झुका दिया। और पीछे से मेरी चुत में लन्ड डाल के चोदने लगा। उधर यह नजारा देखकर कैमरे वाले का लन्ड भी उफान मारने लगा था।

जो भी हो मॉडलिंग के चक्कर मे मुझे ऐसा लन्ड मिला था जो जीवन मे फिर से दुबारा शायद ही मिले। मैं खुश थी। और काले लन्ड को उस दिन से दीवानी ही हो गई थी।

वह मुझे लगातार चोदे जा रहा था। मानो मुम्बई से ट्रेन खुली हो और बिना रुके 500 की स्पीड में दिल्ली पहुँचने कोशिस कर रही हो। मुझे इससे थोड़ा पीड़ा भी हो रही थी क्योंकि वह मुझे सांस लेने का भी मौका नही दे रहा था। पिछले 40 मिनट से वो मुझे चोद रहा था। मेरी चुत तो 6 बार झड़ चुकी थी लेकिन पिछले 10 मिनट से ऐसा लग रहा था जैसे मेरी चुत में पानी ही ना बची हो। बंजर जमीन हो चुका हो और उसमें हल चल रहा है। शायद मेरी चुत की पानी खत्म हो गई थी।

मेरी चुत अब बुरी तरह जलने लगी थी शायद मेरी चुत अंदर से छिल गई थी। लेकिन वह तो जानवर बन चुका था। और निर्दयी की तरह चोदे जा रहा था। मैं उसे रुकने का इशारा भि कर रही थी लेकिन वह कहा रुकने वाला था। मुझे लग रहा था जैसे मैं बेहोश हो जाऊंगी। ऐसी चुदाई जीवन मे शायद ही कभी किसी की हुई होगी।

और फिर मैं कब बेहोश हो गई मुझे पता ही नही चला। और जब मुझे होश आया तो मैं एक शानदार मखमल के बेड पर नंगे पड़ी थी। मेरे चुत में अपार पीड़ा हो रहा था। मैं नीचे हाथ ले गई और चुत को छुई तो मेरी चुत से गांड़ तक पूरा चिपचिपा से था। मतलब साफ था उसका सिर्फ लन्ड ही नही बड़ा था बल्कि उसकी लन्ड के साइज के तरह ही उसके लन्ड में पानी भी भरा हुआ था। मैं यकीन के साथ कह सकती हूं। उसके लन्ड से एक कटोरी से कम माल नही निकला होगा। मेरी तो हिम्मत ही नही हो रही थी उठने की लेकिन जब मैं कैसे करके उठी तो धड़ाम से फर्श पर गिर गई। फिर मैं उठी और लंगड़ाते हुए बाथरूम में गई। और वापस आकार फिर से पसर गई। थोड़ी ही देर में वही कैमरा वाला आया और मुझें लालचाई नजरो से घूर रहा था।

और फिर वह मुझे एक गोली दिया और बोला इसे खा लो दर्द दूर हो जाएगा। मैं बिना कुछ पूछे उसके हाथ से वो पिल्स ली और खा गई। बिस्तर के बगल में पानी था मैं पूरा बोतल पानी पी गई।

मेरी गलतफहमी तब दूर हुई जब उसने मुझे घोड़ी बनाकर अपना घोड़ा जैसे लन्ड से मेरी गांड़ फाड़ दी

करीब 10 मिनट बाद मुझे ऐसा लगा जैसे मुझे कुछ हुआ ही नही है। दर्द कहा गई पता ही नही चल रहा था। फिर मैं उठी और अपने कपड़े ढूंढने लगी लेकिन वहां नही था। तभी वह हरामी फिर आ गया और मुझे बोला। तुम शानदार हो तुम एक दिन वर्ल्ड की टॉप एक्ट्रेस बनोगी। तुम्हारा रोल फाइनल हो गया है। एक कंडोम की कम्पनी के ऐड के लिए तुम 1 हफ्ते बाद लंदन जा रही हो मैं तो खुश हो गई। और दौड़ के उसके सीने ले लिपट गई।

लेकिन वह तो अभी और जोश में था। फिर वह मुझे किस करने लगा। चुकी मुझे खुशी थी कि मुझे रोल मिल गया है और दर्द भी गायब हो गया था तो मैं मना नही की बल्कि उसका साथ देने लगी। सोची चलो एक बार और चुदाई होगी। लेकिन मेरे गलतफहमी तब दूर हुई जब उसने मुझे घोड़ी बनाकर अपना घोड़ा का लन्ड से मेरी गांड़ फाड़ दिया। मैं फिर से बेहोश थी। लेकिन वही दावा और मैं चंगी हो गई। मैं वहाँ एक हफ्ते थी और मुझे ट्रेनिंग दी जा रही थी और दिन रात चुदाई हो रही थी। फोटोग्राफर से लेकर एक्टिंग मास्टर सबने मेरी आगे पीछे बजाई।

मेरी चुत गांड़ दोनो इतने फैल चुके थे कि अब मुझे उनमें से किसी की लन्ड महसूस ही नही होता था।

फिर एक हफ्ते बाद वह बोला कि तुम्हारा वीजा नही बन पाया है। तो शायद 3, 4 दिन या एक हफ्ते और लग जाए। फिर वह बोला एक फ़िल्म के लिए ऑफर आया है। लेकिन तुम्हे पहले डाइरेक्टर प्रोड्यूसर और एक्टर को खुश करना होगा। मैं तो फ़िल्म के नाम से ही खुश थी। इसके लिए मैं किसी से भी चुदवाने को तैयार थी।

फिर मेरी उनसब ने बजाई। ऐसे ही कई लोग बजाए। और एक दिन वह बोला एक दुबई का शेख फ़िल्म में पैसा लगा रहा है तो तुम्हे दुबई जाकर उसे खुश करना होगा। मैं दुबई उस शेख को खुश करने गई। तो वहां मुझे एक कोठी में रखकर 1 हफ्ते तक जम के चोदा गया। रोज नए, नए मर्द आ के चोदते थे। चुकी वहाँ पहुँचते ही मेरा फ़ोन पासपोर्ट सब ले लिया गया था।

और फिर एक हफ्ते बाद उस शेख ने मुझे बताया कि तुम्हे मैंने 1 लाख डॉलर में खरीदा है तू मेरी रंडी है। और तुम अभी कही नही जा सकती। मैं तो हैरान रह गई। कि मेरे साथ धोखा हो चुका था। वह सब काम दिलाने के नाम पर फ्राड हुआ था। और फिर मैं बेच दी गई।

मैं वहाँ 2 महीने तक बंधक बनाकर चुदी। और एक दिन एक भारतीय आदमी जो ग्रहक बनकर मुझे चोदने आया था उसकी मदद से वहाँ से भागी। और उसी की मदद से इंडिया पहुँची।

इंडिया आने के बाद मैं शौक से वेश्या का पेशा अपना ली। और अब इंडिया की टॉप कॉल गर्ल सप्लायर हूँ। और इस तरह मैं मॉडल बनने के चक्कर मे रंडी बन गई।

दोस्तों मेरी कहानी बहुत खास है तो मुझे कमेंट करके जरूर बताना। अभी इस घटना की अगली कड़ी बाकी है। अगर आप जानना चाहते हैं कि उन हरामियों संग क्या हुआ जिन्होंने मुझे रंडी बनाया था। तो आपके ज्यादा से ज्यादा कमेंट कर रिकवेस्ट करना होगा। तो मिलते हैं एक और चुदाई की कहानी में। अपना ख्याल राखिएग। तब तक के लिए दीजिए मुझे इजाजत।

और हाँ ऐसी ही अनोखी और सेक्सी कहानियों के लिए https://nightqueenstories.com पर बने रहिए।

 

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *