Aunty ki chudai Balo wali chut Behan chudai Desi ladki Desi sex stories Erotic Stories Hindi sex stories Hindi Stories Lust Stories Nangi ladki Romantic Sex Kahani Sex stories Sexstory Women masturbation women orgasm अमीर औरत की चुदाई इंडियन बीवी की चुदाई ऑफिस सेक्स कमसिन कली किचन में चुदाई कोई देख रहा है कोई मिल गया गर्म चुत गर्लफ्रेंड की चुदाई गांड की चुदाई चाची की चुदाई जिगोलो से चुदाई दर्दभरी चुदाई देसी चुदाई कहानी देहाती लड़का नौकर से चुदाई पुलिसवाली की चुदाई बस में चुदाई बहन की रसीली चुत बाथटब चुदाई बालकनी में चुदाई बुआ की चुदाई बड़ी चूचिया भाई बहन की चुदाई भाभी की चुदाई भूखी मलाईदार चुत माँ की प्यासी चुत रंडी बनी माँ रसदार चुत रसीली चुत राजनीति और हवस शहर की चुत सामूहिक चुदाई सिनेमा हॉल में चुदाई सीलबंद गांड की चुदाई सीलबंद चुत सीलबंद चुत की चुदाई सेक्स कहानी सेक्स स्टोरी सेक्सी कहानी

ढलती उम्र में उफान मारती चुत

ढलती उम्र में उफान मारती चुत: लेस्बियन सेक्स

कैसे हो मेरे प्यारे सेक्सी दोस्तों। https://nightqueenstories.com के सभी प्यारे हैंडसम, हॉट एंड सेक्सी पाठकों और मेरे दोस्तों को मेरा प्यार भरा नमस्कार।

दोस्तों मैं राजेश्वरी पटनायक हूँ। मेरी उम्र 47 साल है। मेरी हाइट 6,2 है। मैं उड़ीसा की रहने वाली हूँ। और दोस्तों मेरी चुचियों की साइज 38 इंच है। मेरी कमर बिल्कुल पतली 29 इंच की है और जो सबसे खास है वो मेरा गांड़ है। 40 इंच की गांड़ अभी भी 16 साल की कुँवारी लड़की की तरह कसी हुई है। दरअसल मुझे योगा करने और फिट रहने का शौक है। यही कारण है कि मैं अपने उम्र से आधी से भी कम उम्र की दिखती हूँ।

दोस्तों मैं पेशे से एक IAS ऑफिसर हूँ। और मेरी सिर्फ एक बेटी है। जो अमेरिका में अपने पापा के साथ रहती है।

तो दोस्तों अब आप समझ ही गए होंगे कि मेरी जावानी का राज क्या है। मेरे हस्बैंड मुझसे 8 साल बड़े हैं और वो एक CA हैं।

कैसे माँ को चुत में उँगली करते बेटी देखी और फिर माँ-बेटी की लेस्बियन चुदाई हुई

वैसे तो मेरी शादी 20 साल की उम्र में ही हो गई थी। और तब मेरे पतिदेव इंडिया में ही रहते थे। और 2 साल तक हम साथ रहे। और मैं शादी के एक साल बाद ही माँ बन गई थी। इसके बाद वो अमेरिका चले गए। और तब मैं तन्हा फील करने लगी। चुकी मैं अमीर बाप की इकलौती बेटी थी। तो ना मेरे पास पैसों की कमी थी ना ही मुझे कोई और परेशानी थी। जब मेरे पति अमेरिका गए तो मेरी माँ मेरे लिए 2 नौकरानी का इंतजाम कर दी एक स्पेशली मेरी बेटी को संभालने के लिए और एक अन्य कामों के लिए।

और तब मैं घर मे अकेले बोर होने लगी। तो मैं सिविल सर्विसेज की तैयारी करने लगी। और मैं फर्स्ट अटेम्प में ही IAS बन गई। और ये मेरे जिंदगी का अहम मोड़ साबित हुआ। जब से मेरी पोस्टिंग हुई उसके बाद मुझे खुद समय कम पड़ने लगा यहां तक कि हस्बैंड से भी बात करने के लिए समय नही मिल पाता था।

मेरे हस्बैंड साल में एक बार आते। और ऐसे ही करीब 4 साल बीत गया। मैं भी अपनी नौकरी में काफी व्यस्त रहने लगी। देखते देखते बेटी 14 साल की हो गई। तब हमने आगे के पढ़ाई के लिए उसे अमेरिका भेज दिया।

और मेरी उम्र अब 42 साल की हो गई। और मैं अब सचिव बन गई। और दिल्ली में ही स्थायी रूप से रहने लगी। पहले देश के अलग अलग हिस्सों में पोस्टिंग के कारण जो मैं व्यस्त रहती थी अब वैसा नही रहा। मैं दिल्ली में शानदार घर ले ली। लेकिन पिछले कुछ समय से मैं अकेलापन महसूस करने लगी थी। शायद इसलिए भी क्योंकि अब मैं काफी टाइम खाली रहती थी। और अब मेरे हस्बैंड ज्यादा व्यस्त हो गए थे। और अब वो इंडिया 2, 3 साल में एक बार आते थे। लेकिन मैं हफ्ते,10 दिन या महीने भर के लिए अमेरिका जाती थी। लेकिन ये 1 महीना तो जैसे 2 दिन की तरह था। घूमने फिरने में समय बीत जाता था।

जीवन में पहली बार मुझे 47 की उम्र में इतनी चुदाई करने का मन करने लगा था

मैं पूरे जीवन मे शादी के 2 साल बाद तक ही अच्छे से चुदाई कर पाई थी। लेकिन उसके बाद मैं उंगलियों या नकली लन्ड या गाजर बैगन से चुत की प्यास बुझाती थी। लेकिन पिछले कुछ सालों से जबसे मेरा मोनोपॉज हुआ तब से मुझे चुदाई का बहुत मन करने लगा था। जो मैं जावानी में महसूस नही की वो अब कर रही थी। पिछले एक साल से तो मैं जब भी खाली रहती चुदाई के बारे में सोचने लगती।

अब मैं रोज चुदाई का वीडियो देखने लगी और उससे भी ज्यादा https://nightqueenstories.com पर चुदाई की कहानियां पढ़ने लगी। और मुझे चुदाई की कहानियों की ऐसी लत लगी कि मैं आफिस में भी https://nightqueenstories.com पर अलग अलग तरह की चुदाई की कहानियां पढ़ने लगी। ऐसा कोई दिन नही था जब मैं इस साइट पर 4, 5 घंटे नहीं बिताती।

दिन ब दिन मेरी रसीली चुत की प्यास बढ़ते ही जा रही थी

अब मेरी चुत और भी ज्यादा चुदासी हो चुकी थी। दिन ब दिन मेरी रसीली चुत की प्यास बढ़ते जा रही थी। जीवन मे पहली बार मैं 47 साल की उम्र में सबसे ज्यादा चुदासी महसूस कर रही थी और मेरी चुत लन्ड के लिए तरसने लगी थी।

अब तो उंगलियाँ, गाजर, मूली, बैगन और नकली लन्ड से कुछ नही हो पा रहा था। मैं पूरी रात कई कई बार चुत में उंगलियां करती लेकिन मेरी चुत की प्यास तो मानो बढ़ती जा रही थी।

इसी बीच मेरी बेटी अमेरिका से इंडिया आई। उसकी पढ़ाई अब पूरी हो चुकी थी। और उसकी सेलेक्शन एक CEO के पद पर हुई। और उसे इंडिया में पोस्टिंग मिली। और उसकी ऑफिस बैंगलोर में थी। तो वह 2 दिन रुकने के बाद बंगलोर चली गई। और फिर जॉइन करने के एक हफ्ते बाद एक 15 दिन की छुट्टी लेकर दिल्ली आ गई। हमदोनों माँ बेटी खूब मस्ती करने लगे। मैंने पूरे दिल्ली में बेटी को घुमाया।

दोस्तों मेरी बेटी का नाम इरा है। और वह बिल्कुल मेरी कार्बन कॉपी है। जब हम साथ निकलते हैं तो लोग हमें जुड़वा बहनें समझते हैं। मैं तो वेसे भी अभी बिल्कुल जवान दिखती हूँ।

हमदोनों माँ बेटी बिल्कुल दोस्त की तरह थे। हमदोनों हरेक बात शेयर करते थे। इरा ने अपने जीवन के हरेक बात बताई। यहां तक कि अपने बॉयफ्रेंड, प्यार मोहब्बत और ब्रेकअप तक कि बातें बताई। इरा काफी समझदार हो चुकी थी।

एक दिन हम रात को खाना खाए और अपने अपने कमरे में सोने चले गए। रोज की तरह मैं https://nightqueenstories.com पर चुदाई की मस्त कहानियां पढ़ने लगी। और देखते देखते मेरी चुत में आग लग गई। मेरी चुत से रस रिसने लगा। कब मेरी हाथ मेरी चुचियों के दबाते हुए मेरे पैंटी के अंदर चुत पर पहुँच गई मुझे खुद पता नही चला।

जब मेरी आँखें खुली तो चौंक गई, इरा मेरे सामने मुझे चुत में उँगली करते हुए आँखे फाड़ के देख रही थी

मैं पैंटी के अंदर चुत को मसलने लगी और एक एक कर कपड़े उतारने लगी। और अंत मे मैं बिस्तर पर बिल्कुल नंगी हो गई। और चुदाई की कहानियों को पढ़ते हुए अपने चुत में उँगली करने लगी।

मेरी आँखें बंद हो चुकी थी। और तभी इरा कमरे में आ गई। लेकिन मैं बेतहाशा अपने चुत में उँगली किये जा रही थी। और तभी मुझे कुछ एहसास हुआ और मेरी आँखें खुल गई। और सामने इरा को देखकर मैं चौंक गई। इरा तो आँखे फाड़ के मुझे देखे जा रही थी। जैसे वो स्टैच्यू हो गई हो।

तभी मैं झट से चादर खिंच कर खुद को ढक ली और बोली बेटा तुम। तो इरा को जैसे झटका लगा। फिर इरा बोली मॉम ये सब क्या है। तो मेरे उदास चेहरे को देखकर वो दौड़कर आयी और मेरे गले से लग गई। और बोली मॉम आप बहुत अच्छी हो। आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है मैं सबकुछ समझ रही हूँ। आप पूरी जीवन एक तरह से अकेले बिताई हो। आपकी भावनाओं को मैं अच्छे से समझ रही हूँ। आपकी कोई गलती नहीं है।

तब मैं थोड़ी रिलैक्स हुई। और बोली इरा तुम कितनी अच्छी हो अपने मॉम को कितना समझती हो।

लेकिन मेरी नंगी जिस्म का एहसास पाकर इरा को भी झटका लगा। क्योंकि इरा भी इस वक़्त सिर्फ एक शॉर्ट्स और ब्रालेट में थी। हमदोनों 5, 7 मिनट तक एक दूसरे को गले लगाए रहे। और धीरे धीरे इरा भी गर्म होने लगी। मेरी जिस्म में तो पहले से ज्वालामुखी धधक रही थी। तभी इरा मेरे नंगे कंधों और गले पर किस करने लगी। उसकी गर्म सांसों और और मुलायम होंठो ने मानो मेरे जिस्म में एक अलग तरह की सनसनी पैदा कर दी। तभी मेरे जुबान से निकला इरा ये क्या कर रही हो। लेकिन मैं कोई विरोध नही की।

तभी वो बोली मॉम आपकी तड़प मेरे से देखी नही जा रही। और फिर इसमें कोई बुराई भी नही है। मैं अमेरिका में रही हूँ। और ना जाने कितने सहेलियों के साथ सेक्स की हूँ। आप बस एन्जॉय कीजिए और मेरा साथ दीजिए। आज से आपकी बेटी आपके जिस्म की प्यास बुझाएगी।

और फिर इरा मेरे होंठो को अपने होंठो में कैद कर ली और बड़ी सेक्सी अंदाज में किस करने लगी। वह मेरे होंठो को जोर जोर से चूस रही थी। अब मुझे भी झिझक खत्म होने लगी। तभी इरा अपना जुबान मेरे मुँह में दे दी और मैं उसके जुबान को चूसने लगी।

मैं फिर से चुत की आग में झलसने लगी और इरा किसी रंडी की तरह मेरे जिस्म को चाटे जा रही थी

मैं अब फिर से पूरी तरह चुत की आग में झुलसने लगी थी। और फिर मैं इरा के ब्रालेट को उतार दी। तभी इरा ने हल्का मुझे पुश की और लेटा दी। और मेरे कसी हुई बड़ी बड़ी चुचियों पर टूट पड़ी। मेरी एक चूची को उसने मुँह में ली और दूसरी को अपने हांथो से जैसे निचोड़ने लगी। उसकी गीली जुबान की स्पर्श से मेरे अंदर की ज्वालामुखी और तेज धधकने लगी। और फिर वह किस करते हुए नीचे जाने लगी। मेरे नाभि को वह चाटने लगी। उसने अपनी जुबान की टाइट किया और मेरी नाभि में धसाने लगी। उसकी हरकतों से साफ जाहिर हो रहा थ की वह चुदाई के मामले में मुझसे हजार कदम आगे है। वह बिल्कुल रंडी की तरह मेरे पूरे बदन को चाट रही थी

मेरे मुँह से आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी….. की आवाजें शुरू हो गई।

उसकी होंठो और जुबान की स्पर्श ने मेरे चुत में भूचाल ला दिया था। मैं उसके सर को पकड़ी और जोर से अपने चुत पर दबा दी

अब इरा मेरे जांघो तक पहुँच चुकी थी। और जांघो पर किस करते हुए चाट भी रही थी और दांतों से बाइट भी कर रही थी। तभी उसने मेरे जांघो को फैलाया और अपना मुँह मेरे गर्म चुत पर रख दी। उसकी होंठो और जुबान की स्पर्श ने मेरे चुत में भूचाल ला दिया था। मैं उसके सर को पकड़ी और जोर से अपने चुत पर दबा दी। और अपनी कमर ऊपर उछाल दी। इरा भी जोर जोर से मेरे चुत को चाटने लगी। और मेरे चुत को रगड़ने लगी।

मैं इतने जोश में थी कि बड़बड़ाने लगी और उसके सर को चुत पर दबाते हुए अपना कमर नीचे से उठाने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी…..

इराररारहहहहहहहहह… और मेरी चुत बर्दास्त नही कर पाई और ढेर सारा रस छोड़ दी। सालों बाद मेरी चुत ने इतना पानी छोड़ा था। मुझे आज सालों बाद इतना आनंद आया था।

इरा अपनी चुत मेरे चुत पर सेट की उसकी चुत तो मेरे चुत से भी ज्यादा गर्म थी। और फिर वो जोर जोर से अपनी चुत मेरे चुत पर रगड़ने लगी

और फिर मैं इरा को खींच ली और जोर जोर से किस करने लगी। इरा भी बहुत गर्म हो चुकी थी तभी मैं दोनो पैरों को ऊपर की और उसके कमर पर केस ली और नीचे दबाने लगी। इरा धीरे धीरे अपना कमर हिलाने लगी और मेरी चुत पर अपनी चुत रगड़ने की कोशिश करने लगी। लेकिन ऐसा हो नही पा रहा था। शहद इरा इस बात को समझ गई। और फिर वो उठी। और मेरे पैरों की तरफ गई। और मेरा एक पैर नीचे करके अपनी चुत मेरे चुत पर सेट की उसकी चुत तो मेरे चुत से भी ज्यादा गर्म थी। मैं तो आज ही चुत की बाल साफ की थी लेकिन वो 3, 4दिन पहले की होगी। क्योंकि उसके चुत के बाल मेरे चुत में चुभ रहे थे जिस कारण मुझे और भी आनंद आ रहा था। अब इरा जोर जोर से अपनी चुत मेरे चुत पर रगड़ने लगी। मैं पागल हो गई और अनायास मेरे मुँह से बोल फुट पड़े…… सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। चोदो इरर्राहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से रगड़ो जोर से अपनी चुत मेरी चुत पर रगड़ो.. चोदो मेरी जान आहहहहहहहहहहहहहहह……

इरा जोर जोर से अपनी चुत मेरी चुत पर रगड़ रही थी और मेरी चुचियों को मसल रही थी और मैं चिल्लाए जा रही थी……

मेरी रानी कितना अच्छा चुत चोदती है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरी गुड़िया… मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह रगड़ के पूरा रस निकाल दो मेरी बच्छचीएईई…..

फाड़ दो मेरी चुत। कमर उठा उठा के मारो झटके.. मेरी बाबू चोदो जोर से हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह… तूम मर्द से भी अच्छी चोदती है बेबी….. चोदो इरर्राहहहहहहहहहहहहहह… …. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बहुत दिन से प्यासी है मेरी चुत मेरी लाडो….. । चोदो जान तेजी से रगड़ो।…

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। चोदो इरर्राहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से रगड़ो जोर से अपनी चुत मेरी चुत पर रगड़ो.. चोदो मेरी जान आहहहहहहहहहहहहहहह……

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। चोदो आहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से रगड़ो जोर से अपनी चुत मेरी चुत पर रगड़ो.. चोदो मेरी जान आहहहहहहहहहहहहहहह…… मेरी रानी कितना अच्छा चुत चोदती है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरी गुड़िया…मेरी बच्ची अपनी मॉम की चुत छोडडूऊऊठहदह मेरी बच्च्च्चचिह्ह ….

मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह रगड़ के फाड़ दो मेरी चुत। कमर उठा उठा के मारो झटके.. मेरी बाबू चोदो जोर से हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह… तू तो मर्द से भी अच्छी चोदती है बेबी….. चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बहुत दिन से प्यासी है मेरी चुत। चोदो ना जान तेजी से रगड़ो।…

इरा मेरी चुत पर अपनी चुत करीब 15 मिनट से रगड़ रही थी इस दौरान वह भी 2 बार झड़ चुकी थी और मैं अब तीसरी बार झड़ने वाली थी। तो मैं बोली बेबी मैं फिर से झड़ने वाली हूँ रगड़ो जोर से। बहुत प्यासी थी मेरी चुत। मैं गई रानी गई। मेरी भी चुत दुबारा।से झड़ने वाली थी तो मैं भी रफ्तार तेज कर दी

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। चोदोहहहहहहहहहहहहह……. औरफिर मेरी चुत से ढेर सारा गर्म लसलसा पानी बहने लगा। पूरी बिस्तर गीला हो चुका था।

तभी 6,7 रगड़ के बाद इरा का स्पीड बढ़ गया मैं समझ गई कि मेरी बेटी की चुत पानी छोड़ने वाला है और मैं भी नीचे से रगड़ने लगी। औरफिर इरा का चुत भी पानी छोड़ दिया। और इरा सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. करते हुए मेरे ऊपर लुढ़क गई। मैं जोर से उसे अपनी बाहों में भींच ली। और हमदोनों शांत हो गए और इसी तरह तेज तेज सांसों के साथ हम करीब 10 मिनट तक पड़े रहे। फिर हम उठे और एक दूसरे को जोर से गले लगाया।

अब हम दोनों रोज ऐसे ही चुदाई करते हैं। इरा एक महीने रुकी और हम दोनों जमकर चुदाई किए।

तो दोस्तों ये थी हमारी बेटी और मेरी चुत की चुदाई की कहानी। उम्मीद करता हूँ आप बहुत एन्जॉय किये होंगे। तो मिलते हैं किसी और कहानी में। मुझे कमेंट करके बताना कहानी आपको कैसी लगी। और कहानी को लाइक और शेयर जरूर करें। धन्यवाद।।

 

0% LikesVS
100% Dislikes

One thought on “ढलती उम्र में उफान मारती चुत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *