अद्बुध ताकत की गोली

अद्बुध ताकत की गोली – साधारण लंड के बेमिसाल मज़े

https://nightqueenstories.com

मेरा नाम जीवन है और मै एक मिल में काम करने वाला साधारण मजदूर हु। ये कहानी है मुंबई मे बसी हमारी छोटी सी चॉल की जहा रूपक और उसकी बीवी प्रीता नए किरायेदार थे।

Bigboobs

रूपक भाईसाहब को पता नहीं कैसे प्रीता जैसी माल मिल गई थी। क्या ज़बरदस्त आइटम थी वह , साला आज भी जब उसके बारे में सोचता हु तो मुठ मारना ही पड़ता है। प्रीता भाभी के बुब्बे क्या मस्त बड़े बड़े थे, चोली उन्हें कभी पूरी तरह फिट नहीं आती थी , शायद जानबूझकर वह तंग चोली बनवाया करती थी और उनका जिस्म मखान जैसा था , सुबह सुबह जब प्रीता भाभी पानी भरने आती थी तो चॉल के सारे मर्द कोई न कोई बहाने से उससे देखने ज़रूर जमा होते थे। गोरी गोरी प्रीता भाभी तो उस चॉल की हार एक औरत से अलग थी। दिल में बस एक ही इच्छा थी की किसी तरह उन्हें चोद दालु। मुझे क्या पता था की मेरी ये इच्छा पूरी भी होने वाली थी।

एक रात दोनों औरत मरद में जम कर लड़ाई हुई और देर रात रूपक घर से चला गया। चॉल के लोगो को रोज़ का मिया बीवी वाला ड्रामा लगा और मुझे मौका। में थोड़ी देर और रुका ताकि मेरी बीवी और बच्चे गहरी नींद में सजाये। फिर चुप चाप में अपने घर से निकला और रूपक के घर के दरवाजे को खटखटाया। प्रीता भाभी ने तो झट से दरवाजा खोल दिया ये समज कर की रूपक होगा , लेकिन बहार मुझे देख वह थोड़ा हैरान होगई।

“अरे आप इस वक़्त ? भाभी की ताब्यात तो ठीक है न ?”

“हाँ हाँ वह बिलकुल ठीक है और बच्चे भी। मुझे तो आपकी फ़िक्र थी इसीलिए में इस वक़्त चला आया। ”

“मेरी फ़िक्र ? में समझी नहीं ?”

“अगर आपको इतराज़ ना हो तो क्या में अंदर आकर बात करू ?”

बस पल भर की झिझक और फिर वह तुरंत ही मान गई , “अच्छा आइये। ”

 

घर के भीतर जाते ही और दरवाजा बंद होते ही में मुद्दे पर आगया , “भाभी मुझे पता है की ये बेवकूफ रूपक आपको खुश नहीं रखता। ”

“आप इतनी रात को इस चिंता से मेरे घर आये है ?” प्रीता ने ज़रा गुस्सा दिखाया लेकिन मुझे जाने भी नहीं कहा। मेरे मन में तो बस हवस ही थी तो में अपनी जगह बना रहा।

“हाँ ये बहुत बड़ी चिंता है भाभी। आप ऐसी ही थोड़ी इतनी तंग तंग चोली पहनती हो ? है ना ?”

वह कुछ नाइ बोली

“देखो भाभी ये बात साफ़ जाहिर होती है की क्या चल रहा है आपके और रूपक के बीच , साफ़ साफ़ शब्दों में कहु तो आपको चोद नहीं पा रहा वह ठीक से। ”

वह अब भी चुप थी तो में बोलता गया।

“मैं भी कोई superman नहीं हु लेकिन मेरे पास ये ताकत की गोली है जो मेने अपने एक दोस्त की factory से खरीदी है। एक घंटा चुदाई की गारंटी और लंड बार बार सुबह तक खड़ा भी होता रहेगा। मुझे पता है की ये चूतिया रूपक सुबह होने तक नहीं आएगा। ”

भाभी अब भी चुप।

मैं बस प्रीता के पास गया और उसे चुम लिया , उसने बस एक लम्बी ग़हरी सास ली और फिर मुझे कहा , “गोली खालो जल्दी से। ”

मेरा लंड तब काफी ज़बरदस्त तरीके से खड़ा होगया था और मेने अपनी pant की जेब से एक गोली निकाल कर गटक ली। फिर मेरी pant का जिपर खोल कर प्रीता भाभी ने मेरे लंड को बहार निकाला , मेरे लंड को देख कर उनका मुँह बिलकुल छोटा सा होगया , “उडी बाबा , इसमें तो कोई खास बात नहीं , रूपक की तरह बिलकुल साधारण लंड है ये तो। ”

“भाभी तुम गोली का कमाल लंड चुत के अंदर जाने के बाद देखोगी। ”

MILF

https://nightqueenstories.com

“ये मुझे बहुत बेकार लगता है , बहार देश के आदमी का लंड देखो ना केसा बड़ा बड़ा होता है और यहाँ के आदमियों का लंड बस छोटा सा। ”

मेने उसे चूमना शुरू करदिया क्युकी मुझे पता था बिना demonstration के ये औरत मानेगी नहीं , वह मेरा लंड हाथ में लेकर हिला रही थी और मैं उसे अच्छे से चुम रहा था , जीब से जीब मिलाकर। फिर मेने उसके बब्बो को दबाना शुरू किया और क्या मस्त मुलायम थे वो।

भाभी ज़रा ज़रा कराह रही थी तो मेने उसके गले और ऊपर वाली छाती पर भी चूमा मगर मेरे हाथ उसके बब्बो पर थे , अब मैं उन्हें ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था। भाभी , “उफ़ आह… ” करने लगी थी।

उसने खुद फिर अपनी चोली खोली और उसके दोनों बुब्बे काले रंग के bra के अंदर लटक रहे थे। वो नज़ारा देख कर तो मुझसे रहा नहीं गया और मेने उसका bra खींच कर हटा दिया। दोनों बड़े बुब्बे अब मेरे सामने पुरे नंगे थे। प्रीता के निप्पल भी मस्त बड़े और फुले हुए थे , मैं उनपर पागलो की तरह टूट पड़ा और उन्हें चूसने लगा। ओहो ! क्या मज़ा आ रहा था।

प्रीता की चुत मेरी चुसाई से गीली होने लगी थी क्युकी चुत की महक मुझे अच्छे से आ रही थी। जब हमदोनो से रहा नहीं जा रहा था तो मेने उसे जमीन पर लेटा दिया और उसकी साड़ी को उठाकर उसकी हलकी बालो वाली चुत को चोदने लगा। बहुत गीली थी प्रीता की चुत , मस्त मारी मेने अलग अलग position मैं उसकी फुद्दी। पहली बार जब मैं झडा उस रात तो सारी मलाई चुत के अंदर ही नीकल गई साला। मुझे लगा की गुस्सा करेगी वह , लेकिन वह बोली , “tension नहीं है , रूपक समझेगा उसकी का बच्चा है। मेरी चुत के अंदर मलाई निकाल सकते हो आरामसे। ”

उस रात मेने भाभी को बहुत टेप , घर की अलग अलग जगह में टेप और भाभी पानी पानी होगई। मुझे बोली , “चुदाई का ऐसा मजा मुझे अभी तक कभी नहीं आया रे बाबा मेरी लाइफ में। ”

“जब मन करगा तो बस आप message करदेना मुझे , बंदा हाज़िर हो जायेगा आपकी खिदमत में। ”

https://nightqueenstories.com

भाभी कुछ बोली नई तो मुझे लगा की शर्मगाई। मैं सुबह होते ही वहा से रफू चकर हो गया रूपक के आने से पहले। घर आने के बाद में उस दिन काम की छुट्टी लेकर ज़बरदस्त तरीके से सोया। जब शाम हुई तो मन दोबारा ललचाने लगा प्रीता की फुद्दी मरने के लिए। उसकी मस्त चुत की बहुत याद आ रही थी , तो मेने अपनी जेब टटोली ये देखने के लिए की कितनी गोलिया बाकी थी।

अजीब बात ये थी की packet मेरी जेब से गायब था , मुझे लगा की मैं packet भाभी के घर छोड आया था , इसीलिए में तुरत वहा पहुचा तो जो मेने देखा उसके कारन मेरे होश उड़ गए।

भाभी साली लगी हुई थी जावेद भाई के साथ जो नीचे की खोली में रहते थे। मेने पूरा चुदाई वाला scene record किया अपने फ़ोन में , लेकिन मेरा भेजा पूरी तरह तब out हुआ जब पता चला की जावेद भाई मेरी गोली खाके भाभी की ले रहा था। भाभी ने packet मार ली थी और अब दूसरे मर्द के साथ गुलछर्रे उड़ा रही थी।

जैसे ही जावेद भाई भाभी के घर से निकला मैं जल्दी से अंदर गुसा और भाभी को बोला , “ये क्या कर रही हो तुम ? मेरी गोली खिलाकर जावेद को उससे चुदवा रही हो ? ”

“तो क्या ? कोई contract तो sign नहीं किया ना मेने की बस तुजसे चुदवाउंगी और जावेद अपनी खुद की गोली लाया था। ”

“बकवास नई और मुझसे होशियारी नहीं , मेने सब कुछ record किया है , रूपक के सामने पूरी पोल खोल के रखदूंगा। ”

“मेने भी तेरी और मेरी चुदाई का scene record करके रखा है , तेरी बीवी को सब कुछ बता दूंगी। ”

“साली हरामी। ” मेने उसके बाल पकडे और उसके होठो को काटा , उसने मुझे ज़ोर से चाटा मारा तो मेरा सर और घूम गया। मेने उसके कपडे फाड् दिए और उसे झुका कर उसकी चुत मरने लगा। वह “आह आह उफ़” करते हुए कराह रही थी।

“मज़ा नहीं देता मैं ?” चोदतेहुए पूछा मेने उसे।

“मुझे मज़ा हर रोज़ नए लंड से चुदवाने में ही आता है , एक लंड से प्यास नहीं बुझती मेरी। ”

“साली कैसे नहीं बुझती ? मैं बुझाता हु आज तेरी प्यास को। ”

Horny

“थाप थाप” उसकी गांड से मेरी झांग टकरा रही थी जब मैं उसकी पीछे से ले रहा था। कुछ और झटके मारके एक और बार मैं उसकी चुत में झड़ गया। हम दोनों हाफ रहे थे और ज़मीन पर गिर गए। “प्रीता मादरचोद , बस मुझसे चुदवा। ”

वह कुछ नहीं बोली।

मैं वहा से चला गया उस वक़्त लेकिन बस उसी के ख्याल मुझे तड़पा रहे थे। कुछ वक़्त की बेचैनी के बाद जब मैं दोबारा उसके घर गया तो उसने दरवाजा नहीं खोला , अंदर से बस आवाज़े आ रही थी। मैं दरवाजा पीटता रहा और फिर बहुत ही गुस्से मैं रूपक ने दरवाजा खोला , बस उसने यही कहा मुझसे , “अंदर आ। ”

जैसे ही मैं अंदर गया तो मेने प्रीता को नंगा देखा बिस्तर पर। मैं हैरान था और तब मुझे रूपक ने कहा , “चोदना चाहता है मेरी बीवी को ? इसकी चुत का दीवाना बन बैठा है ? चल अब चोद मेरे सामने , ये ले तेरी ताकत की गोली। ”

प्रीता , “मुझे नई चुदवाना इस झींगुर से। ”

“ए हरामी रंडी , तुम कुछ नहीं बोलोगी , बहुत चुदवाया है ना मेरी पीठ के पीछे , अब मेरे सामने चुदवाओ। ”

उस वक़्त साले रूपक ने चाकू की नोंक पर मुझे ४ गोलिया खिलवादी और मेरा लंड खड़ा होगया और दिल की धड़कने तेज। प्रीता मेरा लंड चूसने लगी रूपक के धमकाने पर। ओहो मैं तो तड़प रहा था उसे चोदने के लिए जल्दी से और एक अजीब सी बेताबी महसूस हो रही थी।

रूपक ने अपना लंड बहार निकालकर हिलाना शुरू कर दिया , हमदोनो के देखते हुए।

मेने भी फिर प्रीता को बिस्तर पर लेटाया और उसकी चुत मैं अपना खड़ा लंड डालकर उसकी मारने लगा। वह ज़ोर ज़ोर से कराह रही थी क्युकी मैं अब उससे बहुत ही ज़बरदस्त तरीके से चोद रहा था।

मैं उसकी ताबड़तोड़ चुदाई करके उसकी चुत के अंदर झड़ गया और रूपक ने कहा , “पता नहीं किसका बच्चा पैदा करेगी ये। ”

अजीब बात तो ये थी के मेरा लंड अब भी खड़ा था , मुझे आगे की बात कुछ अच्छे से याद नहीं लेकिन जब आखे खुली तो मैं हॉस्पिटल में अकेला पड़ा हुआ था। रूपक ने मेरी बीवी को सब कुछ बतादिया , वह मुझे छोड़कर जा चुकी है बच्चो के साथ। ताकत की गोली के over dose से मुझे दिल का दौरा पड़ा था और सबसे बुरा side effect तो ये है की अब मेरा लंड खड़ा नहीं होता।

 

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

तो आप सब अपना ख्याल रखिएगा। कोविड का सिचुएशन है तो अपना विशेष ख्याल रखिएगा। नमस्कार।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *