सौतेली माँ को चोदा पार्ट-2

सौतेले बेटे ने ब्लैकमेल कर सौतेली माँ को चोदा। पार्ट-2

 

हेलो दोस्तों मेरा नाम स्मिथ है मैं हैदराबाद से हूँ। यह कहानी मेरी और मेरी सेक्सी जवान सौतेली माँ की चुदाई की है।  यह चुदाई की घटना उस वक्त की है

जब मै 12वीं के पेपर देकर घर पर आराम कर रहा था, मैं बिल्कुल फ्री था, इस कारण मैं दिन रात फ़ोन और लैपटॉप में सेक्स कहानी और पोर्न मूवी देखते रहता था। इस कारण मैं जवानी के उफान में हमेशा चुदाई के लिए तड़प रहा था।

कैसे सौतेले बेटे ने सौतेली मां को ब्लैकमेल कर चूत के बाद गांड की चुदाई की।

दोस्तों मैं नए पाठकों के लिए बता दूं। कि ये कहानी सौतेले बेटे ने ब्लैकमेल कर सौतेली माँ को चोदा का दूसरा भाग है। तो आप सबों से आग्रह है पहले इस कहानी के भाग-1 को पढ़ें तभी कहानी का सार अच्छे से समझ आएगा और और आप पूरा मजा ले पाएंगे।

 

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं। मेरी माँ का नाम मारिया है। और मेरे पिताजी का नाम कार्लोस है। मेरे पिताजी की उम्र 55 साल है और मेरी सौतेली माँ की उम्र 32 साल है। मेरी माँ गठीला बदन की है और उनकी फिगर 36-30-40 है। 40 इंच की उनकी बड़ी गांड देखकर बूढ़ों के सूखे लंड भी खड़ा हो जाता है।

 

दरअसल मेरे पिताजी ने मारिया से दूसरी शादी की है। मेरी सगी माँ का देहांत हो चुका है।

माँ-बेटे की हवस

मेरे पिताजी एक बहुत बड़े पादरी हैं। जो कि पूरे एशिया में पादरी संघ के अध्यक्ष भी हैं। और उन्हें एशिया के पूरे चर्च का कार्यभार सौंपा गया है।

मारिया ने मेरे पिताजी से उनकी स्टेटस और दौलत के लालच में शादी तो कर ली, लेकिन उसे सेक्स सुख की प्राप्ति नहीं हो पा रही थी।  लेकिन मेरे जवान कड़क और मोटे लंड ने इस कमी को पूरा कर दिया।

 

तो पढ़िए आगे की घटना।

कैसे मेरी सौतेली माँ मुझसे चुदवा कर प्रेग्नेंट हुई और मेरे बच्चे की माँ बनी।

तो आपने पढ़ा कि मैंने पहले तो ब्लैकमेल कर मेरी माँ मारिया को चोदा लेकिन मेरी कड़क लंड नेउसके चूत की आग ऐसी ठंढी की, की वो मेरे लंड की दीवानी हो गई और अब वो मेरे बच्चे की माँ बनने की ख्वाहिशमंद हो गई।

 

मैं माँ को दो बार चोदने के बाद सोने जाने लगा। तो मेरी माँ मुझे पकड़ के अपने ऊपर खींच ली और गालियां देते हुए मुझसे अपनी गांड मरवाने के लिए लालायित हो गई।

 

चुकी हम 2 बार चुदाई कर चुके थे तो हमदोनों ही थोड़ी थकान महसूस कर रहे थे। तो मैं माँ के ऊपर ही पड़ा रहा। और मेरी माँ मारिया मुझे किस कर रही थी। कभी मेरे सर को कभी गालों को कभी आँखों पर चुम रही थी। और मुझे आई लव यू बोल रही थी। मैं भी बीच बीच मे माँ को किस कर रहा था और आई लव यू टू बोला।

मेरे लंड की आग ने मेरी माँ की चूत में भी तपिश बढ़ा दी

ऐसे ही करीब 15 मिनट गुजर चुके थे। माँ की चूत की गर्मी पाकर मेरा लंड कड़क होने लगा था, वहीं मेरे लंड की आग ने मेरी माँ की चूत में भी तपिश बढ़ा दी थी।

 

अब फिर से हमदोंनो एक दूसरे को बेतहाशा किस करने लगे। मैं माँ के गले पर अपनी गीली जुबान से चाटने लगा। फिर उनकी कानों के लोब को दांतों से हल्का बाइट करने लगा। अब माँ जोश में आकर अपना कमर हिलाने लगी जिससे उनकी चूत मेरे लंड पर घर्षण होने लगा। माँ की चूत तो पहले से बहुत गीली थी अब और भी गीली हो गई थी। मुझे अपने अंडकोषों पर उनकी चूत का लसलसा चिकना पानी साफ महसूस हो रहा था।

 

मेरी माँ अपना हाथ नीचे ले गई। और मेरी दोनो चूतड़ों को पकड़कर नीचे की ओर दबाने लगी। तो मैं इशारा समझ गया। और मैं हल्के-हल्के कमर हिलाने लगा जिससे मेरा लन्ड माँ की चूत के दाने पर रगड़ खाने लगा। और मेरी अंडकोष माँ के गीले चूत के छेद और चूत के होंठो पर रगड़ने लगा।

गांड चुदाई

मेरी लंड और अंडकोष का एक साथ पूरे चूत पर रगड़ का एहसास पाकर मेरी माँ पूरी तरह पागल हो गई। और मुझे जोर से अपनी बांहो में कसते हुए बोली। सुमित मेरी चूत वर्षों की प्यासी है बेटा। आज तुम्हारी जवान कड़क लंड खाकर मेरी चूत की भूख और बढ़ गई है। आज मुझे जी भर के चोदो। मैं तुमसे चुदना चाहती हूँ। तू कमाल का मर्द है मेरे शेर मेरे राजा। तुम सच मे बहुत प्यारा और बलसाली मर्द है। तूने 2 बार मेरे चूत की चुदाई की और दोनों ही बार मुझे पूरी तरह तृप्त कर दिया है।

 

लेकिन मेरी चूत टी ना जाने कबसे प्यासी भूखी है। इसलिए मेरी चूत को अभी और तुम्हारी लंड की जरूरत है। चोद ले अपनी माँ की प्यासी चूत को और मिटा दे वर्षों की भूख।

 

फिर मैं धीरे धीरे नीचे आने लगा और नाभि पर आकर रुक गया। मैं माँ के नाभि को किस किया और अपनी गीली जुबान से चाटने लगा। माँ की जोश बहुत बढ़ चुकी थी। वह आँखे मुंदे हुए सिसकारियां ले रही थी। और मेरे बालों में उंगलिया फिरा रही थी। और बोल रही थी आहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहह……..

 

फिर मैं और नीचे आ गया और उनकी दोनों पैरों को पकड़कर ऊपर कर दिया। और फैला दिया। टांगों को फैलाते ही माँ की चूत शिप की तरह खुल गई और खरबूजे की तरह अंदर का हिस्सा बिल्कुल लाल दिखने लगा। माँ की चूत का दाना बहुत बड़ा नहीं है और ना ही फटा हुआ है बिल्कुल सेप में गहरे गुलाबी रंग का है।

 

अब मैंने माँ के चूत पर मुँह रख दिया और चाटने लगा। माँ के चूत के दाने को होंठो में पकड़कर ऊपर की ओर खींचने लगा। जिससे माँ पागल हो गई और मेरे सर को जोर से चूत पर दबाने लगी। मैं जीभ से रगड़ रगड़कर उनकी पूरी चूत को चाटने लगा। फिर मैं अपनी जुबान को कड़क किया और माँ की चूत में डाल दिया और अंदर बाहर करने लगा। और चुत के दाने को हाथों से मसलने लगा। माँ मस्ती में मदमस्त आवाजें निकालने लगी।

 

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सुमित खा आआआ जाओ मेरी चुत….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चाटता है तू। चाटो सुमित चाटो मेरी चुत………… ओहहहहहहहहहहहहह बेटा। और फिर माँ की चूत पूरी प्रेशर के साथ पानी छोड़ने लगा। …. और मॉम मेरी सर जोर से अपनी चुत पर दबा दी…..  और अओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सुमित खा आआआ जाओ मेरी चुत….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चाटता है तू। चाटो सुमित चाटो मेरी चुत………… ओहहहहहहहहहहहहह बेटा मैं झड़ रही हूँ बेटा…. चाटो और जोर से मेरे लाल……. खा जाओ अपनी माँ की चूत……. ये तेरे बाप का चुत अब बेटे के नाम हुई मेरे राजा……. ओहहहहहहहहहहहहह…… आहहहहहहहहहहहहहहहह…. मेरे राजा बेटे……….

 

माँ की चूत से बहुत पानी निकला और मैं सारा पानी पी गया।

 

फिर मैं माँ के गांड को चाटने लगा मेरी माँ की गांड बिल्कुल बन्द थी। ऐसा लग रहा था जैसे माँ की गांड किसी बन्द बोतल की तरह है। माँ की चूत से पानी निकल कर गांड तक फैल चुकी थी। फिर मैंने माँ की चूत में उँगली डालकर अच्छे से घुमाया ताकि चुत का चिकना पानी मेरे उंगली पर लग जाए। और फिर चुत से उंगली निकालकर माँ की गांड के छेद में डालने लगा थोड़ी मेहनत के बाद मेरी एक उंगली माँ को गांड में घुस गई। और माँ उंगली को अंदर बाहर करने लगा और गोल गोल घुमाने लगा। फिर मैंने माँ के गांड पर ढेर सारा थूका और 2 उंगली अंदर डाल दिया। माँ थोड़ी देर के लिए असहज हुई लेकिन जब मैं 2 उंगली गांड में अंदर बाहर करने लगा तो माँ को भी मजा आने लगा। मैं एक हाथ से माँ के गांड और चुत के बीच के हिस्से को सहला भी रहा था जिससे माँ पूरी जोश में आ गई। अब मैं गांड और चुत दोनों में एज साथ उंगली डाल रहा था। करीब 10 मिनट ऐसे ही उंगली से चुदाई करने के बाद एक बार फिर माँ की चूत पानी छोड़ने लगा।

Antarvasna hindi stories

लेकिन् ईस बार मैं चुत का पानी पिया नहीं बल्कि गांड के नीचे जाने से रोककर गांड को 2 उंगलियो से फैलाकर पानी गांड में जाने दिया। पूरा पानी मैं गांड के अंदर और चारो तरफ अच्छे से लगाया जिससे माँ की गांड चमकने लगी।

 

माँ 2 बार झड़ चुकी थी। इसलिए मैंने बोला माँ अब चलो असली खेल शुरू करें। माँ समझ गई और बोली साले बहुत हरामी है तू तो। पहले अपनी माँ का चुत फाड् दिया। और अब गांड फाड़ने की तैयारी कर ली।

चल तू भी क्या याद करेगा। छोड़ ले अपनी माँ की गांड को। अपने जवान लंड को घुसा ले अपनी माँ की गांड में।

 

फिर मैंने कहा लेकिन माँ मुझे गांड मारने का एक्सपीरियंस नहीं है कैसे करूँ।

 

तो माँ  उठी और कुतिया बन गई और बोली चल आ और पीछे से मेरी गांड में अपना लंड डाल। और हाँ साले भड़वे मादरचोद तेरा लंड बहुत मोटा और बड़ा है। मैं गांड तो कई बार मरवाई हूँ लेकिन इतना बड़ा और कड़क लन्ड मेरे गांड में कभी घुसा नहीं तो आराम से डालना नहीं तो गांड फट जाएगी।

 

माँ की इतनी गंदी बातें सुनकर मैं और भी जोश में आ गया और पीछे से अपना लन्ड माँ के गांड के छेद पर लगाया तो माँ बोली साले क्या इरादा है अपनी माँ के गांड को फाड़ डालेगा क्या। पहले धरा सारा थूक अपने लंड पर लगाओ, और मेरे गांड पर भी। फिर अपना लंड डालना।

 

मैं ढेर सारा थूक माँ के गांड पर थूक दिया। और अपने लंड में थूक को लपेटने लगा। इससे माँ के गांड पर भी थूक अच्छे से लग गया।

 

अब मै अपना लन्ड माँ के चुत पर सेट किया और कमर को पकड़ लिया। फिर माँ बोली कि जितना जोर है तुममे वो पूरा ताकत लगा देना और एक ही झटके में पूरा लंड मेरी गांड में घुसा देना।

 

मैंने ऐसा ही किया और पूरी ताकत से ऐसा झटका मारा को मेरा समूचा लंड माँ की चूत में घुस गया।

माँ को थोड़ा दर्द हुआ लेकिन माँ बोली बेटा अभी हिलना मत ऐसे ही 2 मिनट रुके रहो। मैं भी किसी वफादार कुत्ते की तरह माँ के गांड में लन्ड डाले चुपचाप पड़ा रहा।

2 मिनट बाद माँ खुद ही अपना गांड पीछे करने लगी। मैं समझ गया कि माँ अब चुदवाना चाहती है। तो मैं भी कमर हिलाना शुरु कर दिया। 4, 5 झटकों के बाद मैं पूरी ताकत से जोर-जोर से माँ का गांड मारने लगा। और माँ के चुत को अपने हाथों से मसलने लगा। बीच बीच मे मैं उनकी चुचियों को भी मसल रहा था।

Painful sex with lord

मॉम पूरे जोश में मुझे गालियां देकर चुदवा रही थी।

 

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सुमित चोदोआआआहहहहहहह जाओ मेरी गांड मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा गांड मारता  है तू। ……  तू तो सच्चा मर्द निकला मेरे शेर….. चोदो सुमित चाटो मेरी गांड को…………तुम्हारा लंड मेरे गांड से होते हुए अंदर चुत तक धक्का मार रहा है…… बहुत मजा रहा है मेरे लाल……फाड् दो मेरी गांड सुमित।….. मेरी चुत गांड दोनो की धज्जियां उड़ा दो।….. और फिर माँ की चूत पानी छोड़ने लगा। और मैं जोर से माँ की चूत को रगड़ने लगा….. माँ की चूत से पानी निकलकर पूरे बीएड पर फैलने लगा।…  माँ की चूत ने बहुत पानी छोड़ा था।

 

इधर मैं जोरजोर से माँ की गांड को चोदे जा रहा था।  आउर माँ चिल्लाए जा रही थी। ओहहहहहहहहहहहहह बेटा। …..  अओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सुमित मारो मेरी गांडआआआ चोदो मेरी चुत….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा गांड मारता  है तू। मारो सुमित तेजी से मारो मेरी गांड और चुत………… ओहहहहहहहहहहहहह बेटा मैं झड़ रही हूँ बेटा…. चोदो और जोर से मेरे लाल……. चोद ले अपनी माँ की चूत और गांड……. ये चुत और गांड अब बेटे के नाम हुई मेरे राजा……. ओहहहहहहहहहहहहह…… आहहहहहहहहहहहहहहहह…. मेरे राजा बेटे……….

 

और करीब आधे घण्टे तक मैं माँ की गांड मारता रहा इस दौरान माँ 4 बार झड़ी। और फिर मेरा लंड भी पानी छोड़ने को हुआ। जैसे ही मेरे धक्के तेज हुए माँ समझ गयी कि मैं झड़ने वाला हूँ तो वो झट से लंड को गांड से बाहर निकाल दी। जब लंड गांड से अलग हुआ तो जोर की कप की आवाज आई। जैसे बियर का बोतल खुलने पर आवाज आती है।

 

और मॉम बैठकर मेरे लन्ड को मुँह में लें ली। और मैं उनकी मुँह को चोदने लगा। 4, 6 धक्कों के बाद मेरा लंड पानी छोड़ने लगा और फिर माँ मेरा सारा वीर्य पी गई। और अच्छे से चाटकर लंड को साफ की। और बोली बेटा तेरा वीर्य बहुत गाढ़ा था। और इतना ज्यादा मात्रा में वीर्य मुझे कभी पीने को नहीं मिला।

 

आज तूने मुझे जन्नत की सिर करा दी। तू बहुत अच्छा है। मेरे चुत गांड के साथ मेरे मुँह की प्यास भी बुझा दिया। आई लव यू मेरे राजा बेटा।

Widowed Professor

और फिर हम नंगे ही एक दूसरे के बांहो में सो गए।

 

शाम को करीब 5 बजे उठे। और हमदोनों माँबेटे साथ मे बाथरूम में गए। और शॉवर के नीचे नहाते हुए चुदाई किए।

 

और फिर रात को जब माँ किचन में खाना बना रही थी तो मैं पीछे से जाकर पकड़ लिया। और फिर किचन के स्लैब पर ही चोदने लगा। और एक बार फिर से गांड मारा।

 

अब हमारा चुदाई रोज चलता है। मेरी लंड की दीवानी मेरी माँ नेपने बॉयफ्रेंड से ब्रेकअप कर लिया ।

 

करीब 2 महीने बाद पता चला कि माँ प्रेग्नेंट हैं। और फिर 9 महीने बाद माँ ने मेरे बच्चे को जन्म दिया। जो बिल्कुल मेरी तरह दिखता है।

 

तो दोस्तों ये थी। माँ बेटे की ब्लैकमेल के साथ चुदाई से शुरू हुई मोहब्बत जो बच्चे होने तक है। तो कैसा लगा माँ-बेटे की चुदाई की कहानी  | मुझे कमेंट करके जरूर बताना।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं। कमेंट और लाइक करना न भूलें।

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *