रिश्तों में चुदाई

रिश्तों में चुदाई : पापा बुआ की चुदाई की बेटी बनी साक्षी

मेरे प्यारे दोस्तों, और https://nightqueenstories.com के हॉट सेक्सी पाठकों को मेरा नमस्कार।

दोस्तों मैं कविता हूँ। मैं 15 साल की हूँ। और मेरी फिगर 28 की चुचियाँ, 26 की कमर और 32 की गांड़ है। मेरी हाइट 5,4 है। मैं झारखंड के जमशेदपुर में रहती हूँ। मैं 10th स्टैंडर्ड में हूँ। मेरे डैड स्टील प्लांट में अधिकारी हैं। मेरे और पापा के बीच एक दोस्त वाला रिश्ता है। हम बाप बेटी की तरह कभी नही रहे। बल्कि एक दोस्त की तरह रहे हर बात कहना सुनना। मेरे पापा ही तो मेरे सबकुछ थे। और मैं पापा की भी सबकुछ थी। मेरे पापा बचपन से ही मुझे नहलाना धुलाना सर में तेल लगाना कंघी करना। स्कूल के लिए तैयार करना सब पापा ही करते थे। मैं अभी भी पापा के लिए 1 साल की बच्ची ही थी वह सबकुछ मेरा करते थे। बहुत ध्यान रखते थे। मेरे कपड़े तक साफ करते थे। मेरे पीरियड की पैड तक वही लाते थे।

पापा मेरी बुआ को चोद रहे थे और बुआ सिसकारियां लेकर चुदवा रही थी- भाई-बहन से चुदाई के रिश्ते तक

ये कहानी मेरे डैड और मेरी बुआ का है। यह कहानी लगभग एक साल पहले की है। मेरे डैड का उम्र 36 साल है। उनका नाम अजय है। मेरी बुआ का नाम मीना है। वो मेरे पापा से 2 साल बड़ी हैं। वो राँची में रहती हैं। लेकिन वो हर महीने 3, 4 दिन के लिए आती हैं। क्योंकि मेरी माँ नही हैं और बुआ मुझे और पापा को बहुत मानती हैं। मेरी मॉम के देहांत 15 साल पहले ही हुआ था। दरअसल मुझे जन्म देने के 1 साल बाद ही उनका एक एक्सीडेंट में डेथ हो गया था। तबसे डैड मुझे परवरिश किये और आज मैं 15 साल की हो गई। मेरे डैड दूसरी शादी नही किये क्योंकि वो मुझसे बहुत प्यार करते हैं। और उन्हें लगता था कि दूसरी औरत मुझे ठीक से अपनाएगी की नही क्योंकि एक शौतेली मॉम शायद ही ऐसा कर पाती है।

मैं पहले भी अपने परिवार के बारे में कहानियां लिख चुकी हूँ। आप उन कहानियों को जरूर पढ़िएगा।

घर मे मैं और पापा ही हैं। तो मैं बचपन से पापा के साथ ही सोती हूँ। मेरी बुआ मेरे पापा से बड़ी हैं इसलिए वो पापा को और मुझे भी बहुत मानती हैं। और मेरी माँ के जाने के बाद बुआ ही मेरे पापा को संभाली थी। क्योंकि उस समय पापा महज 20, 21 साल के थे। और उस उम्र में मेरी भी जिम्मेवारी उनपर आ गई थी। तो बुआ ने अपनी जिम्मेदारी निभाई और एक माँ बाप की तरह मुझे और पापा को संभाले। हालांकि वो भी तब 23, 24 साल की ही थी। लेकिन पापा से बड़ी थी तो वह बड़ी होने का फर्ज निभाई।

और तब से बुआ हरसंभव कोशिश की की हमदोंनो को कभी अकेला फिल ना हो। और वह रांची से जमशेदपुर हर महीने आकर कुछ दिन रुकती हैं। हमे भी बुआ का साथ अच्छा लगता है। वह मुझे बहुत मानती हैं।

एक दिन की बात है बुआ आई हुई थी। हम बहुत खुश थे। और उस दिन पापा बोले कि हमतीनों आज बाहर ही चलेंगे डिनर करने। पापा उस दिन ऑफिस से आये और फ्रेश होकर कॉफ़ी पिये और फिर हम सब मार्केट चले गए। पहले हम 6 से 9 का शो मूवी देखे फिर डिनर किये और रात 10 बजे घर आ गए। जब बाहर हमलोग तीनो साथ जाते थे। तो सभी बुआ को मेरी माँ और पापा की बीवी समझते थे। कई लोग धोखा खाकर बोल भी देते थे।

हमारा बिस्तर बड़ा है। और बुआ और पापा भी हमेशा एक दोस्त की तरह रहे हैं तो बुआ जब भी आती थी तो हमतीनों साथ ही एक ही बिस्तर पर सोते थे। हमतीनों बहुत मस्ती करते थे। और ढेर सारी बातें भी हो जाती थी। उस दिन बाहर खाना हुआ इस कारण मैं बहुत खा ली थी। चुकी कई आईटम खाने के बाद मैं अंत मे आइसक्रीम भी खा ली थी। तो मुझे जल्दी नींद आने लगी। बुआ बीच मे सोई हुई थी। मुझे तो नींद आ रही थी तो मैं सो गई लेकिन बुआ और पापा बातचीत कर रहे थे।

रात में मेरी नींद खुली तो मैंने देखा बुआ पापा के ऊपर से चुदाई कर रही है और बड़बड़ा रही है फक बेबी हार्ड फक

रात को फिर जब मेरी नींद खुली तो मेरे कानों में। कुछ आवाज सुनाई दे रही थी। और ये आवाज बुआ की थी। मैं जब गौर से आवाज सुनी तो हैरान रह गई। बुआ आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी…..

कर रही थी। फिर मैं चादर आहिस्ता से आंखों के नीचे खिंची तो दंग रह गई। बुआ मेरे पापा के ऊपर बैठी हुई थी। और हिल रही थी और उनके मुंह से मादक आवाजें सिसकारियां निकल रही थी सससीईईईईईईसससीईईईईईई…आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. बेबी ओह यस जान फ़क बेबी फ़क फ़क माय पुसी जान फक हार्ड उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी….. और जोर जोर से अपनी कमर हिला रही थी। मैं समझ चुकी थी कि ये खेल चुदाई का चल रहा है। और थोड़ी ही देर में बुआ आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… करते हुए पापा के ऊपर झुक गई और उनके होंठो पर किस करते हुए 4, 5 झटके मारी और शांत हो गई। और वैसे ही पापा के ऊपर वह पड़ी रही। फिर साइड में हो गई और लेट गई।

फिर पापा बोले मेरी जान तुम आज भी वही 15 साल की जवान हो। आज भी तुम वेसे ही मजा देती हो। तो बुआ बोली तू भी कुछ कम नही है। हर बार तू मुझे पूरी तरह तृप्त कर देता है। चुदाई का असली मजा तो तुमसे ही मुझे मिला है वरना तेरे जीजा जी तो आजतक मेरी चुत से कभी पानी नही निकाल पाए।

बुआ और पापा दोनो बिल्कुल नंगे थे। और फिर बुआ पापा को किस करने लगी। और पापा के लन्ड को हाथ मे पकड़ ली। और मसलने लगी। पापा भी बुआ को भरपूर किस कर रहे थे। दोनो एक दूसरे में सम्माहित थे। फिर पापा उठे और बुआ के चुचियों को पीने लगे। बुआ जोर से सिसकारी ली थी। पापा बारी बारी दोनो चुचियों को पी रहे थे और हाथों से मसल रहे थे।

फिर पापा का हाथ नीची गया और बुआ के हेयरलेस चुत को रगड़ने लगा बुआ अब और जोर से सिसकारियां लेते हुए सससीईईईईईईसससीईईईईईई…आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह… करने लगी। फिर बुआ पापा के सर पकड़ के नीचे की तरफ धक्का देने लगी। शायद वह पापा को चुत चाटने का इशारा कर रही थी।

पापा भी बिना देर किए नीचे हो गए और बुआ के पैरो को फैलाकर चुत में मुँह लगा दिया। बुआ दोनो जांघो को सटाकर पापा के सर को दबा दी। पापा भी कम नही थे। वह जोर जोर से बुआ के चुत को चाट रहे थे। यह मदमसत चुदाई का नजारा देखकर मेरी चुत भी रिसने लगा था।

उधर बुआ अब पूरी जोश में आने लगी थी और कह रही थी

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… खा जाओ बाबू खा जाओ मेरी चुत मेरी चुत में बहुत कीड़े काटते है उन कीड़ो को मसल डालो। बहुत हरामी कीड़े हैं। मेरी चुत को चैन से रहने नही देते। तुम्ही इन कीड़ों का इलाज हो। आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. राजजजाआआआ चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से.. चाटो जोर से ओह बेबी चाटो बेबी चाटो।

चाटो मेरी चुत बेटा खा जाओ मेरी चुत…. चुत से पानी निकाल दो चाटकर मेरी प्यास बुझा दो। मेरी चुत तुम्हारे लिए बनी है। आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरे राजा…राजअअअअअअअ।। चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह साजन चाटो बेटा मेरी चुत बहुत प्यासी है। चाटो जोर।से।…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. ऐसे ही बेटा ऐसे ही जोर जोर से चाटो मेरी चुत।.. और फिर बुआ झड़ने लगी। और पापा के सर को दबाने लगी।

फिर बुआ बोली बेटा ऊपर आओ मेरे पापा आज्ञाकारी बच्चे की तरह कहना मान गए। और बुआ अपने चुचियों को समेट ली और बोली बाबू अपना लन्ड मेरी चुचियों में डालकर चोदो। पापा बिना देरी किये बुआ के चुचियों को चोदने लगे। और बुआ सर थोड़ा उठाई और जैसे ही पापा धक्का मारते बुआ पापा के लन्ड को कभी मुंह मे ले लेती तो कभी जीभ से चाट देती। मैं पहली बार ऐसी चीजें देख रही थी।

बुआ पापा को बोली बाबू मेरी चुत में कीड़े काटने लगे है अपना लन्ड मेरी चुत में घुसाकर उन कीड़ो को मसल डालो

इधर मेरी चुत में भी कीड़े रेंगने लगे थे। तो मैं भी हाथ नीचे की और धीरे धीरे डरते हुए अपनी चुत सहलाने लगी। मेरी चुत पूरी तरह गीली हो चुकी थी।

फिर बुआ बोली बाबू अब तुम लन्ड मेरी मुंह मे दो। और पापा बुआ के मुँह में लन्ड दे दिए। बुआ पापा के लन्ड को चूसने लगी और पापा बुआ के मुँह को चोदने लगे। पापा धीरे धीरे ही बुआ के मुंह मे लन्ड अंदर बाहर कर रहे थे। यह करीब 5, 7 मिनट चला फिर बुआ बोली बाबू अब मेरी चुत में फिर से बुरी तरह कीड़े काटने लगे ऊन कीड़ो को अपने लन्ड से मारो। सबको मार डालो। तो पापा बोले हां मेरी धकड़न तुम्हारी चुत के कीड़ो को मैं अभी मारता हूँ। तो बुआ बोली दौड़ा दौड़ा के मारो। पूरे अंदर तक लन्ड घुसा के मारो।

फिर पापा नीचे गए तो बुआ पैर फैला दी। लेकिन पापा बुआ के एक पैर को अपने कंधे पर रखे और खुद घुटनो पे हो गए। और बुआ के चुत पर लन्ड को रगड़ने लगे। बीच बीच मे पापा लंड को जोर से उनकी चुत पर पटक भी रहे थे जिससे बुआ तड़प जा रही थी। और सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… कर रही थी।

अब बुआ को बर्दाश्त नही हुआ तो बोली बेटा कितना तड़पाओगे अपनी दीदी को अपनी जान के गर्म चुत में अपना घोड़े जैसा लन्ड डालो और फाड़ दो अपनी बहन की चुत तभी पापा अपना लन्ड एक जोरदार झटके में बुआ के चुत में डाल दिए। और जोर जोर से चोदने लगे। और बुआ मस्ती में चिल्लाने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. चोदो बाबू चोदो मेरी चुत इस चुत की धज्जियां उड़ा दो। यही तो है असली लन्ड जो मेरी प्यासी चुत को पानी पिलाता है। उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी…..

बेबी ओह यस जान फ़क बेबी फ़क फ़क माय पुसी जान फक हार्ड उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी….. फक बाबू फक तुम्हारा लन्ड राँची से यहां मुझे खिंच लाता है सोना। मेरी चुत तुम्हारा लन्ड का दीवानई बन चुकी है।

इधर मैं भी अपने चुत को जोर जोर से रगड़ रही थी। और मेरी चुत दूसरी बार पानी छोड़ रही थी। मैं तो अब निढाल हो चुकी थी।

लेकिन बुआ और पापा का चुदाई लगातार आधे घंटे से चुदाई चल रहा था। 8, 10 धक्कों के बाद पापा बोले कि दी मेरा लन्ड पानी छोड़ने वाला है तो बुआ बोली सोना मुझे पिलाओ अपने लन्ड का पानी मुझे पिलाओ। मैं बहुत दिनों से नही पी हूँ। और पापा लन्ड चुत से बाहर खिंच लिए और बुआ उठ के बैठ गयी। और मुँह खोल ली। और पापा खड़े होकर लन्ड जोर जोर से झोरने लगे। और फिर पापा के लन्ड से पिचकारी निकल पड़ी और बुआ के चेहरे पर गई। फिर पापा बुआ के मुँह में देने लगे। पापा के लन्ड से पानी निकल चुका था। पापा हांफ रहे थे। बुआ पापा के लन्ड को चाटकर साफ की और समूचा वीर्य निगल गई। फिर बुआ पापा को बैठाई और बाँहो में भर ली। और आई लव यू हनी बोली।

बुआ पापा दोनो संतुष्ट हो चुके थे। फिर दोनो नंगे लेट गए। मेरी भी चुत शांत हो चुकी थी इसलिए नींद आने लगी तो सो गई।

दोस्तों मैं आगे बताऊंगी की पापा ने बुआ और मेरी गांड़ कैसे मारी और फिर बुआ और मुझे एक साथ कैसे चोदा। लेकिन इसके लिए आपको कमेंट कर रिकवेस्ट करना होगा। इसलिए ज्यादा से ज्यादा कमेंट करें। और मुझे बताएं कि यह कहानी कैसी लगी। कहानी को लाइक और शेयर जरूर करें। और ऐसे ही मजेदार चुदाई की सेक्सी कहानियां https://nightqueenstories.com पर पढ़ते रहें। अब मुझे दीजिए इजाजत। धन्यवाद। नमस्कार।

 

67% LikesVS
33% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *