चुत की तृप्ति

 222 

शादी में मेरी चुत की तृप्ति

हेलो फ्रेंड्स, मेरा नाम अनामिका है और मैं गुजरात के बड़ौदा की रहने वाली हूँ। मैं एक शादी शुदा महिला हूँ। मेरी उम्र 26 साल है। पिछले साल ही मेरी शादी हुई है। मेरी शादी शुदा जिंदगी अच्छी है और मेरे पति मुझसे बहुत प्यार करते हैं। मैं भी उनकी बहुत कदर करती हूँ। मेरे पति मुझे सेक्सयूअली सैटिस्फैक्शन देते हैं। लेकिन मैं थोड़ी हॉर्नी टाइप की हूं और कॉलेज के टाइम पे मेरे कई लोगो के साथ अफेयर्स रह चुके है। और मैं अंत मे लव मैरिज ही कि हूँ। लेकिन शादी के बाद भी मैं कभी कभी किसी हॉट लड़के से चुद जाती हूँ। तो ऐसे ही एक घटना हुई। जिसका बयान मैं कर रही हूँ।

मेरी एक कॉलेज फ्रेंड-सहेली की शादी थी, उसका घर सूरत में है। हम जाने के प्लानिंग कर चुके थे लेकिन ऐन मौके पर मेरे पति के कम्पनी में काम आ गया तो उन्हें दिल्ली जाना पड़ा। और मेरे हस्बैंड मुझे बोले कि तुम अकेले चली जाओ। तो मैं अकेले ही सूरत आ गई। मेरी सहेली का घर गांव में था। तो मैं जब आयी तो देखी चारो तरफ केले की खेती लगी है। मेरा दो दिन का प्लान था, पहले दिन सब रस्म अदायगी थी। हल्दी और ऐसे ही सब कार्यक्रम और रात को डांडिया खेलने का प्रोग्राम था। मुझे डांडिया बहुत पसंद है। दूसरे दिन शादी था।, मेरी सहेली का नाम तृप्ति था। तृप्ति के एक बड़े भाई थे जिनका नाम राहुल था। राहुल इंजीनियर थे। और शादी में उनके कुछ दोस्त आये हुए थे उनमें एक का नाम सुमित था। जो देखने मे एवरेज था लेकिन था बहुत चॉकलेटी।

कैसे मैं नंगे होकर केले के खेत मे चुत चुदवा ली

दिन में मैं और तृप्ति साथ बैठे थे। तभी सुमित आया और तृप्ति को हाय बोला फिर मुझे भी हाय बोला और हाथ आगे बढ़ाया तो मैं भी हाय बोल के हाथ मिलाई। फिर वो तृप्ति को बोला कि तुम्हारी दोस्त बहुत खूबसूरत है। तो तृप्ति बोली कि हां मेरी दोस्त बहुत खूबसूरत है और इसके हस्बैंड भी बहुत हैंडसम हैं। तो जम दोनो हँसने लगे तो सुमित भी मुस्कुरा दिया।

फिर सुमित बोला फिर तो इनके हस्बैंड बहुत खुशनसीब हैं। फिर वो चला गया। मैं पूछी की ये कौन है तो तृप्ति बोली यह सुमित है और दिल्ली में IT प्रोफेशनल है। और भईया का दोस्त है।

फिर मैं पूरा दिन मैं नोटिस की वो बार बार जब भी मेरे सामने आता तो मुझे देखता रहता था और मुझे भी मजा आ रहा था। शाम को डांडिया का कार्यक्रम था तो मैं बोली कि यार पार्लर नजदीक है क्या। तो तृप्ति बोली को हां यार है और मुझे भी चलना है तो राहुल भैया मार्किट जा रहे थे तो मैं और तृप्ति दोनो साथ चले गए। गाड़ी में भईया के अलावा सुमित भी था जो भईया के साथ मार्केट सामान लेने जा रहा था।

जब हम गाड़ी से उतर रहे थे तो सुमित का हाथ मसर हाथ से टच हो गया। https://nightqueenstories.com

वापस होते समय रात हो गया 8 बज गए तो अंधेरा हो गया। फिर उधर से भईया और सुमित आए। तो मैं भी गाड़ी में बैठ गई इस बार तृप्ति बोली कि मैं आगे बैठूंगी तो सुमित पीछे आ गया। और मेरे बगल में बैठ गया। रात हो गई थी तो अंधेरा था। तो सुमित अपना हाथ मेरे हाथ से टच करने लगा। फिर वो मेरा हाथ पकड़ने लगा तो मैं उसका हाथ झटक दी।

अब वो मेरी कमर को सहलाने लगा लेकिन मैं बार बार उसका हाथ वह से हटा रही थी। लेकिन शायद ये विरोध नाममात्र के ही था क्योंकि उसका छूना मुझे भी अच्छा लग रहा था। फिर थोड़ी ही देर में हम घर पहुच गए।

रात के 10 बज चुके थे थोड़ी ही देर में डांडिया शुरु होने वाला था तो मैं तृप्ति के पास गई और बोली कि चलो तो वो बोली को मैं ज्यादा नही खेलूंगी तो मैं बोली ठीक है। और फिर शुरू हुआ डांडिया।

मैं पहले राउंड में ही खेलने लगी। और काफी देर तक खेली। मैं पसीने में पूरी तरह से तर बतर हो गई थी। और थक भी गई थी। तो जैसे ही गैप आया मैं बैठ गई।

और फिर फोन में कुछ देखने लगी। मैं डांडिया खेलते वक़्त भी और अभी भी नोटिस कर रही थी की सुमित मुझे लगातार देखे जा रहा था। तो अब मैंने भी कभी कभी उसके तरफ देख ली। तो फिर मेरे व्हाट्सएप्प पर एक मैसेज आया और देखा तो अननोन नम्बर था। और लिखा थ। पसीने में भीगी हुई बहुत सेक्सी लग रही हो। तो मैं समझ गई कि सामने से सुमित ही मैसेज कर रहा है और ये नम्बर भी उसी का है।

लेकिन मैं अनजान बनते हुए रिप्लाई की की आप कौन।

तो मैसेज आया कि सामने देखो। तो मैं देखी तो सुमित मुस्कुरा रहा था। तो मैं भी मुस्कुरा दी।

मैं- तुम्हे मेरा नंबर कहा से मिला?

सुमित- गलत सवाल।

अच्छा सुनो पसीने से काफी भीग चुकी हो तो बहार चले हैं ताजी हवा खाने के लिए।

मैं – नहीं मैं यही ठीक हूँ

सुमित – ओके मैं बाहर जा रहा हूँ और पार्किंग के साइड में तुम्हारा इंतजार करूंगा

मैं – मैं नही आउंगी।

और फिर मेरे सीने में।जो दिल था वो उछल कूद करने लगा। जोर जोर से धड़कने लगा। और सोचने लगा कि जाऊं की ना जाऊं।

थोड़ी उधेड़बुन के बाद मैं फैसला की की मैं जा रही हूँ। थोड़ी देर ताजा हवा मिलेगी और कंपनी भी, तो मैं बाहर चली आयी। फिर मैं उस ओर गई जिधर सुमित बोला था। लेकिन वह दिख नही रह था तो मैं एक कार के पास खड़ी हो गई।

तभी भूत की तरह सुमित प्रकट हो गया। तो मैं डर गई। और बोली। डरा दिए तुम ऐसे कोई अचानक आता है क्या।

सुमित- तुम तो नही आने वाली थी।

मैं – तुमपे थोड़ा तरस आ गया की बेचारा अकेला है थोड़ी कंपनी दे दू और इसी बहाने थोड़ी ठंडी हवा भी मिल जाएगी। तो चली आई।

सुमित- डांडिया खेलकर इस भीगे हुए चोली में आप बहुत सेक्सी लग रही हो।

मैं – थैंक्स। वैसे आप भी इस शेरवानी में हैंडसम लग रहे हो।

दोस्तों तभी सुमित मुझे अपने बाँहो में दबोच लिया और मुझेंकिस करने लगा। मैं छूटने की कोशिश की लेकिन उसकी पकड़ काफी मजबूत थी।

और थोड़ी देर में मैं विरोध करना बंद कर दी। क्योंकि अच्छा तो मुझे भी लग रहा था। तो फिर मैं भी उसके किस में साथ देने लगी। https://nightqueenstories.com

फिर सुमित बोला जल्दी से कार में बैठो तो मैं बोली कैसे तो वज खत से डोर खोल दिया। और मैं कार में बैठ गई। तो सुमित भी झट से अंदर आकर आहिस्ता से कार का दरवाजा लगा दिया। यह कर तृप्ति के भईया का था। बगल में दोनो साइड और भी गाड़िया लगी थी जो रिश्तेदारों के थे। इस।लिए ज्यादा लाइट गाड़ी में नही आ रहे थे। और पिछले सीट पर जिस पर हम थे उस पर कम ही लाइट आ रहे थे।

फिर हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे। सुमित मेरी चुचियों को जोर जोर से दबाने लगा। अब हम एक दूसरे में पूरी तरह से खोने लगे थे। तभी दाएं साइड वाली गदीनकी लॉक खुली। उस गाडी का मालिक सामने से आ रहा थ और रिमोट से लॉक ओपन किया थ। यह देखकर हम डर गए। तो मैं फट से सीट के नीचे हो गई। और छुप गई। और सुमित सीट पर ही चुपचाप लेट गया।

और फिर साइड वाली गाड़ी में आदमी बैठकर गाड़ी लेकर चला गया। हमदोनों के जान में जान आयी। कि बच गए। लेकिन वह गाड़ी जाने से अब दाहिने साइड से गाड़ी में हल्की रोशनी आने लगी थी।

तो मैं उठी और सीट पर आकर बोली अब तो रोशनी आने लगी। तो सुमित बोला सब डांडिया में व्यस्त हैं यहां को देख रहा। वेसे भी हल्की रोशनी है इतने में दिखाई नही देगा।

अब फिर से वह मुझे किस करने लगा और मेरी चुचियों को दबाने लगा। तो मैं बोली सुमित। रुको यहां ठीक नही है। कर में।किसी की नजर पड़ सकती है। क्योंकि एक साइड से अब बिल्कुल खाली है। और क्या पता वह गाड़ी वाला फिर से आ जाये या और भी कोई आ सकता है। तो वह बोला अच्छा ठीक है। रुको।

और वह दरवाजा आहिस्ता से खोला और खुद नीचे उतर गया और मुझे बोला धीरे से उतरो। मैं उतरी तो वह कार का दरवाजा आहिस्ता से दबाकर बन्द किया। और मेरा हाथ पकड़ लिया और बोला चलो। तो मैं उससे हाथ छुड़ाते हुए बोली कहाँ ले जा र्शे हो। तो वह बोला पीछे चलो। वहाँ केले के पेड़ लगे हुए हैं खेतों में वहां कोई नही आएगा। और कहते हुए हम उधर जाने लगे।

वह मेरा हाथ पकड़े हुए खेत मे पहुँच गया। वहाँ काफी बड़े बड़े केले लगे हुए थे। फिर हम बैठ गए और चारो तरफ देखने लगे। जब लगा कि कोई नही है तो सुमित बोला चलो उठो जल्दी और थोड़ा अंदर चलते हैं। और वह मेरा हाथ पकड़े हुए और अंदर चला गया। और रुक गया। तो मैं बोली यार यहाँ कपड़े खराब हो जाएंगे वेसे भी पसीने से भइजे हुए हैं। मिट्टी लग जायेगी तो दिखेगी। वापस जाने पर।

सुमित मेरा घाघरा ऊपर किया और एक पैर कंधे पर रखकर चुत चाटने लगा

तो सुमित बोला रुको चुपचाप। और फिर वह केले के दो बड़े बड़े पत्ते तोड़ दिए। और जमीन पे बिछा दिया।

और फिर हमदोनों एक दूसरे को किस करने लगे सुमित अब मेरा चुचियाँ जोर जोर से दबाने लगा।

मेरे मुँह से आहहहहहहहहहहहहहहह……

आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई…

की आवाज आने लगी। तो सुमित मेरे कपड़े उतारने लगे। मैं सिर्फ चोली पहनी थी उसके नीचे ब्रा नही पहनी थी। तो वह मेरा चोली उतारा और साइड में केले में पत्ते पर रख दिया। अब वो मेरे घाघरा का नाडा ढूढने लगा तो मैं बोली इसे रहने दो। तो वह मां गया। और फिर वह अपना कपड़ा उतारने लगा। पहले शेरवानी और फिर पायजामा उतार दिया। अब वो अंडरवियर में था।

फिर वो मेरे चूची मुँह में लिया और पीने लगा। अब मुझे मजा आने लगा और मस्ती में मुँह से सिसकारियां निकलने लगी।

हहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. आआहहहहहहहहहह.. सुमित थोड़ा धीरे दबाव। दर्द होता है।

हहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. आआहहहहहहहहहह.. सुमित मेरी चुचियों को बारी बारी पी रहा था और तेज तेज दबा रहा था।

फिर वह नीचे बैठ गया और मेरी घाघरा ऊपर करने लगा। और मेरी पैंटी उतार दिया। और मेरी चुत चाटने लगा उसे घाघरा से दिक्कत हो रहा था यह देखकर मैं नाडा सरका दी तो घाघरा नीचे गिर गया। अब मैं उसे पैरो से निकाली तो सुमित उठाकर अपने शेरवानी के ऊपर रख दिया। अब मैं बिल्कुल नंगी थी। फिर वह मेरा एक पैर अपने कंधे पर रखा और मेरी चुत के दाने को।होंठो से पकड़ के खिंचने लगा।

और जोर जोर से मेरी चुत चाटने लगा। तो मेरी।मुँह से मादक सिसकारियों के साथ बोल फुट पड़े

चाटो और जोर से चाटो।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. खा जाओ मेरी चुत सुमित चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह.. …. चाटो राजा चाटो मेरी चुत। पूरा निगल जाओ मेरी चुत को। आ हहहहहहहहह। ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बेबी चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से..। …

आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. राजजजाआआआ चाटो मेरी चुत।… तुम्ही तो मेरे असली राजा हो।

आआआहहहहहहह चाटो जोर से.. । चाटो मेरी चुत। चुत से पानी निकाल दो चाटकर आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरे राजा… सुमित।। चाटो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह चाटो जोर से सुमित..।

सुमित का लन्ड मेरे पति से बड़ा था। और वह मेरी चुत में लन्ड डालकर जोर जोर से चोदने लगा।

तभी मेरी चुत ने फव्वारा छोड़ दिया। और सुमित का पूरा चेहरा मेरी चुत के पानी से सन। गया। सुमित चटाकर मेरे चुत के पानी पी गया।

और फिर मैं सुमित को उठाई और मिस करने लगी। उसके मुंह से मेरी चुत की खुशबू आ रही थी। फिर वह बोला अनु मुझे शादी शुदा महिलाओं को चोदना बहुत पसंद है तो मैं धीरे से बोली क्यों तो वह बोला की शादीशुदा औरतें पूरा मजा देती हैं खुलकर चुदवाती हैं। और मुझे यही पसन्द है।

फिर वह बोला अनु अब नही बर्दास्त हो रहा। तो मैं बोली कि ठीक है और मैं लेट गई और फिर वो मेरी चुत में लन्ड डाल के चोदने लगा। उसका लन्ड मेरे पति से बड़ा था। अब वह जोर जोर से चोदने लगा। और मैं लगातार चिल्लाए जा रही थी आआहहहहहहहहहहहहहह….. बेबी चोदो जोर से… चोदो मेरी चुत चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजा आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर जोर से चोदो मेरे सुमित चोदो। ….. चोदो जान चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई… आआआहहहहहहह चोदो मेरे सइयाँ फाड़ दो मेरी बुर…. । मारो मेरे राजा आआहहहहहहहहहहहहहह……..

मेरी कामुक बातें सुनकर सुमित और जोश में आ गया और वह और जोर जोर से चोदने लगा। मुझे बहुत मजा आ रहा था। इस तरह मैं खेतों के पहली बार चुत चुदवा रही थी। ये रोमांचक अनुभव था। मैं बोले जा रही थी

जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेबी कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह…. मेरी जान सुमित चोदो………… सुमित मैं झड़ने वाली हूँ मारो झटका मेरे शेर अब मैं झड़ रही हूँ बाबू चोदो जोर जोर से हहहहहहहहहहहहह….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई… आआआहहहहहह और फिर मेरी चुत तीसरी बार पानी छोड़ दिया। https://nightqueenstories.com

मैं 3 बार झड़ गई तो अब मुझे चुदवाने का मन नही कर रहा था तो मैं बोली। अब चुत से लन्ड निकाल लो मैं मुँह में लेकर तुम्हारा पानी निकाल दूँगी। तो वह लन्ड चुत से खिंचा और मेरी मुँह में चोदने लगा। अभी वह 4 ,5 धक्का ही मारा होगा कि उसका लन्ड के वीर्य से मेरा मुँह भर गया। और मैं सारा वीर्य निगल गई।

तभी तृप्ति का कॉल आ गया। मैं तो डर गई क्योंकि खेत मे मोबाइल की लाइट दिखने लगी। तो मैं झट से चोली में लपेट ली। फिर जब मोबाइल बजना बन्द हुआ तो मैं कपड़े पहनने लगी। तभी तृप्ति फिर से कॉल कर दी तो सुमित बोला उठा लो। मैं झट से पिक कर कान में लगाई तो तृप्ति बोली यार तू कहाँ है यहाँ सब कबसे तुझे ढूंढ रहे हैं तो मैं बोली आ रही हूँ। बस तुरंत आ रही। इतना बोलकर मैं कॉल काटी और फोन बंद कर दी।

फिर फट से हम कपड़े पहने और सुमित मेरा हाथ पकड़ा और हम खेत से निकलने लगे। किनारे आकर हम बैठ गए और चारो तरफ नजर दौड़ाया कोई देख तो नही रहा जब देखा कोई नही है तो हम निकले और कार के पास पहुँच गए। और मैं बोली कि तुम यही रुको बाद में आना। और बोल के चली गई। तो तृप्ति सामने ही खड़ी थी बोली कहाँ थी तो इतनी देर से यार। तो मैं बोली यही खड़ी थी तबसे उधर से सुमित भी आ गया और दूसरे साइड चला गया लेकिन तृप्ति उसे देख ली। और सुमित मुस्कुरा रहा था तो मैं भी मुस्कुरा दी। तो तृप्ति बोली अच्छा तो ये बात है। और फिर हम एक बार फिर डांडिया खेलने लगे।

दोस्तों कैसी लगी मेरी शादी में चुत की तृप्ति की कहानी।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

Meet Women Online!!

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

 

 

75% LikesVS
25% Dislikes

One thought on “चुत की तृप्ति

  1. My whataap no (7266864843) jo housewife aunty bhabhi mom girl divorced lady widhwa akeli tanha hai ya kisi ke pati bahar rehete hai wo sex or piyar ki payasi haior wo secret phon sex yareal sex ya masti karna chahti hai .sex time 35min se 40 min hai.whataap no (7266864843)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *