प्रोफेसर के साथ चुदाई। भाग-1

जब मुझे होश आया, तो मुझे लगा की कोई मेरा लंड और अंडकोष को सेहला रहा है।  और आंखे खोलते ही मैं चौक गया।  क्यूंकी अर्चना मैम मेरा लंड को सेहला रही थी।  मैं झट से उठा और मैं एक तरफ हो गया। और मेरे मुंह से अचानक निकला

 

 

हैलो दोस्तों, कैसे हो आप सब?  उम्मीद करता हूँ अच्छे होंगे। दोस्तो मेरा नाम रिंकू है। मैं 28 साल का हूँ।

 

जैसा कि आपसब जानते हैं मैं खुद पर घटी घटना को ही आपसब तक शेयर करता हूँ। ये कहानी भी मेरी जिंदगी की एक सच्ची घटना को लेकर है। वैसे मैं नवाबों का शहर उत्तर प्रदेश के लखनऊ का रहने वाला हूं, और मेरठ में जॉब करता हूं। तो ज्यादा बोर ना करते हुए कहानी शुरू करता हूँ।  उम्मीद करता हूँ कहानी आपको पसंद आएगा और मजा भी आएगा।

 

ये वाकिया तब की है जब मैं MBA कर रहा था। मेरे कॉलेज में एक खूबसूरत लेडी प्रोफेसर थी।  जो कि विधवा थी और एक 10 साल की बच्ची की माँ थी। उनका नाम अर्चना था, उनकी उम्र 35 साल थी।  वो देखने में बहुत खूबसूरत और हॉट थी। उनकी लम्बाई 5 फुट 3 इंच थी। शरीर की फिटनेस तो कयामत था। फिगर 34-28-38 का देखते ही किसी के भी लन्ड में उफान आ जाए।

 

कॉलेज के हरेक लड़के की निगाह हमेशा उनको ही ताड़ते रहती थी। उनकी ड्रेसिंग सेंस भी बहुत अच्छी थी। वो अपने फिट शरीर पर हमेशा टाइट सलवार कमीज, जीन्स और शर्ट पहनती थी।  जिसमे उनका फिगर गजब का सेक्सी लगता था। स्टूडेंट के साथ- साथ टीचरों के भी निगाहें उनको ढूंढते रहती थी।

 

मेरे कॉलेज में हॉस्टल लिमिट था। इसलिए ज्यादातर स्टूडेंट को बाहर रूम रेंट पर लेके रहना पड़ता था।  मैं जहां रहता था, वहा से अर्चना मैम का घर महज 500 मीटर की दूरी पर था। लेकिन वो उनका खुद का घर था। वो अपने घर मे सिर्फ अपनी बेटी के साथ रहती थीं। (आप ये कहानी https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं)।

 

चुकी हमारा घर नजदीक था। तो अक्सर उनसे मार्केट या रास्ते मे मुलाकात हो जाती थी। इसलिए हमारी अच्छी जान पहचान हो गई थी। उनको भी कभी कुछ काम होता था तो मुझे बोलती थी।  मैं भी बड़े शौक से उनका हरेक काम कर देता था।  ताकि मैम के साथ टाइम बिताने और स्टडी में हेल्प मिल जाता था। जब भी मैं अर्चना मैम के घर जाता था, उनके बूब्स और गांड को देखकर मेरी आंखों को सुकुन मिलता था।

 

मैम ये बात जानती थी पर उन्होंने कभी कुछ बोला नहीं। अर्चना मैम के घर के सामने के मैदान मे मैं अक्सर क्रिकेट खेलने जाता था। कभी-कभी मैम भी अपने छत पर बैठकर खेल देखती थी।

Professor ke sath chudai

मुझे जब होश आया तो देखा अर्चना मैडम मेरे लंड और अंडकोष को सहला रही थी

और एग्जाम के बाद कुछ दिनों के लिए कॉलेज में छुट्टी हो चुकी थी। लेकिन मेरे घरवाले आउट ऑफ स्टेशन थे तो मैं घर गया नहीं था। एक दिन मैच खेलने के दौरान बॉल से मुझे चोट लग गयी। और चोट बहुत तगड़ी लगी की मैं मैदान पर ही बेहोश हो गया। दरअसल ये चोट मेरे अंडकोष में लगी थी। बेहोश होने के बाद मुझे कुछ याद नहीं।

 

और जब मुझे होश आया, तो मुझे लगा की कोई मेरा लंड और अंडकोष को सेहला रहा है।  और आंखे खोलते ही मैं चौक गया।  क्यूंकी अर्चना मैम मेरा लंड को सेहला रही थी।  मैं झट से उठा और मैं एक तरफ हो गया। और मेरे मुंह से अचानक निकला

 

मैम आप यहां क्या कर रही हैं और मैं यहां कैसे?

 

तो मैम ने बोला कि मैं अपने बालकनी से तुम्हारा मैच देख रही थी। की अचानक तुम गिर गए। तो मैं तुम्हारे साथियों को बोलके मेरे घर ले आया और अपने फैमिली डॉक्टर को बुलाकर तुम्हारा चेकअप करवाया।  डॉक्टर ने कहा की चोट ज्यादा नही है लेकिन ये बहुत संवेदनशील पार्ट होता है। इसलिए दर्द की वजह बेहोश हो गए थे और कुछ दवाइयां और जेल दे गए हैं।  डॉक्टर साहब बोले हैं कि इस जेल से हल्के हल्के से तुम्हारी चोट लगे हुए हिस्से (अंडकोष) पर मालिश करना है। तो मैं वही कर रही थी।

 

फिर मैंने मैडम के हाथ से जेल ले लिया। और बोला कि मैम मैं मालिश कर लुंगा। और फिर मैं अपना ट्राउजर पहना और उनको बोलकर वहां से अपने रूम पर आ गया। चुकी दर्द अभी भी हो रहा था तो मैं अपने अंडकोष पर जेल लगाकर मालिश करने लगा। लेकिन मेरा ध्यान लगातार मैडम पर लगा था। और मैं उनके बारे में सोच सोच के खुश हो रहा था।

 

 

जिसको देखने के लिए पूरा कॉलेज स्टूडेंट से लेकर टीचर तक लालायित रहते हैं आज वो खुद मेरे लंड और अंडकोष का मालिश कर रही थी।

बस यही दिमाग मे आ रहा था कि जिसको देखने के लिए पूरा कॉलेज स्टूडेंट से लेकर टीचर तक लालायित रहते हैं आज वो खुद मेरे लंड और अंडकोष का मालिश कर रही थी। सारा दिन और रात बस इसी सोच में निकल गया।  अगले दिन सुबह अर्चना मैम का कॉल आया और पुछने लगी की कैसे हो?  दर्द कैसा है?  मैंने बोला दर्द वैसा ही है, थोड़ा कम हुआ है। फिर 2 दिन बाद शाम को मैडम का कॉल आया और बोलने लगी, रिंकू मेरे बाथरूम का पानी का पाइप फट गया है। तो प्लीज कोई प्लंबर लेके मेरे घर आ जाओ।

 

मेरे अंडकोष में अभी भी दर्द हो रहा था और मेरा मन कहीं जाने का नहीं कर रहा था, पर मैडम को मना नहीं कर सकता था।  तो मैं एक प्लंबर को लेकर उनके घर चला गया।  1 घण्टे में ही उसने पाइप लाइन सही कर दिया और चला गया।  फिर मैंने कहा मैडम मैं भी अब जा रहा हूँ। तो मैम बोली की रुक जाओ थोड़ी देर, कॉफी पी कर जाना।  तो मैं रुक गया।

 

 

जिस औरत के लिए पूरा कॉलेज पागल है वो खुद मुझे चुदाई का मौका दे रही है

फ़िर मैम कॉफ़ी और सैंडविच बनाकर लाई। और हम कॉफ़ी पीते पीते नॉर्मल बातें करने लगे। फिर थोड़ी देर बाद मैडम पूछी

 

 रिंकू, अब दर्द कैसा है?

 

 मैंने कहा कि अब दर्द कम हो रहा है, पर कभी कभी ज्यादा दर्द होता है।

 

 मैडमकब ज्यादा दर्द होता है?

 

 मैंकभी कभी  होता है।

 

 मैडमजब तुम उत्साहित होते हो तब?

 

मैं तो चौक गया और शर्मा गया। और बोला नहीं मैम, ऐसा कुछ नहीं है।

 

मैडम –  शर्माओ मत खुलकर बताओ।  तुम यहां अकेले घर से दूर रहते हो।  अपनी समस्या शेयर कर सकते हो मुझसे। मैं माइंड नहीं करुंगी।

 

मैं–  हां मैम, लेकिन उत्तेजना कम नहीं कर पाता हूं दर्द के वजह से। और मैडम मुस्कुरा दी।

 

 और थोड़ी देर चुप रहने के बाद

 

मैडमतो मैं  मैं मदद कर दूं?

 

ये सुनकर मेरे मन में तो लड्डू फूटने लगे मैं अंदर से बहुत खुश हो गया।  और सोचने लगा जिस औरत के लिए पूरा कॉलेज पागल है वो मुझे मौका दे रही है।  पर मैं थोड़ा नाटक करके बोले लगा।

 

मैं- नहीं, नहीं मैम, आपको मदद करने की कोई जरूरत नहीं है।  मैं अपने आप मैनेज कर लुंगा।

 

मैडम-  मुस्कुराते हुए, क्यूं मना कर रहे हो एक दूसरे का मदद करने में क्या बुराई है।

 

मैं – नही मैडम, ये गलत होगा। आप मेरे टीचर हैं और मैं आपका स्टूडेंट।

 

मैडम – अच्छा, ऐसी बात है?  तो अपने टीचर के शरीर को हमेशा घुरते क्यों रहते हो, जैसे की खा जाओगे

 

और मैं चुप रहा, कुछ नहीं बोला। फिर मेरी खामोशी को देखकर मैडम बोली

 

देखो तुम जवान हो और मैं भी जवान हूँ। साथ मे विधवा भी। जिस कारण मेरी भी सेक्स की चाहत पूरा नहीं हो पाता है।  हम दोनो को ही सेक्स की जरुरत है।

 

 इतना सुनते ही मैं सारी शर्म हया छोड़कर अर्चना मैडम को अपने तरफ खींचा और उनको होंठो को जोर से चूमने लगा।  वो भी पूरी तरह साथ दे रही थी।  हम एक दसरे के होंठो को ऐसे चुस रहे थे, जैसे की भूखे शेर मांस को नोचकर खा रहा हो।

Antarvasna hindi stories

10 मिनट से ज्यादा तक हमारी ये किस चली। फिर मैं उनके गले पर अपनी गीली जुबान से चाटने लगा और उनके टॉप के ऊपर से ही उनके चुचियों को मसलने लगा।  मैडम के मुह से सिसकारियां निकलने लगी। अभी हम दोनों का रोमांस शुरू हुए 5 मिनट ही हुआ था की अचानक से डोरबेल बजी।  हम हड़बड़ाकर एक दूसरे से अलग हुए। फिर मैडम ने दरवाजा खोला तो देखा की उनके माता-पिता सामने खड़े हैं। फिर वो अंदर आए तो मैडम से मेरे बारे में पूछा। तो मैडम ने बताया की उनका स्टूडेंट है। और वॉटर पाइप लाइन रिपेयर के लिए प्लंबर लेकर आया था।  फिर मैम अपने माता-पिता से पुछे की आप लोग अचानक कैसे?

 

उनके पिताजी ने बोला की वो लोग मैडम को सरप्राइज देने आ गए उनके बर्थडे पर (अगले दिन मैडम का बर्थडे था)।  फिर मैं अपने रूम आ गया।  रात को मैडम का कॉल आया और हमारे बिछ सेक्स की बातें होने लगी। और हमने फ़ोन सेक्स किया। फिर रात को 12 बजे मैंने मैडम को बर्थडे विश किया। और पुछा की तुम्हे क्या गिफ्ट चाहिए।  तो उन्होने बोला की वक्त आने पर मांग लुंगी। करीब एक हफ्ते तक जबतक उनके पैरेंट थे, हमारे बीच सिर्फ फोन पर बातें हुईं। फिर एक दिन बाद मैडम ने कॉल करके बोला की शाम में घर आना।  मैं शाम को जब उनके घर पहुँचा,  तो पता चला के उनके माता-पिता घर वापस जा रहे हैं और उनकी बेटी भी उनके साथ जा रही है।  फिर मैडम और मैं उन सबको रेलवे स्टेशन छोड़कर आए। वपस आते समय हम दोनो ने बाहर से ही खाना खाकर गए। जैसे ही हम घर पहुँचे मैं मैडम को अपने बाहों में जकड़ लिया और उनको किस करने लगा।

 

मैं नंगा होकर बाथरूम में घुस गया, मैडम शॉवर के नीचे नंगी खड़ी थी

फिर मैडम ने बोला थोड़ा रुक जाओ, पहले फ्रेश हो जाते हैं।  मैने बोला ठीक है।  वो जब वाशरूम में फ्रेश होने जा रही थी तो और मुझे मूड़ – मुड़ के स्माइल दे रही थी।

 

मैं समझ गया की वो क्या चाहती है।  मैं थोड़ी देर बाद उनके बाथरूम के पास गया तो देखा की दरवाज़ा हल्का खुला था। मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और नंगा होके बाथरूम में घुस गया। मैडम शॉवर के नीचे नंगी खड़ी थी। और उनके मखमली बदन पर पानी फिसल कर नीचे गिर रहा था |और मैं मैडम को पीछे से पकड़  के बाहों में भर लिया। और वो मुस्कुराते हुए बोली, “तुम क्यों आ गए?”  मैंने बोला, “जब दोनो को फ्रेश होना है तो एक साथ हो जाते हैं। और फिर मैडम मुड़ी और मुझे भी अपने बाहों में कस ली और हमदोनो एक दूसरे को किस करने लगे। शॉवर का पानी हमदोनों के जिस्म में और तेजी से आग भड़का रहा था। करीब 10 मिनट तक हमदोनो एक दूसरे को किस करते रहे। फिर मैं एक हाथ से मैडम के चुचियों को दबाना शुरू किया। और फिर अपनी गीली जुबान गर्दन पर फिराते हुए उनकी एक चूची को मुँह में लेकर पीने लगा।

 

मैडम के मुँह से सस्सीईईईईईईईईई ….सस्सीईईईईईईईईई…. आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… आहहहहहहहहहहहहहहह करने लगी।

 

फिर मैं नीचे बैठ गया और उनका एक पैर यपने कंधे पर रख दिया और अपना मुँह उनके चुत पर रख दिया। जैसे ही मेरी होंठो का स्पर्श उनके चुत पर हुआ, वो आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… करते हुए मेरा सर पकड़ के जोर से अपने चुत पर दबाने लगी और अपना कमर हिला हिला के चुत मेरे मुँह पर रगड़ने लगी। वो लगातार मोन किए जा रही थी। और शॉवर का पानी का धार उनकी चुचियों और नाभि से होते हुए चुत पर रहा था। मैडम की चुत का पानी और शॉवर का पानी मिक्स होकर मेरे मुँह में जा रहा था और मैं पानी को पी रहा था।

 

अर्चना मैडम एक हाथ से अपनी चुचियों को दबा रही थी और दूसरे हाथ से मेरे सर को अपने चुत पर दबा रही थी।

 

मैडम चिलाई की रिंकू चाटो जोर से मेरी चुत मैं झड़ने वाली हूँ

उनकी चुत अब बिल्कुल लाल हो चुकी थी और चुत का होंठ और दाना मोटा हो चुका था।

 

मैडम का चुत का दाना क्लाइटोरिस बहुत बड़ा और मोटा था। मेरे चाटने की वजह से अर्चना मैडम का चुत और क्लाइटोरिस फूल के मोटा और गहरा गुलाबी रंग का हो गया था।

 

मैं करीब 5,7 मिनट उनका चुत चाटा था, की मैडम चिलाई की रिंकू चाटो जोर से मेरी चुत मैं झड़ने वाली हूँ। और ये बोलकर मैडम जोर से मेरे सर को अपने चुत पर दबाई। और अपना चुत मेरे मुँह पर रगड़ते हुए झड़ने लगी।  मैडम का चुत प्रेशर के साथ पानी का धार छोड़ने लगा। ढेर सारा पानी मेरे मुँह में गया और मैं सारा पानी पी गया।

 

फिर मैडम मुझे उठाई और किस की और आई लव यू रिंकू बोली। तुम बहुत अच्छे हो। मैं तुम्हारी दीवानी हो गई।

 

6 साल से प्यासी चुतअर्चना मैडम को घोड़ी बनाकर पीछे से चुत में लंड डालकर चोदने लगा

फिर वो नीचे बैठ गई और मेरे लंड को अपने मुँह में ले ली। और जोर जोर से मेरे लंड को चूसने लगी। वो पूरा लंड अपने गले तक ले रही थी। मेरा 7 इंच का लंड उनकी गले तक जा रहा था। मैं भी जोश में आकर उनका सर पकड़कर जोर से अपना लंड उनके मुँह में डाल दे रहा था। तब उनके मुँह से गूँ गूँ की आवाज आने लगती। और उनके आँखों मे आंसू भी आ जा रहे थे। करीब इसी तरह वो 8, 10 मिनट तक मेरे लंड को चूसती रही। और फिर मैं उनको उठाया और उन्हें घोड़ी बनने को कहा। फिर उन्होंने दीवार पकड़ कर घोड़ी बन गई और अपने पैरों को फैलाकर, एक पैर उठाकर बाथटब पर रख दी। और मैं पीछे से उनके चुत पर अपना मोटा लंड रगड़ने लगा। अब वो बिल्कुल तड़प रही थी। और सस्सीईईईईईईईईई ….सस्सीईईईईईईईईई…. आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… ओहहहहहहहहहहहहहहहहह….. सस्सीईईईईईईईईई… आहहहहहहहहहहहहहहह कर रही थी।

 

उनकी चुत में करीब 6 साल से लंड नहीं गया था। फिर वो अर्चना मैडम बोली कि रिंकू अब बर्दाश्त नही हो रहा जल्दी से अपना लंड मेरे चुत में घुसा के मेरी बुर को फाड़ दो। मेरी चुत लंड खाने के लिए पिछले 6 साल से तड़प रही है। और अपना कमर पीछे करने लगी।

College Professor Se Chudi

मैंने भी अपना लंड मैडम के चुत के छेद पर लगाया और कमर को पकड़ कर जोर का धक्का मारा मेरा पूरा लंड अंदर तो घुस गया लेकिन मैडम को बहुत दर्द हुआ। शायद 6 साल से ना चुदने कि वजह से ये दर्द हुआ था।

 

फिर मैं चोदने लगा और मैडम भी कमर को पीछे कर करके चुदवाने लगी। और चिल्लाने लगी आहहहहहहहहहहहहहहह…….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह …… सस्सीईईईईईईईईई ….सस्सीईईईईईईईईई…. आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… ओहहहहहहहहहहहहहहहहह….. सस्सीईईईईईईईईई… आहहहहहहहहहहहहहहह

चोदो रिंकू चोदो अपनी मैडम को। फाड़ दो अपनी टीचर की चूऊऊऊऊऊतत्त्तत्त्त्तत। निकाल दो सारा रस अपनी टीचर की चूत की।  ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…… आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… ओहहहहहहहहहहहहहहहहह….. सस्सीईईईईईईईईई… आहहहहहहहहहहहहहहहहहहहहहहह हहहहहहह हाँ रिंकू आई लाइक दिस माय किंग। फ़क मी हार्ड माय सन फक मी हार्ड। ooooohhhhhhhh fuck baby LOVE YOU  Rinkuuuuu I love you……Oh yes baby……… fuckkkkk babyyyyy…fuckkkkkk…… Fuckkk myyy pusssyyyyyy. Oh yeah baby.. You are my king Honey you are sooooooo hooooottttttttttttt. Really really so sexy my heartbeat. Fuckkkk me hard my jaannn fuck me ……. Fuckkkkk rani fuckkkkkk you are so sexy baby…… You are so hooootttttt

 

चोदो। मुझे मैं प्यासी हूँ मेरी चूत तुम्हारे लंड खाने को कबसे बेताब था। मेरी चुतत्तत्त्तत्त्त बहुत पयासी है। 6 साल से मेरी चुत में सिर्फ उंगली गई है। लन्द के लिए तरस गई है मेरी चुत आहहहहहहहहहहहहहहह…….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह …… सस्सीईईईईईईईईई ….सस्सीईईईईईईईईई…. आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह…….. सस्सीईईईईईईईईई… आज मै पूरा  निगल लुंगी इसे। वर्षों बाद आज तुमने मुझे जिंदगी का सच्ची चुदाई का एहसास दिलाया। चोदो…… चोदो जान।……  चोदोदोड़ोदूऊऊऊऊऊ…। चोदो……. इस रंडी प्रोफेसर को । फाड़ डालो इस वेश्या के चूत को।

 

चोदो मेरे राजा……..। चोदो…..। चोदो जोर से……। फाड़ दो मेरी प्यासी चूत।……. सालों से मेरी चूत प्यासी है। आहहहहहहहहहहहहहह…………. मेरे राजा चोदो जोर से। मेरी जवानी में मेरे पति ने भी ऐसी जोरदार चुदाई नहीं किया। ………आज तुम मुझे चुदाई का असली एहसास दिलाए। …..आज मैं असली मर्द के लंड से चुद रही हूँ। आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह …………आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह ……………..आहहहहहहहहहहहहहहह………आहहहहहहहहहहहहहहहहह……..आहहहहहहहहहहहहहहह आहहहहहहहहहहहहहहहहह………  तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है ……. मेरी बच्चेदानी में ठोकर मार रहा है……- आह्हहहहहहहहहहहहहहह….…. … तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिले? आह्हहहहहहहहहहहहहहहहहह … तुम कितनी सेक्सी हो जान … तुम आहहहहहहहहहहहहहहहहहहहह….बेबीहहहहहहहह…. आहहहहहहहहहहहहहहहहहहहह….बेबीहहहहहहहह

हम्मममममममममम .. हममममममममम्म … आहहहहहहहहहहहहहहहह… चोदो रिंकू चोदो…..बहुत दिनों बाद मैं ऐसा लंड खा रही हूं।…… तुम्हारा लंड घोड़े जैसा मोटा और तगड़ा है। मेरी चूत को तुम्हारा लंड फाड़ दिया। आहआहहहहहहहहहहहहहहहह…बेबी। चोदो जान………. चोदो जोर से।……… muuuaaaahhhhhhhhhhh ओह्हहहहहहहहह…. याहहहहहहहहहहहहहहहह…. जान चोदो मुझे।….. फ़क मी रिंकू फ़क मी। ……..हार्ड फ़क रिंकू।……… और जोर से चोदो।…… पूरा लंड अंदर घुसाओं। …….मारो जोर से…….  चोदो मेरे शेर चोदो…..

बेबी बहुत मजा आ रहा है चोदो जोर जोर से मेरी जान…..I LOVE YOU Rinkuuuuu…..I love you……Oh yes baby……… fuck baby …fuck……. You are my queen Honey you are sooooooo hooooottttttttttttt…….. Fuckkkkk raja fuckkkkkk ……you are so sexy baby…… You are so hooootttttt…..

 

करीब चुदाई करते 40 मिनट हो चुका था अब मैं झड़ने वाला था। तो मैंने कहा अर्चना मैं झड़ने वाला हूँ तो वो बोली मैं चुत में तुम्हारा लंड का पानी लेना चाहती हूँ अपना लन्द निकालो और फिर वो झट से लेट गयी और मुझे अपने ऊपर खींच के यपने पैरों को फैला के ऊपर की और मेरा लंड पकड़ के चुत पर लगा दी। और अपने पैरों से कसकर मेरे कमर को दबाने लगी। मैं 3, 4 झटकों में ही झड़ने लगा। और सारा वीर्य अर्चना के चुत में उड़ेल दिया। और उसके ऊपर फैल गया। वो मुझे कस के जकड़ ली। और पैरों से भी जकड़े रही। मुझे हटने नही दे रही थी। बोली अभी ऐसे ही मेरे ऊपर पड़े रहो पूरा वीर्य मेरे बच्चेदानी में जाने दो। इस चुदाई के दौरान वो 7 बार झड़ चुकी थी।

 

 

करीब 15 मिनट तक ऐसे ही पड़े रहे वो मुझे लगातार किस किए जा रही थी और आई लव यू बोल रही थी। 15 मिनट तक चुत की गर्मी पाकर मेरा लंड अर्चना मैडम के चुत में ही फिर से खड़ा हो गया।

 

लेकिन अब मैं उनकी चुत नहीं चोदना चाहता था। बल्कि चोदते समय उनकी गोल बन्द गांड पर मेरी जर्नपड चुकी थी।

 

तो दोस्तों कैसे मैं अर्चना मैडम के गांड का सील तोड़ा अगले भाग में बताऊंगा।

 

आप सब कमेंट करके जरूर बताना की ये मेरी प्रोफेसर के साथ चुदाई की कहानी कैसी लगी।

 

नोट- इस कहानी में सभी नाम काल्पनिक हैं।

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *