बिछड़े प्यार की चुदाई भरी रात

 192 

भाई के दोस्त से पाई चरमसुख- बिछड़े प्यार की चुदाई भरी रात

नमस्कार दोस्तों, https://nightqueenstories.com के सभी पाठको को मेरा सादर नमस्कार। दोस्तों मैं इस साइट पर नया हूँ। लेकिन आधे से ज्यादा कहानियां पढ़ चुकी हूँ। और मैं दीवानी बन गई ईस साइट की, हरेक कहानी अपने आप मे उदाहरण है। तो दोस्तों कहानियां पढ़कर मुझे भी प्रेरणा मिला और आज मैं एक सच्ची घटना आपसब के समक्ष रख रही हूँ जो मेरी अपनी आपबीती है। यह कहानी मेरी और मेरे भाई के दोस्त की है जिसका नाम अधीर रंजन है। जो मुझे चोदा और मेरी चुत को तृप्त कर दिया।

दोस्तों मेरा नाम रानी है। और मैं बंगाल की मालदा की रहने वाली हूँ। यह कहानी 2 दिन पहले की है। मतलब उस चुदाई की खुशबू अभी मेरी चुत से गई भी नही है और मैं उस घटना को आपके समक्ष लेकर आ गयी। ताकि आपसब को भी मेरी चुत की खुशबू मिल सके। और हां अगर मुझे आपसब चोदना चाहते हो तो कमेंट करना मैं नम्बर सेंड करूँगी।

तो दोस्तों मेरी उम्र 25 साल है। मेरी शादी 15 दिन पहले हुई थी। मेरा हस्बैंड बहुत सेक्सी है वह रोज मुझे 4, 5 बार चोदता है। वह हमेशा मुझे चोदने का ही फिराक में रहता है। शादी को अभी मात्र 15 दिन ही हुए हैं। तो आप सब के दिमाग मे आ रहा होगा की शादी के 15 दिन में ही मैं गैर मर्द से चुदवा ली। दोस्तों मैं छिनार नही हूँ। लेकिन दोस्तों मेरा पति भले मुझे रात दिन चोद रहा था लेकिन जो तृप्ति मुझे भाई के दोस्त से मिली वो पिछले 15 दिन के हस्बैंड के चुदाई में नही मिला। बस यही फर्क है। उस एक चुदाई ने मेरी पूरी जिंदगी ही बदल दी है। चुदाई का असली सुख मैने जाना। वरना पति के चुदाई को ही मैं चुदाई का सुख मानती थी। जबकि मैं उसके चुदाई से 1 बार भी चरमसुख हासिल नही की थी। क्योंकि तब तक मैं जान ही नही पाई थी कि चरमसुख क्या होता है।

मैं भाई के दोस्त से प्यार कर बैठी लेकिन कह नही पाई लेकिन शादी के बाद वही प्यार मेरी चुत की आग बुझाया

तो हुआ ये की अधीर बहुत हैंडसम हैं वह मेरे भईया के परम मित्र हैं। और अक्सर मेरे घर आते थे। वह बहुत अच्छे थे। और मुझे बहुत पसंद थे। मैं मन ही मन उनसे प्यार करती थी लेकिन चुकी वो भईया के दोस्त थे तो मैं बोल नही पाई। और मेरी शादी हो गई। मैं ससुराल चली आई। ससुराल से वापस विदाई करवाने भईया और अधीर ही आए। और 15 दिन मैं ससुराल रही। मेरे हस्बैंड सरकारी नौकरी करते हैं। और उन्हें शादी में बहुत ज्यादा दिन की छुट्टी मिली नही थी। और ना ही ससुर जी को ज्यादा छुट्टी मिली थी। मेरे ससुर जी भी एक सरकारी अधिकारी हैं और वह कानपुर में रहते हैं तो शादी के 3,4 दिन बाद ही सास और ससुर कानपुर चले गए। तो घर मे सिर्फ मैं और मेरे हस्बैंड ही थे। मेरे भईया शराब भी पीते हैं। और मेरे हस्बैंड भी पीते हैं। वो लोग तीनो दिन में घूमने चले गए। और शाम को घर आए। मैं किचन में पकोड़े तल रही थी और वो तीनो पी रहे थे। भईया और मेरे हसबैंड तो शराब पी रहे थे लेकिन अधीर बियर पी रहा था। वह शराब नही पिता है तो वह बियर पीकर किनारे हो लिया लेकिन मेरे हस्बैंड और भईया इतना शराब पिये की वो दोनो उठ भी नही पा रहे थे। गर्मी का दिन था और छ्त पर शराब का ऐसा दौर चला कि दोनों बेहोश हो गए। मुझे भईया पर बहुत गुस्सा आ रहा था। क्योंकि वो लोग इतना पी लिए की अब खाना भी नही खा रहे थे और वही छ्त पर लुढ़क गए। मैं ये सोच सोच के भईया पर गुस्सा हो रही थी कि उनकी वजह से आज मुझे अकेले सोना पड़ेगा और मेरी चुदाई भी नही हो पाएगी और मैं कल इन लोगो के साथ घर चली जाऊंगी। मुझे बहुत गुस्सा आ रहा था। मैं परेशान हो गई।

अधीर शराब नही पिया था वह बियर पिया था वो भी सिर्फ 1 ग्लास तो उसे नशा बिल्कुल भी नही हुआ था। तो अब हमदोंनो जगे हुए थे तो हमदोंनो साथ बैठ कर छत पर ही बात करने लगे। मैं तो इंतजार कर रही थी कि शायद इनका नशा टूटे तो मैं नीचे सोने चलने बोलूं। लेकिन वो दोनो मानो बेहोश थे। मैं और अधीर बातें कर रहे थे और 12 बज गया।

लेकिन अधीर से बात करते करते मेरे अंदर का वही प्यार जग गया। मेरा मन किया कि मैं एक बार उससे कहा दूँ लेकिन फिर सोची अब देर हो चुकी है। लेकिन मेरा प्यार अब बार बार मुझे याद आ रहा था। और ये बात मैं सहेली से बताई थी और उसने कहा था की तू अपने घरवालों से बात कर और अधिर को भी बता लेकिन मेरी हिम्मत नही हुई। और सब मिट्टी पलीद हो गया।

लेकिन आज अकेला पाकर मेरा मन उसी प्यार में भाव विभोर होने लगा। तभी अधीर बोले कि रानी एक बात मैं तुमसे कहूँ तो मैं बोली कहिए क्या बात है। तो वह बोला की देखो तुम्हारी शादी तो अब हो गई है। और शायद ये बात अब कहना गलत होगा। लेकिन आज मेरा मन कर रहा की सच्चाई तुमसे बता दूं। मेरा तो दिल जोरो से धकड़ने लगा ये सुनकर की क्या अधीर भी मुझसे प्यार करते थे और मुझसे कह नही पाए।

फिर मैं बोली बोलिये क्या कहना चाहते हैं तो वह बोले कि रानी मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ। लेकिन चुकी तुम मेरे दोस्त की बहन थी इसलिए मैं कभी कह नही पाया। इतना सुनते ही मानो मेरी छाती फट गई। और कुछ देर तक तो मैं निश्चल हो गई। तो अधीर मुझे झकझोरे और बोले रानी क्या हुआ तुम मेरी बात सुनी भी या नही तो मैं उनके गले से चिपक गई और रोने लगी। तो वह घबरा कर बोले क्या बात है क्या हुआ क्यों रो रही। तो मैं बोली की अधीर मैं भी आपसे बेपनाह मोहब्बत करती हूं लेकिन मैं इसी कारण नही बोल पाई की आप मेरे भईया के दोस्त हैं। ये क्या हो गया हमदोंनो ने प्यार खो दिया। और दोनो ही एक दूसरे के गले लगकर रोने लगे। कुछ देर बाद शांत हुए। तो अब मेरे मन मे अधीर के प्रति बेपनाह मोहब्बत जाग चुकी थी। और फैसला कर ली की चाहे जो हो आज मैं अपने प्यार के बाँहो में ही रात बिताउंगी। शायद भगवान भी यही चाहता है इसीलिए मेरे हस्बैंड को पिलाकर बेहोश कर दिया। मैं देखी उनदोनों के तरफ तो एहसास हुआ कि ये सुबह से पहले नही जगने वाले।

और मैं अधिर का हाथ पकड़ी और बोली चलिए हम नीचे चलते हैं।

मैं दुल्हन की तरह शादी के जोड़े में बैठी थी अधीर आए और मेरी घूंघट उठाकर मेरे होंठो को चूसने लगे

मैं अधीर का हाथ पकड़ी और नीचे आ गई उन्हें हॉल में बैठाई। और बोली जब मैं आवाज दूँगी तो आप आना। उसके बाद मैं शादी का वही जोड़ा पहनी जो सुहागरात को पहनी हुई थी। फिर मैं अधीर को आवाज दी वो आये तो मुझे दुल्हन की तरह घूंघट में पाकर खिल उठे। अधीर मेरा घुंघट उठाया तो मैं उसके सीने से लग गई फिर वह मेरे होंठो पर अपना होंठ रख दिया। और किस करने लगे। और हमदोंनो एक दूसरे को आई लव यू बोले। और अधीर मेरे होठ चूसते चूसते मेरी चूचियों को दबाने लगा। फिर मैं ऊपर से हुक खोलने लगी ब्लाउज का और उन्होंने ब्लाउज निकाल दिया और साडी पेटीकोट सब निकाल दिया। अब मैं ब्रा और पेंटी में थी। वो मेरे शारीर के हरेक हिस्से को चूमने लगा फिर वो मेरा ब्रा उतार दिया और मेरी चूचियों को देखते हुए बोला क्या कड़क चूची है, और तुरंत मुंह में ले लिया। मेरी चूची बड़ी बड़ी थी ऊपर से निप्पल पिंक कलर का वो मेरी चूचियों से खेलने लगा मुँह में लेकर पीने और दबाने लगा। 10 मिनट तक वह मेरी चुचियों को पिया। और फिर अपना जीभ मेरे नेवल में डालने लगा मेरे शरीर मे सनसनी दौड़ गई। और साँसे तेज होने लगी फिर वो मेरी पेंटी उतार दिया और निचे जाकर बैठ गया और फिर मेरे चूत को ध्यान से देखने लगा।

मैं लेट गई और बियर की बोतल चुत में फंसाकर बियर उड़ेल दी। कुछ बियर मेरी चुत में गई और कुछ बाहर गिर गई। और बोली अब चाटो मेरी चुत।

तो मैं बोली पड़ी, क्या देख रहे हो, तो उसने कहा जिसपर मेरा अधिकार था उसको कोई और चोद रहा है। तो मैं बोली आज जो मर्जी है कर लो। आज यह तुम्हारी है, चोद लो जितना चोदना है जैसे चोदना है वैसे चोद लो। आज मैं तुम्हारी हु फिर अधीर मेरी चूत को चाटने लगा मैं सिहर गई। और तकिए को जोर से अपने मुठी में पकड़ के भींच ली। मेरा रोम रोम खिल रहा था यह सनसनी पहली बार हुआ था। जिस तरह अधीर चुत चाट रहा था वैसे मेरे हस्बैंड भी नही चाटते हैं। तभी मैं बोली रुको और बोली तुम यही रुको मैं आती हूँ। और मैं नंगे ही छत पर जाने लगी ऊपर जाकर देखी तो दोनो बेसुध पड़े थे। तो मैं धीरे धीरे गई। और बियर की बोतल उठाई जिसमे आधा बियर पड़ा हुआ था। चांदनी रात में मैं अपनी नंगी बदन को देखी मेरी दूधिया बदन चमक रहा था। फिर मैं धीरे से नीचे आयी और आकर अधीर को बोली अधीर तुम बियर पीते हो ना और मैं लेट गई और बियर की बोतल चुत में फंसाकर बियर उड़ेल दी। कुछ बियर मेरी चुत में गई और कुछ बाहर गिर गई। और बोली अब चाटो मेरी चुत। अधीर मेरी चुत चाटने लगा।

अधीर का लंड चुत में घुसते ही मेरी चीख निकल गई। क्योंकि उसका लंड मेरे हस्बैंड के लन्ड से बहुत बड़ा था

उसने कहा आज तक ऐसा स्वाद नहीं मिला है, चुत का रस और बियर का मिश्रण बहुत मजेदार है। मैं तो पागल हो गई थी मैं उसके बाल को पकड़ी और उसके सर को अपने चूत के ऊपर रखकर रगड़ने लगी फिर मैं उसके लण्ड को पकड़ कर अपने चूचियों के बिच में रख दी और वो फिर वही धक्का लगाने लगा, फिर वो अपने लण्ड को मेरे मुंह में डाल दिया और फिर मैं चूसने लगी मैं काफी गर्म जो चुकी थी।

चूचियों के निप्पल कड़क हो गए थे। फिर अधीर मेरे चूत के ऊपर अपना लण्ड रखा और जोर से धक्का मारा, मैं चीख गई क्यों की अधीर का लण्ड मेरे पति के लण्ड से बहुत बड़ा था वो अंदर बाहर करने लगा और जोर जोर से हुमच हुमच के चोदने लगा। वह मेरे और चुचियों को भी दबाने लगा और झटके पे झटके दे रहा था। फिर वो मेरे कांख में नाक लगा के सूंघा और फिर चाटने लगा। उसकी इस हरकत ने मुझे और सेक्सी बना दिया और वह भी और ज्यादा सेक्सी हो गया। मैं

बोलने लगी https://nightqueenstories.com

ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. जानू मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह… तू तो सच्चा मर्द निकला मेरे शेर….. चोदो जान…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… मेरे सोना कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बेबी मेरी जान चोदो…………तुम्हारा लंड मेरे चुत से होते हुए अंदर मेरी गांड तक जा रहा है.. बहुत बड़ा लंड है तुम्हारा… ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बाबू मेरी जान चोदो. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… सोना कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. बाबू मेरी बेबी चोदो। आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… अंदर तक धक्का मार रहा है…… अब वह और भी जोर जोर से चोदने लगा, मैं भी उसको कभी बाल सहलाती कभी बाहों में भर लेती, कभी चूमती और गांड उठा उठा के चुदवाने लगती मैं तो कई बार झड़ चुकी थी लेकिन इत्तेफ़ाक़ से जब वो झड रहा था तो साथ मे मैं फिर से एक बार झड़ गई। उसका सारा माल मेरे चूत में ही डाल दिया। उस रात अधीर मुझे 3 बार चोदा फिर अचानक मेरी ध्यान गई तो देखी 4 बज चुके थे।

फिर अधीर भी छत पर जाकर सो गया। और मैं दूसरे दिन घर आ गई। और अब मैं अधीर से रोज चुदती हूँ। यहां तक कि उससे मैं गांड़ भी मरवा ली।

तो दोस्तों बिछड़े प्यार की चुदाई कैसी लगी बताना जरूर।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “किराएदार बना मालकिन के चुत का राजा

तो आप सब अपना ख्याल रखिएगा।

धन्यवाद।

 

100% LikesVS
0% Dislikes

2 thoughts on “बिछड़े प्यार की चुदाई भरी रात

  1. My whataap no (7266864843) jo housewife aunty bhabhi mom girl divorced lady widhwa akeli tanha hai ya kisi ke pati bahar rehete hai wo sex or piyar ki payasi haior wo secret phon sex yareal sex ya masti karna chahti hai .sex time 35min se 40 min hai.whataap no (7266864843)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *