58 साल की मैडम का चुत फाड़ डाला।

हेलो दोस्तों मैं आदि हूँ एक कॉल बॉय। लेकिन मैं वो कॉल बॉय नहीं हूं जिसे सिर्फ घंटे 2 घंटे के लिए वासना को शांत करने के लिए बुलाया गया और फिर भुला दिया गया

 

 

बल्कि एक तरह से कहिए तो मैं इमोशनल कॉल बॉय हूँ। और वो सारी सुख देता हूँ जो एक अकेली और  दुखी औरत को चाहिए होता है। दरअसल मैं महीने महीने 6 महीने या उससे भी ज्यादा दिन के लिए किराए का पति या पार्टनर बन के रहता हूँ। मैं वो सारी खुशियां देता हूँ जो एक पति और पार्टनर से मिलता है।।

 

तो चलिए चलते हैं कहानी की ओर।

 

यह कहानी है एक 58 साल की अकेली विधवा अमीर औरत की। जिसकी हवस की आग बुझाने और और उसे इमोशनली खुश करने का है।

 

 

25 जनवरी। हाँ 25 जनवरी का दिन था. सुबह के 8 बजे मैं उठा और अपना लैपटॉप खोला और ईमेल चेक किया। एक मेल था। ईमेल करने वाली एक 58 साल की विधवा अमीर औरत का था. मैंने उनके ईमेल पर रिप्लाई किया और अपना नंबर ड्राप किया।

 

थोड़ी देर बाद मुझे एक कॉल आया और उन्होंने मुझे बताया कि वो मुझे 15 दिन के लिए हायर करना चाहती हैं और अगर काम पसन्द आया तो अगले 6 महीने के लिए एक्सटेंड करेंगे और पूरा पेमेंट एडवांस देंगे।

 

 

पूरी डिटेल्स कैसे कहां आना है। कब आना है सबकुछ जानने के बाद मुझे वो फिर से ईमेल की और एक मेसेज के साथ अपना कुछ फोटोज भेजी।

 

मैं अगले दिन उनके बताए हुए एड्रेस पर पहुंच गया. वो अपनी शानदार मर्सडीज गाड़ी में मुझे पिक करके अपने फार्म हाउस पर ले गईं. उन्होंने गाड़ी में ही बताया था कि मैं नौकरानी को 15 दिन की छुट्टी पर भेज दी हूँ।

 

कुछ ही देर बाद कार फार्म हाउस में थी। क्या शानदार फार्महाउस था। अमीरों के अय्याशी के अड्डे बहुत खूबसूरत होते हैं।

 

गाड़ी पार्क करने के बाद वो मुझे अपने साथ आने को बोली मैं पीछे पिछे चल पड़ा। घर लॉक थ। वो जब वहाँ पहुँची तो शीशे के दरवाजा ऑटोमैटिक खुल गया। मैं हैरान रह गया।

 

अंदर घुसते ही वो मुझसे लिपट गई और मेरे होंठो की जाम पीने लगी। मैं भी उनका साथ देने लगा. उनके होंठों पर किस करते हुए मैं उनको अपनी बांहों में दबोच लिया। वह 58 साल की जरूर थी लेकिन देखने मे 45 से ज्यादा की नहीं लग रही थी। मेंटेन बॉडी। दूध से भी सफेद या कह ले कि अंग्रेज की तरह लाल थी।

 

करीब 5, 7 मिनट लंबा  किस करने के बाद उन्होंने मुझसे बोला- क्या लोगे कोल्ड और हॉट। मैंने बोला हॉट तो अगले 15 दिनों तक पीना है तो शुरुआत कोल्ड से करते हैं। वो कहने लगी वाओ क्या स्टाइल है तुम्हारे मैं बिल्कुल राइट पर्सन को चूज की हूँ। मुझे ऐसे ही जवाब की उम्मीद थी।

 

 

 

फिर वो किचन में चली गईं. मैं भी उनके साथ किचन में ही चला गया. मैडम बहुत सुंदर लग रही थीं. मैं उनके पीछे खड़ा होकर उनको बाहों में ले लिया और उनके चूतड़ों को दबाने लगा. वो फ्रीज में से कोल्ड कॉफ़ी निकाली और घूम गई। जैसे ही वो घूमी मैं अपना होठ उनके होंठो पर रख दिया। वो भी मजे लेने लगी। मैडम मस्ती में अपने मुँह से मस्त सिसकारियां निकालने लगी।

 

फिर वो बोली चलो पहले कॉफ़ी पीते हैं। वहीं हमने कॉफ़ी पी। कुछ बातें भी हुई। हम बेडरूम में आ गए वो बहुत ही हॉट थी। उम्र के हिसाब से वो बहुत फिट थी। 36 कि चुचियाँ और 40 की कसी हुई गांड इस उम्र में बहुत कम था।

 

फिर वो मुझे बाहों में ले ली और 2 मिनट तक गले लगी रही। फिर वो मुझे किस करने लगीं. मैं भी उनके चुचियों को सहलाते हुए किस करने में उनका साथ दे रहा था। हम दोनों एक दूसरे को बेतहाशा चूम रहे थे. किस करते हुए मैं उनके चुचियों को जोर से मसलने लगा. वो बहुत गर्म होती जा रही थीं।

 

मैं एक हाथ से उनकी चुचियाँ दबा रहा था और  दूसरा हाथ नीचे ले जाकर उनके स्टाइलिस्ट पायजामे में डाल दिया। वो तड़प गई। उनकी चूत पानी पानी हुआ पड़ा था इस उम्र में इतनी जल्दी चुदासी होना कोई मामूली बात नही था।  मैंने अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाली और चूची को जोर से दबाते हुए उन्हें किस करे जा रहा था.

 

वो पूरी जोश में आ चुकी थी  और बेकाबू हो चली थी। मैं समझ गया वो अब बिना चुदे रुकने वाली नही है। मैं उनकी पायजामे को जो इलास्टिक वाला थ। नीचे सरका दिया। और उनके ऊपर के गाउन को बाहर निकाला। वो मेरे बेल्ट को खोली और जीन्स के अंदर हाथ डाल दी। मेरा लंड फनफना राह था। अब वो सहलाने लगी हम दोनों ही अब बहुत गर्म होते जा रहे थे. वो ब्लू ब्रा और पैंटी में बहुत खूबसूरत लग रही थीं.

 

हम दोनों लगातार एक दूसरे को किस करते हुए जिस्म से खेल रहे थे. धीरे-धीरे हम दोनों ने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिए. अब तक हम बिल्कुल नंगे हो चुके थे. मैं उनको गोद मे उठाया और बिस्तर पर ले आया उन्हें चित लिटाया और मैं थोड़ा सा और किनारे उनको खींचा। वो खुद दोनों पैरों को फैला के मुझे चुत चाटने का निमंत्रण दी। मैंने भी बिन देर किए उनकी चूत को चाटने लगा.

 

वो मेरे बालों में हाथ डालकर सर को दबाते हुए अपनी चूत को उठा कर चुसवाने लगी। और लगातार कामुक सिसकारियां भर रही थीं ‘आहहहहहहहहहहहहह आहहहहहहहहहहहहहहहह कर रही थी… चाटो मेरी चूत को … उम्ममममममममम।मममममममम ऊऊम्म्म्म्ममम्ममम्ममम्म… बहुत मजा आ रहा है। चाटो अपना जीभ मेरे क्लाइट पर जोर से रगड़ो। मेरे चुत के दाने को पकड़ मर खींचो अपने होंठों से। मैंने भी बिना देर किए उनके चुत के दाने को अपने होंठो में फंसाया और ऊपर की ओर खींचने लगा। वो किसी रबर की तरह काफी उपर तक खींच गया। वो बिल्कुल गुलाबी था। ऐसे ही वो मादकता से लबरेज सिसकारियां निकाल रही थीं। आह हहहहहहहhhhjjhhhhhh aaahhhhhhhhh कर रही थी।

 

मैं उनकी चूत को चाटते हुए उनकी चूत में 3 उंगलियां डालकर अन्दर बाहर करने लगा।  वो बहुत ही ज्यादा चुदासी हो चुकी थी।

 

थोड़ी देर बाद मैं अपनी उंगलियों को तेजी से अन्दर बाहर करने लगा और फिर उनकी चुत पानी छोड़ दिया और मैं उनकी चूत का सारा चुतरस पी गया. उनकी चूत का रस स्वाद में थोड़ा ज्यादा ही नमकीन था, लेकिन मुझे बहुत अच्छा लगा। मैं चाटकर पूरा चुत साफ किया।

 

वो बोली मजा आ गया। मैंने तुमको चुनकर बिल्कुल सही किया है। अब तुम अगले कई दिनों तक मेरी चुत की प्यास बुझाओगे। आंहहहहहहहहहहहहहहहह… मजा आ गया … तुम बहुत मजा दिए।

 

अब वो मुझे खींच कर लेटा दी और वो उठ कर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी । वो एक रंडी की तरह लंड चूस रही थीं. मुझे भी मैडम से लंड चुसवाने में बहुत मजा आ रहा था. उनको लंड चुसवाते हुए ही मैंने उनका सर पकड़ा और गांड उठा उठा कर उनके मुँह को चोदने लगा. मैडम गों गों करने लगी।

 

थोड़ी देर उनके मुँह को चोदने के बाद वो 69 की पोजिशन में आ गए। कुछ देर ऐसे ही हमदोनो एक दूसरे का चूसते रहे। फिर वो बोली कि चलो अब मेरी गर्म प्यासी चुत की जवालामुखी शांत करो। और वो लेट गयी।

 

 

उनका चुत पूरा खुल गया और अंदर का लाल हिस्सा दिखने लगा। मैं भी एक गुलाम की तरह उनकी आज्ञा का पालन करते हुए अपना लंड उनकी चूत में घुसेड़ दिया. मैं लंड को अन्दर बाहर करते हुए उनके चुचियों को भी दबाने लगा।

 

वो लगातार चुदास से भरी सिसकारियां ले रही थीं- आंहहहहहहहहहहहहहहहह ऐसे ही चोदो … उफ़फ़फ़फ़फ़फ़फ़ बहुत मजा आ रहा है पूरा जोर लगाके अंदर तक चोदो। अपना समूचा लण्ड मेरी चुत में जाने दो। और अन्दर तक लण्ड ठेल कर  चोदो मुझे।

 

मैं लगातार लंड को अन्दर बाहर करते हुए उस बूढ़ी लेकिन जवान औरत की चुदाई में लगा था। चुत को लंड का खुराक देते हुए मैं मैडम के चूतड़ों को भी दबा रहा था।  बीच-बीच में मैं अपना लंड चुत से बाहर निकाल कर उनको चुत पर रगड़ने लगता। और जोर जोर से लण्ड को उनकी चुत पर पटकने लगता।  तब उनको और ज्यादा मजा आता।

 

ऐसे ही हम लोग लगातार काफी देर तक चुदाई करते रहे और तब तक वो 3 बार झड़ चुकी थी। और जब मैं भी झड़ने वाला था।

 

तो मैंने उनसे पूछा- मैडम मेरा लंड पानी छोड़ने वाला है … बताओ अपने लंड के माल को कहां डालूं? तो उन्होंने कहा कि मैं बहुत दिन से किसी लन्ड के पानी नहीं पी।  तुम मेरे मुँह में अपना लंड का सारा वीर्य डाल दो. मैं इसे पीना चाहती हूं।

 

मैंने लंड उनकी चूत से निकालकर उनके मुँह में डाल दिया और उनके बालों को पकड़कर उनके मुँह को चोदने लगा। करीब 15, 20 धक्कों के बाद मेरे शरीर अकड़ने लगा और और मैं ऐंठते हुए उनके मुँह को चोदते हुए उनके मुँह में झड़ गया। वो सच मे बहुत प्यासी थी मेरे लंड का सारा रस पी गईं।

 

अब हम दोनों थोड़े थक गए थे। वो ज्यादा थक गई थी और मुझे अपनी बाहों में कसकर पकड़ी और और बोली तुम बहुत अच्छे हो। मजा आ गया। फिर वो सिगरेट निकालकर जलाईं और एकं कस लेने के बाद मेरे मुंह मे दी मैं भी सिगरेट का कस खींचा।

 

यह कहानी का शुरुआती भाग है। मुझे कॉमेंट कर बताना कैसा लगा। इसका अगला पार्ट जल्द ही लेकर हाजिर होऊंगा। और उनका नंगी बताऊंगा साथ ही की कैसे मैं उनकी गांड मारी, कैसे झूला झूलते हुए चोदा, कैसे मैं उनकी गांड चुत एक साथ चोदा, कैसे मैं उनको अपना पेशाब पिलाया। कैसे मैं उनको बेड पर बांध के चोदा। कैसे वो मुझे बेड में बांध के चोदी। और भी बहुत कुछ।

 

Tag : Garam kahani

Hindi sex kahani

Jigolo

Kamsin jawani

धधकती चुत

रसदार चुत

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *