ज़बरदस्त चुदाई in बादशाहपुर

जब चुत गरम हो जाती है तो चुदाई के अलावा कुछ और नहीं सूझता|

 

उफ़ आ आ! बहुत माज़ा आ रहा है, आपका लंड काफी अंदर तक गया है। इतनी गहरी चुदाई अब तक किसी ने नहीं की हमारी सुमित सर। मुनमुन की चूत पानी-पानी हो चुकी थी, सुमित के मोठे लंड की चुदाई से। मुनमुन office bench पर लेटी हुई थी, अपनी टंगे फैलाए और सुमित उसके मम्मो को दबादबा कर उसकी जमकर चुदाई कर रहा था। छे फुट लम्बे सुमित का लंड 7 इंच लम्बा था।

 

लेकिन ये इस कहानी की शुरवात नहीं है।

प्रोफेसर के साथ चुदाई

ये कहानी है मुनमुन की जो जिस्मानी रूप से बहुत खास खूबसूरत थी। मुनमुन बंगाल से थी, उसका रंग काफी ज़यादा सावला था लेकिन उसकी खूबसूरती गज़ब की थी, तीखे नाक-नक्श और उभरे हुए स्तन की वजा से लोगों की नज़र मुनमुन को काफी जल्दी गिरफ्तार कर लेती थी। मुनमुन के होठो पर एक टिल था, जो उसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा देता था। उसकी त्वचा काफी मुलायम थी और झंगे इतनी ज़यादा चिकनी, की जब मुनमुन mini skirt पहनती थी तो उसकी झंगो को देखने वालो के लंड हर हाल में खड़े होजाता थे।

 

अगर मुनमुन के फिगर की बात की जाये तो, 36-28-36 कमाल के आकड़े थे। अपनी गांड को काफी ज़यादा मटकाकर चलती थी मुनमुन, वैसे उससे इस बात का काफी गुरुर था कि लोंडो की नज़र हमेशा उस पर होती थी।

 

मुनमुन का काफी सालो से गाँव में एक boyfriend था लेकिन अब बादशाहपुर आकर उसकी नियत उसका साथ नहीं दे रही थी। तकरीबन एक महीना अब पूरा होने वाला था इस नए शहर में। फ़िलहाल कुछ खास हुआ नहीं था बस नज़रो का खेल ही जारी था और मुनमुन को भी शायद मोके की तलाश थी अपनी चुदाई करवाने के लिए।

 

मुनमुन के office में एक लड़का था, तेजस, बड़ा हरामी था ये लोंदा। उसने अपने office के दोस्तों से शर्त लगाई थी की मुनमुन को सबसे पहले वही चोदेगा और वह भी ऑफिस के washroom में। अभी तक मुनमुन ने उससे कुछ खास घास नहीं डाली थी, इसीलिए तेजस ने एक plan बनाया।

 

उसने मुनमुन के boss से कहा, ” सर आपकी team में मुनमुन जो है, वह हमारे department में cross training करने के लिए ideal candidate है। आप अगर उसका नाम आगे करदे तो हमारी काफी ज़्यादा मदत होजायेगी और आने वाले promotions में इस बात का काफी अच्छा आसर आपकी file पर भी पड़ेगा, आप मेरी मानो और कुछ दिनों के लिए उससे हमारे वहा भिजवादो।

 

मुनमुन का boss काफी सीधा सादा इंसान था, उससे अपनी बीवी के आलावा किसी भी और लड़की या औरत में दिलचस्पी नहीं थी। मुनमुन को वह काफी अच्छा लगता था लेकिन उसने अब तक मुनमुन को कभी उस नज़र से नहीं देखा था।

 

अगले दिन अपने cabin में बुलाकर boss ने मुनमुन से कहा, ” तुम्हे कुछ दिनों के लिए marketing department में training करनी होगी, मेने तुम्हारे transfer papers sign करदिये है, तुम आज जाकर तेजस को report करो। ये बात सुनकर मुनमुन का चेहरा काफी उतर-सा गया और boss से बात करके उसने कोशिश की-की ऐसा ना हो, लेकिन boss ने मुनमुन की बात नहीं मानी। मुनमुन को marketing department में जाना पड़ा, जहा तेजस बेसब्री से उसका इंतज़ार कर रहा था।

 

उस दिन मुनमुन ने काफी tight top पहना हुआ था, जो उसके स्तन के उभारो को काफी अच्छे तरीके से दिखा रहा था। मुनमुन तेजस के पास गई और उसे कहा, “मुझे boss ने भेजा है, ये कहकर की में आपको report करू।”

 

 

 

तेजस की भूखी आखे मुनमुन को ऊपर से नीचे ताक रही थी, जिससे मुनमुन को गुस्सा आ रहा था। उसने तेजस से कहा, “क्या आप मेरी शकल की तरफ देख कर बताएँगे की मुझे करना क्या है।”

 

“मुस्कुराते हुऐ तेजस ने जवाब दिया,” आपको फ़िलहाल तो बस वहा मेरी बगल वाली seat पर जाकर बैठना है। में कुछ देर में वहा आता हु और फिर हम मिलकर काम करेंगे। ”

 

मुनमुन बताई गई जगह पर जाकर बैठ गई और तेजस जल्दी से उसके पास आगया, “तो मुनमुन हमलोगो को एक product की ad पर काम शुरू करना है, product bra है।”

 

” हम्म अच्छा, तो बताओ फिर मुझे क्या करना है।

 

“तुम्हे कुछ samples पेहेन कर देखने होंगे और उसके बाद तुम्हे जैसा feel होता है, वह तुम्हे मुझे बताना है ताकि में ad बनाने के idea पर एक presentation बना सकू।”

 

तेजस का चेहरा देख कर मुनमुन समझ गई थी की वह बस उससे चोदना चाहता था। इसीलिए मुनमुन ने तेजस से कहा, “देखो मुझे पता है कि ये सारा खेल तुमने बस इसीलिए खेला है क्युकी तुम्हे मेरी चूत में अपना लंड डालना है। वैसे तो तुम्हारी शकल मुझे पसंद नहीं है लेकिन पता नहीं क्यों मुझे ऐसा लगता है कि तुम्हारे पास एक लम्बा लंड है। मेने भी काफी दिनों से चुदवाया नहीं है, तो जो करना है वह जल्दी से करते है और फिर तुम अपनी राह और में अपनी राह।”

 

ये बात सुनकर तो तेजस की आखो में एक चमक आगई और उसने कहा, “ठीक है फिर, चलो, मुझे एक जगा का पता है जहा हम दोनों आराम से चुदाई कर सकते है।”

 

तेजस मुनमुन को अपने साथ लाया gents washroom में, जो locker में था और जहा लोगों का आना जाना कम था, वहाँ उसने पहले से ही एक camera लगा रखा था। दवाज़ा बंद करते ही पहले उसने अपनी trouser उतार दी, उसका खड़ा लंड उसकी under pant से बहार निकलने के लिए मचल रहा था, तेजस ने मुनमुन से कहा, “तो तुम तैयार हो मेरा लम्बा लंड देखने के लिए?”

 

मुनमुन की नज़र उसके लंड पर ही थी, उसने कहा, “चलो हटा दो अपनी under pant को अब और दर्शन करवादो अपने लंड का।”

 

मुनमुन की बात सुनकर तेजस काफी ज़्यादा horny हो चूका था, उसने अपनी under pant हटा दी और अपने लम्बे और काले लंड के दर्शन करवा दिए मुनमुन को, ऐसा ज़बरदस्त लंड देख कर मुनमुन की चूत गीली होने लगी और उसने अपने top और trouser को हटा दिया और नीचे झुक गई, मुनमुन ने बस अब bra और panty पहनी हुई थी, उसके मस्त खूबसूरत बढ़े-बढ़े boobs bra से बहार निकलने के लिए तड़प रहे थे। झुकी हुई मुनमुन के मुँह में तेजस ने अपना लंड दे दिया और वह तेजस के लंड को चूसने लगी।

 

अपने दोनों हातो से तेजस का बढ़ा लंड मुनमुन ने पकड़ा हुआ था और वह उस लंड को बढ़े मज़े से चूस रही थी। धीरे-धीरे वह उससे अपने मुँह में पूरा अंदर लेने की कोशिश कर रही थी, लेकिन इतना आसान नहीं था क्युकी उसका दम भी घुट रहा था। लेकिन एक दो बार मुनमुन ने पूरी कोशिश की तेजस के लंड को पूरा अंदर लेने की, जिसकी वजह से लंड पूरी तरह से मुनमुन की थूक से गिला हो चूका था। तेजस अपनी आखे बंद कर और मुनमुन के सर को अपने हाथो से पकड़, इस चुसाई (blow job) का पूरा मज़ा ले रहा था।

fucking boss

तेजस मुनमुन की चूचियों को दबाने लगा जिससे मुनमुन की आह निकल गई, “आ उफ़!”

 

तेजस, “माज़ा आ रहा है ना अब, कब से तुम्हे चोदने की आस लेकर बैठा हु, आज हाथ लगी हो। जम कर, कस कर चोदेंगे तुम्हे आज मुनमुन।”

 

तेजस ने मुनमुन की bra हटा दी और उसके बढ़े मम्मो को आज़ाद कर दिया, मुनमुन के मम्मे लटक रहे थे और जैसे वह तेजस के लंड की चुसाई कर रही थी, अपना सर आगे पीछे करते हुऐ उसके मम्मे भी हिल रहे थे। तेजस के लंड में मुनमुन को चोदने की आग लग चुकी थी अब। उसने मुनमुन को खड़ा करदिया और दरवाजे के सहारे उसकी पीठ को टिकाकर, मुनमुन की एक टांग अपने हाथ के सहारे ऊपर करदी।

 

तेजस मुनमुन की चूत पर अपने लम्बे लंड को सेहला रहा था और उसकी चूत के गीलेपन को अपने लंड से महसूस कर रहा था। मुनमुन से रहा नहीं जा रहा था, उसने तेजस को कहा, “साला कुत्ता, अब और मत तड़पाओ, जल्दी डालो लंड को चूत में।

 

तेजस ने धीरेधीरे अपना पूरा लंड मुनमुन की चूत में डालदिया। मुनमुन की चीखे निकलने लगी, “बाबा रे, !”

 

फिर तेजस का लंड अंदर बहार होते हुऐ, मुनमुन की गरम चूत के माज़े ले रहा था। तेजस ज़ोरज़ोर से मुनमुन को उसी तरह खड़ेखड़े चोदता रहा और जब झड़ने की बारी आई तो तेजस ने दोबारा उसे अपना लंड चूसने कहा। मुनमुन आखे बंद कर तेजस का लंड चुस्ती रही और लंड की मलाई को अपने जिस्म पर ले लिया।

 

तेजस, “ये तो मेरी ज़िन्दगी की सबसे अच्छी चुदाई थी मुनमुन।”

 

मुनमुन, “तुम्हारा लंड भी काफी मज़ेदार था। चलो अब इससे पहले की office के लोगों को किसी तरह का भी शक हो, हम दोबारा अपने काम में लग जाते है।”

 

मुनमुन तो अपने desk पर आकर बैठ गई लेकिन तेजस नहीं आया, कुछ वक़्त बीत जाने के बाद मुनमुन को लगा कुछ गड़बड़ है, क्युकी department के सभी लोग उसकी तरफ इशारा करके मुस्कुरा रहे थे। मुनमुन को शक हो गया था तेजस ने किस तरह की हरकत की थी, वह तेजस को ढूंढ़ने लगी और तब अचानक उसका boss सुमित उसके सामने आगया, सुमित ने मुनमुन को गुस्से में कहा, “in my cabin”

 

मुनमुन जब सुमित के cabin में गई तो तेजस भी वही था, तेजस की नज़रे झुकी हुई थी और सुमित के हाथो में उसका phone था जिसमे उनकी चुदाई की video चल रही थी, सुमित ने मुनमुन से पूछा, “क्या ये हरकत करने आप office आते हो?” इसको तो नौकरी से निकाल चूका हु में इस video को office में viral करने की वजा से, तुम्हारे साथ भी वही होगा। ”

 

इस बात को सुनते ही मुनमुन रोने लगी और अपनी नौकरी की भिक मांगने लगी सुमित से। तब सुमित ने तेजस को अपने cabin से जाने को कहा और जब वह और मुनमुन अकेले थे तब सुमित ने मुनमुन के साथ एक deal की।

 

“हम्म तो में ये समझ सकता हु की इस कमीने ने तुम्हे फसाया है और इस पूरे चकर से में तुम्हे बचा भी सकता हु, लेकिन उसके लिए तुम्हे मेरे लिए कुछ करना पड़ेगा।”

 

“आप जैसा कहोगे सर में वैसा करने के लिए तैयार हु।”

 

“Very good, वैसे मेने तुम्हे कभी बुरी नज़र से नहीं देखा मुनमुन, लेकिन इस video ने मेरा दिमाग ख़राब कर रखा है। क्या गांड है यार तुम्हारी ओ हो, मज़ा आगया देख कर और तुम्हारी चूचिया, हाय। आज तक तो मेने बस अपनी पत्नी को ही चोदा है मुनमुन, लेकिन आज मन कर रहा है कि में तुम्हारी गांड मारु। तुम्हे अपनी इस गलती की सजा अपनी गांड मुझे देकर चुकानी होगी मुनमुन।” “ofcourse, आप मेरी गांड और चुत मार सकते हो सुमित सर, आप पर तो मेरी नज़र शुरू से है, लेकिन आप ने मुझे कभी notice ही नहीं किया।”

 

“आज मेरी नज़र बस तुमपर है, उतरो अपने कपडे।” मुनमुन ने धीरे-धीरे अपने कपडे निकले और वह पूरी नंगी होगई, सुमित उसे चूमने लगा। होठो पर चूमते हूए, सुमित उसकी चूचियों को दबा रहा था और मुनमुन की चुत गीली होने लगी थी। “उफ़, आ आ” करते हूए मुनमुन मज़े ले रही थी।

 

सुमित ने मुनमुन को अपने table पर लेटा दिया और उसकी गीली चुत को चाटने लगा। मुनमुन की चुत गरम होगई थी सुमित के चाटने और चूसने से।सर आप की ज़बान में तो जादू है, रुको नहीं, चाटते रहो मुझे, अपनी ज़बान को अंदर तक डालो सर बहुत मज़ा दे रही है।

सुमित ने तब अचानक मुनमुन के गांड के छेद को भी चाटा, मुनमुन के पूरे जिस्म में एक बिजलीसी दौड़ गई। चाटचाट कर सुमित ने मुनमुन के गांड के छेद को काफी मुलायम कर दिया था। मुनमुन ने अब तक अपनी गांड कभी नहीं मरवाई थी, सुमित ने मुनमुन की टांगो को पूरी तरह से फेलाडिया और अपना लम्बा 7 इंच का लंड लेकर उसकी टांगो को बीच खड़ा होगया। अपना लंड सुमित मुनमुन के गांड के छेद पर मसलने लगा और धीरेधीरे उसे अंदर भी डालने लगा। कुछ ही seconds में लंड मुनमुन की गांड की छेद में चला गया और सुमित ने जम कर पहले मुनमुन की गांड मारी और फिर गीली गरम चुत को भी चोदा जिसका वर्णन आप इस कहानी की शुरवात में पढ़ चुके है।

 

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *