गर्लफ्रेंड की बहन का चुत मिला तोहफे में

 250 

गर्लफ्रेंड के साथ उसकी बहन का चुत मिला तोहफे में।

दोस्तों मेरा नाम राज है मैं दिल्ली में रहता हूं।, मेरी उम्र 26 साल है, मैं बिल्कुल फिट हूँ। मेर शरीर गठीला है। मैं दिल्ली में प्राइवेट सेक्टर में जॉब करता हूं। सैलरी अच्छी है तो रेंट पर फ्लैट ले लिया हूँ लेकिन सिंगल कमरा है।

यह घटना 3 साल पहले का है। जब मेरी सेक्सी गर्लफ्रेंड इंटरव्यू देने पटना से दिल्ली आयी थी। और घूमने के बहाने 10 दिन मेरे साथ फ्लैट पर रुकी थी। चुकी उसे रुकना था इसलिए वह अपनी छोटी बहन को भी साथ लायी थी। उसके कोई भाई नही हैं और बस दो बहन ही हैं। मेरी गर्लफ्रेंड् का नाम रुक्मिणी है और प्यार से मैं उसे रुकू बोलता हूं। वह 24 साल की है। और उसकी छोटी बहन जो करीब 22 साल की है उसका नाम रेवती है। रेवती से भी मेरी बात अक्सर होती रहती थी और थोड़ा बहुत मजाक भी चलता था। पटना से आने से पहले रेवती मुझसे पूछी कि जीजू आपके लिए क्या गिफ्ट लेकर आऊं? वह मुझे हमेशा जीजू ही कहती थी। https://nightqueenstories.com

फाइनली मेरी गर्लफ्रेंड और उसकी बहन रेवती दिल्ली आ गई। रुकू से मिलकर मुझे बहुत खुशी हुई लेकिन मैं उससे ज्यादा रेवती को देखकर सरप्राइज हुआ उसे मैं 4 साल बाद देख रहा था रेवती थोड़ी सांवली थी, पर अब उसके चेहरे पर बहुत चमक थी, उसका रंग साफ हो गया था। हाइट करीब ५ फुट 3 इंच है उसकी। और वह तब काफी पतली-दुबली सी थी, लेकिन आज उसके चेहरे से पहले मेरी नजर उसकी बड़ी बड़ी चुचियों पर पड़ी, जो मुश्किल से उसके सूट में कैद थे। मैं तो पहचान भी नही पाया था। वह बिल्कुल जवान हो चुकी थी। उसकी शरीर भर गई थी।, उसकी चूची का साइज 32 से ज्यादा हो चुका था। जब वह मुझसे गले मिली तो उसकी बड़ी चुचियाँ किसी चट्टान की तरह बड़ी और शख्त थी। उसकी गांड भी काफी बड़ी हो चुकी थी। गले मिलते समय मेरे हाथ का आधा हिस्सा उसकी गांड के उभार पर टच कर रहा था फाइनली रात हो गई। और हम सब शाम में थोड़ा बाहर घूमकर आये और खाना खाएं। लेकिन सोने के लिए तो मेरे पास एक ही बिस्तर था। और रूम भी एक ही था। तो हमतीनों ही एक ही बिस्तर पर सो गए।

बीवी और साली की चुदाई बारी बारी

मैं और रेवती किनारे थे और रुकू बीच मे थी। रुकू और मुझे तो रहा नही जा रहा था लेकिन हम रेवती का सोने का इंतजार कर रहे थे। कुछ देर बाद जब हमें लगा की रेवती सो गई है तो हम शुरू हो गए। और उसी बिस्तर पर रोमांस चालू कर दिए। 6 महीने बाद मैं रुकू से मिला था। और तभी हम चुदाई भी किये थे। जब मैं पटना छुटी में गया था। रुकू की चुत भी बिल्कुल प्यासी थी। उसे भी बर्दाश्त नही हो रहा था। लेकिन चुकी उसी बिस्तर पर रेवती भी थी तो हम डर भी रहे थे कि वह जग न जाए। चुकी हमदोंनो मस्ती में थे और रुकू के मुँह से तो तेज तेज सिसकारियां निकल रही थी। करीब 5,7 मिनट रुकू का चुत चाटने के बाद मैं उसकी पैरो को बिल्कुल ऊपर कर दिया और बैठकर उसके चुत पर अपना लन्ड लगाया। वह सिहर गई और तेजी से सीसीसीसीईईईईईसीसीसीसीईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. की और मैं एक जोरदार धक्का मारकर पूरा लन्ड उसकी चुत में घुसेड़ दिया। वह जोर से मुझे खिंच कर बाहों में कस ली। और मैं जोर जोर से चोदने लगा। और मस्त होकर मजे से कराहने लगी

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह…

आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर जोर से चोदो मेरे शेर….. चोदो जान चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. तुम कितने निर्दयी हो तुम्हे जरा भी मेरा ख्याल नही आता कितना तड़पता है मेरी चुत तुम्हारे लन्ड से चुदने के लिए उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई… आआआहहहहहहह चोदो मेरे सइयाँ फाड़ दो मेरी बुर…. । मारो मेरे राजा आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेबी पूरे 6 महीने बाद मेरे चुत में लन्ड जा रहा है फाड़ दो मेरी चुत सइयाँ। रुकू 3 बार झड़ चुकी थी। और 20, 22 मिनट के चुदाई के बाद मैं उसके चुत में ही झड़ गया और हाँफते हुए उसके ऊपर पसर गया।

थोड़ी देर बाद मैं बाथरूम गया और वापस आने के बाद लाइट जलया तो देखा कि रेवती पेट के बल लेटी है और उसकी शॉर्ट्स ऊपर है और उसकी एक चूतड़ और उसकी काले रंग की पैंटी साफ दिख रहा है। और उसकी टीशर्ट भी ऊपर थी तो उसकी कमर के हिस्सा दिख रहा था। वह ब्रा नही पहनी थी। फिर मैं भी लाइट ऑफ करके सो गया लेकिन मेरा दिमाग रेवती के गांड़ और पैंटी पर ही टिका था। अगले दिन जब रुकू बाथरूम में नहा रही थी तो मैंने उसे मजाक में गाल पर किस दे दिया। और बोला कि क्या मेरी साली भी मुझे किसी देगी। तो वह भी गाल पर किस दे दी। तब मैंने भी झट से उसको पकड़ कर स्मूच कर लिया और बोला कि मेरा गिफ्ट नही लायी तो गिफ्ट के बदले यही है। रेवती शरमा के टीवी देखने लगी लेकिन मैं बार बार उसे किस कर ले रहा था तीन चार बार मैंने मजाक करते करते उसको किस किया। मेरी हिम्मत बढ़ती जा रही थी रेवती भी इस हरकत को मेरी बदमाशी समझती थी क्योंकि मैं हर बात में जीजा साली की बात करता था और मजाक भी। https://nightqueenstories.com

दोपहर को खाना खाने के बाद मैं और रुकू एक दूसरे के साथ छेड़ छाड़ करते करते फिर गर्म हो गए। लेकिन रेवती वही थी और जगी भी थी तो मैं रुकू को बोला कि बाथरूम में चले या किचन में तो वह बोली किचन में चलो। फिर हमदोंनो किचन में जाकर जबरदस्त चुदाई किये इस दौरान रेवती नावेल पढ़ने में बिजी थी। और हम चुदाई में। वो जानती तो थी कि हम चुदाई कर रहे हैं लेकिन वह कोइ प्रतिक्रिया नही दी। फिर चुदाई करके रुकू बाथरूम में चली गई और मैं जब वापस रूम में आया तो देखा रेवती पेट के बल लेटकर नावेल पढ़ रही थी। और उसकी मोटी जांघे साफ दिख रही थी वह अभी भी शॉर्ट्स में थी। उस छोटे से शॉर्ट्स में उसकी गांड की पूरी शेप नजर आ रही थी, मेरा मन तो ऐसा कर रहा था कि अपना लंड उसकी गांड में शॉर्ट्स के ऊपर से ही घुसेड़ दूँ। और इतना चोदूं कि उसकी गांड फट जाए मैं उसके पास लेट गया और स्मूच करने के लिए खींचने लगा, रेवती मुझे धक्का मार रही थी और इसी खींचतान में मेरा हाथ उसके बड़ी सी चूची पर चला गया और मैंने उसे जोर से मसल दिया। रेवती के मुंह से आहहहहहहहहहहहहहहहहह… की आवाज निकली। और उसने मस्ती से आंखें बंद कर ली। मैं घबराने लगा कि यह कहीं रुकू को ना बोल दे मैं बहुत शरीफ बन कर उसके बगल में बैठ कर बोला सॉरी, अगर मेरी कोई बात बुरा लगा हो तो।

रेवती ने मुझे गुस्से से देखा और अपनी चूची को सहलाते हुए बोली कि कोई इतनी जोर से दबाता है क्या तो मैं समझ गया कि मैं बच गया और मैंने मजाक में हंसते हुए उसकी दूसरी चूची धीरे से दबा कर पूछा कि क्या इतना ठीक है और हम दोनों बेड पर ही एक दूसरे से मजाक में झगड़ने लगे। मैं भी कोई मौका छोड़ना नहीं चाहता था और ऐसे ही मजाक मजाक में झगड़ते हुए मैंने कई बार उसकी पीठ, जांघ, उसके चुचियों पर और उसकी गांड के हिस्से को अपने हाथों से सहलाया। मेरी हिम्मत इतनी बढ़ गई थी कि मैंने रेवती को बिस्तर पर पटक के उसके ऊपर आकर जोरदार किस किया था। रेवती भी जीजा साली का मजाक समझ कर रुकू को कुछ नहीं बताई।

रेवती की लाल रंग की पैंटी और बड़ी सी चूतड़ देखकर मेरा लन्ड खड़ा हो गया

दूसरी रात को रुकू और मैं फिर से उसी बिस्तर पर चुदाई करने लगे इस दौरान रेवती कई बार करवटें बदली लेकिन हम अपनी चुदाई चालू रखे। और चुदाई के कुछ देर बाद रुकू बाथरूम जाने लगी तो लाइट ऑन की तो मैं देखा रेवती की फिर से पैंटी दिख रही है आज वह लाल रंग की पैंटी पहनी थी।

और मेरा लन्ड ये देखकर फिर से सलामी मारने लगा। जब रुकू गहरी नींद में सो गई तो मैं उठा और बाथरूम गया और वापस आया तो देखा रुकू बिल्कुल किनारे सो चुकी है जहाँ मैं सोया था तो मैं धीरे से रेवती के बगल में सो गया। और धीरे धीरे रेवती के जांघो को सहलाने लगा जब मैं श्योर हो गया कि वो गहरी नींद में है तो मैं उसकी चुचियों को मसलने लगा। लेकिन तभी रुकू करवट बदली तो मैं झट से उठा और अपने जगह जाकर सो गया।

अगले दिन रुकू का इंटरव्यू था तो वो तैयार हो गई। और हम तीनों निकल गए। और सेंटर पर पहुँचे तो देखे बहुत भीड़ है। आधे घंटे में ही सारे कैंडिडेट को अंदर कर दिया गया। और भीड़ देखकर हम समझ गए कि आज दिन भर में भी अगर सबका इंटरव्यू हो जाए तो बहुत है। तो मैं रेवती को बोला कि यहां कब तक रुकोगी। दिन भर लग जाएगा। चलो चलते हैं जब रुकू का इंटरव्यू हो जाएगा तो लेने आ जाएंगे। फिर हम रूम पर आ गए।

रेवती बोली मियां बीवी मेरे सामने चुदाई करते हो और मेरी चुत में आग भड़का के सो जाते हो

लेकिन रूम पर आते ही मैं उसे दबोच लिया और उसे किस करने लगा वह घबरा गई और मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं नही छोड़ा थोड़ी देर बाद वह भी मेरा साथ देने लगी और बोली जीजू आप बहुत बदमाश हो बीवी के साथ साली को भी नही छोड़ रहे हो। तो मैं बोला जब साली इतनी गर्म हो तो जीजा कैसे खुद को रोक पाए। तो वह बोली हाँ इसीलिए तो साली के सामने ही दोनो मियां बीवी रात भर चुदाई करते हो। और साली की चुत में आग भड़का के सो जाते हो। कसम से दोस्तों उसकी ये बातें सुनकर मैं हैरान भी हुआ और हद से ज्यादा गर्म भी हो गया।

तो मैं बोला साली अपनी बहन और जीजा की चुदाई देखती है। और मैं उसके कपड़े तब तक उतार दिया था अब वह सिर्फ ब्रा और पैंटी में रह गई थी। फिर वह बोली ऐसे जीजा का तो मन करता है जान से मार दूँ जो अपने साली के चुत में आग भड़का के अपना लन्ड शांत करके सो जाता है। साली का 2 दिन से चुत लन्ड के लिए तड़प रहा है और जीजा है कि अपनी बीवी को चोदने में मस्त रहता है।

उसकी इतनी सेक्सी बातें सुनकर मैं पूरी तरह गर्म हो चुका था और मैं एक झटके में उसकी ब्रा खोल के फेंक दिया और उसकी पैंटी को पकड़ के फाड़ दिया और दूसरी तरफ उछाल दिया। और उसे गोद मे उठाया और बिस्तर पर पटक दिया। फिर उसकी टांगों को पकड के बिस्तर के किनारे खिंच के उसकी दोनो पैरो को ऊपर करके फैला दिया और उसकी चुत पर मुँह रख दिया। वह तो सिसकारियां लेते हुए बोली सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. जीजू चाटो जीजू चाटो मेरी चुत।…. आआआहहहहहहह मेरे चुदक्कड़ जीजा चाटो अपनी साली की चुत आहहहहहहहहहहहहह…….. जोर से जीभ रगड़ो जोर से अपनी जीभ मेरी चुत के दाने पर रगड़ो.. आहहहहहहहहहहहहहहह……

आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. अब रहा नही जा रहा जीजू अब अपना लन्ड अपनी साली के चुत में डालके आग बुझाओ उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… और मैं बिना देरी किए उसकी दोनो पैरो को कंधे पर रखा और एक झटके में अपना लन्ड उसकी चुत में उतार दिया। साली वो तो पूरी चुदक्कड़ थी उसकी चुत बिल्कुल आराम से मेरा लन्ड ले ली। तो मैं बोला साली जी तुम्हारी चुत में तो मेरा लन्ड एक ही बार मे घुस गया। कितने लन्ड खा चुकी हो। तो वह बोली जीजू लन्ड तो बस एक ही खाई है मेरी चुत, आपका दूसरा है। लेकिन मैं नकली लंड से रोज चुत की आग शांत करती हूँ और वो नकली लन्ड बहुत बड़ा है। मैं हैरान हो गया उसकी बात सुनकर लेकिन मैं जोर जोर से चोदने लगा। और वह सिसकारियों के साथ चिल्लाने लगी

उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर जोर से चोदो मेरे शेर….. चोदो जान चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. अपनी साली को घरवाली समझ के फाड़ दो मेरी चुत आआहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह… अब ये चुत आज से तुम्हारी हुई जीजू चोदो जोर से चोदो जीजू चोदो आआहहहहहहहहहहहहहह…….. जोर जोर से चोदो मेरे शेर….. चोदो जान चोदो…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. और करीब आधे घंटे तक मैं उसको चोदा और अपना लन्ड का रस उसकी चुत में ही छोड़ दिया। वो भी 4 बार झड़ी। और अहले 10 दिन तक मैं दोनो बहन को बारी बारी चोदता रहा। https://nightqueenstories.com

तो दोस्तों एक के साथ एक फ्री चुत की चुदाई कैसी लगी। बताना जरूर। और ज्यादा से ज्यादा कमेंट करके बताना। मिलते हैं जल्द ही दूसरी कहानी में। नमस्कार।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “भाई को सहेली की चुत दिलवाई

तो आप सब अपना ख्याल रखिएगा। कोविड का सिचुएशन है तो अपना विशेष ख्याल रखिएगा। नमस्कार।

 

56% LikesVS
44% Dislikes

3 thoughts on “गर्लफ्रेंड की बहन का चुत मिला तोहफे में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *