100% New Hindi Sex Story adult sex stories Amateur sex Analsex Antarvasna Antarvasna Hindi sex stories Aunty ki chudai Aunty mom sex Balo wali chut Behan chudai Big Boobs big dick bigcock Cheating on Husband Chikni chut Chodni ki kahani chodni ki story Couple Sex Desi ladki Desi sex stories doggy style Doggystyle Erotic Stories first time orgasm first time sex and defloration Gand chudai Garm chut Ghar me chudai ka khel hard core sex hard sex hardcore sex Hindi hindi fuck Hindi Porn Kahani hindi sex Hindi sex stories Hindi Stories Home sex Hot sex story indian sex stories in hindi Lust Stories milf Mom fucks Mom sex Nangi ladki Romantic Sex Kahani Sex stories Sexstory sextoy sexy stories hindi Threesome sex stories tightpussy कोई देख रहा है कोई मिल गया गर्म चुत गांड की चुदाई गैर मर्द चुत को चोदा चुत चुदाई चुदाई चुदाई की कहानी चोदना दर्दभरी चुदाई देसी कहानी देसी कहानी सेक्स स्टोरी देसी गर्ल देसी चुदाई कहानी बड़ालंड बड़ी चूचिया रसीली चुत सीलबंद चुत की चुदाई सेक्स कहानी सेक्स स्टोरी हिंदी सेक्स कहानियाँ हॉट सेक्स स्टोरी ज़बरदस्त चुदाई

उसकी अम्मी को चोदा भाग-1

 381 

गर्लफ्रेंड से पहले उसकी अम्मी को चोदा।

हेल्लो फ्रेंड्स, कैसे हो आप सब, उम्मीद करता हूँ अच्छे होंगे।

दोस्तों ये बात तब की है जब मैं 21 साल का था। और मेरी एक गर्लफ्रैंड थी। लेकिन मैं अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कभी सेक्स नहीं किया था क्योंकि वो करने नहीं देती थी। हाँ मैं उसे कई बार किस किया था लेकिन वो भी बस नॉर्मली। क्योंकि वो कभी स्मूच नहीं करने देती थी।

तो दोस्तों मेरा नाम सौरभ है और मैं लुधियाना में रहता हूँ बेसिकली मैं दिल्ली से हूँ। लेकिन मैं एक प्राइवेट कंपनी में क्लर्क का जॉब करता हूँ। मैं यहाँ पिछले 2 साल से हूँ।

 मेरी गर्लफ्रेंड का नाम जरीना है। वो बेहद खूबसूरत है। और बिल्कुल मॉडर्न भी। जरीना से मेरा प्यार पिछले एक साल से है। उसका अपना घर है और मेरे घर से करीब 1 किलोमीटर दूर है। लेकिन उसका घर मेरे रास्ते मे पड़ता है। बस यही कारण है कि उससे मुझे प्यार हो गया। मेरे आते जाते अक्सर वो मुझे अपने घर कर के पास मिल जाया करती थी।

 और एक दिन वो अपने घर के पास कॉलेज जाने के लिए ऑटो का वेट कर रही थी। और इतेफाक से मैं वहां पहुँच गया, मैं बाइक से ऑफिस जा रहा था। पहले तो मुझे झिझक हुई लेकिन फिर पूछ लिया कि चलना है। चुकी वो भी मुझे आते जाते कई बार देख चुकी थी तो तैयार हो गई और मैं ऑफिस जाने से पहले उसे कॉलेज छोड़ा। और फिर हमारी मोहब्बत वहीं से शुरू हो गई।

दोस्तों आपसब को मैं बता दूं। जरीना की अम्मी के बारे में। जरीना की अम्मी का नाम रुखसाना था। वह भी जरीना की तरह ही बेहद खूबसूरत थी। दूधिया बदन। कजरारी आँखें, 30-28-38 की फिगर। उनकी उम्र करीब 40 के आस पास थी लेकिन बॉडी फिट और मेंटेन की वजह से वो 30 से भी कम की लगती थी। जरीना और वो कहीं से भी माँबेटी नहीं लगती थी बल्कि दोनों बहन लगती थी। जरीना का भी फिगर उसकी माँ की कॉर्बन कॉपी था। 19 साल की उम्र में 38 की गांड पाकर वो किसी जन्नत की हूर लगती थी।

जरीना के अब्बा और रुखसाना के शौहर क़तर में रहते थे जो साल में एक बार ईद के समय एक महीने के लिए आते थे। वो पिछले 10 साल से वहीं जॉब कर रहे थे। (आप यह कहानी https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं)

कैसे रुखसाना ने पहले अपनी चुत चुदवाई फिर जरीना की चुत दिलवाई

तो जरीना और मेरा प्यार परवान चढ़ा अब हम अक्सर साथ मे समय बिताने लगे। साथ मे घूमना फिरना मूवी देखना। शॉपिंग।

जैसा कि मैंने बताया जरीना बिल्कुल मॉडर्न लड़की थी। उसे सजना सवरना, छोटेछोटे कपड़े पहनना, दोस्तों के साथ पार्टी करना बेहद पसंद था। वह शराब और बियर की भी शौकीन थी। कई बार मेरे साथ वह बियर पी चुकी थी। और कुछ बार शराब भी।

हम अक्सर मेरे घर पर या मॉल में सिनेमा हॉल में मिलते थे। जरीना मुझसे बहुत प्यार करती थी और मैं भी उससे बहुत प्यार करता था। लेकिन वह कभी सेक्स के लिए तैयार नहीं होती थी। यहां तक कि वह मुझे होंठो पर अच्छे से किस भी नहीं करने देती थी।

मैं अक्सर उसके घर भी जाता था। उसके अम्मी को पता था कि हमदोनों अच्छे दोस्त हैं। उसकी अम्मी रुखसाना भी शराब की शौकीन थी। तो हम कभी कभी उसके घर पर हम तीनों साथ मे बैठकर शराब पी लेते थे। लेकिन जरीना या उसकी अम्मी मुझे कभी रात रुकने नही बोली। इसलिए पार्टी करने के बाद मैं अपने घर आ जाता था।

उसकी अम्मी भी मॉडर्न थी। वो अक्सर मुझसे हंसी मजाक करती थी। बिल्कुल खुले विचारों वाली थी।

तो हमारे प्यार को लगभग एक साल बीत चुका था। लेकिन जरीना के सेक्स के लिए मना करने से मैं डिस्पोइंट हो जाता था। क्योंकि मुझे सेक्स करने का बहुत मन करता था। मैं रोज सेक्स कहानियां पढता था। और पोर्न मूवी देखता था। लेकिन जरीना का चुत नही मिलता था इसलिए उसके नाम का मुठ मार के लंड को ठंडा कर लेता था।

कैसे मैं अपनी गर्लफ्रेंड जरीना के अम्मी रुखसाना को चोदा

एक दिन मैं घर पर था। और मोबाइल में सेक्स कहानियां पढ़ रहा था। तो अचानक मूझे एक ऐसी कहानी मिली जो लड़का गर्लफ्रेंड के माँ को चोदता है। मैं पूरी कहानी बहुत ध्यान से पढ़ा और फिर और भी उसी टाइप की कहानी पढ़ा। और फिर मैं शराब पीने लगा। और मोबाइल में पोर्न मूवी चलाकर देखने लगा। मैं गर्लफ्रेंड की माँ की चुदाई का पोर्न मूवी ढूंढा और देखने लगा।

अब मेरे दिमाग मे जरीना की माँ रुखसाना घूमने लगी। और मैं सोचने लगा कि आखिर वो भी तो अभी जवान हैं। और मुझसे हंसी मजाक भी करती हैं। कही ऐसा तो नही वो मुझे चाहती हो इसीलिए खुलकर बात करती हैं और हंसी मजाक करती हैं। कही ऐसा तो नही ये इशारा है। लेकिन मैं समझ नहीं पा रहा। अब मेरे दिमाग मे जरीना से ज्यादा उसकी अम्मी रुखसाना घूमने लगी। और मैं पोर्न मूवी देखकर पगला गया। और रुखसाना को चोदने के बारे में सोचने लगा।  (आप यह कहानी https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं)

मैं काफी एक्साइटेड हो गया था। फिर मैं रुखसाना के नाम का मुठ मारा। लेकिन थोड़ी ही देर बाद मेरा लंड फिर कड़क हो गया। अब मुझसे रहा नही जा रहा था। तो मैं रुखसाना ऑन्टी के पास कॉल किया। कॉल रुखसाना ऑन्टी ने ही पिक की थी क्योंकि जरीना कॉलेज गई हुई थी।

फिर मैं थोड़ी ऐसे वेसे बात के बाद डरते हुए कहा। कि ऑन्टी मुझे आपसे कुछ बात करनी है। तो वो बोली हाँ बोलो क्या बात है। तो मैंने बोला कि ऑन्टी आप बहुत खूबसूरत हो। बहुत सेक्सी लगती हो। मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ। इतना सुनते ही वो भड़क गई और मुझे कहने लगी तुम्हारा दिमाग खराब है। मैं तुम्हारी माँ की उम्र की हूँ और तू मेरी बेटी का दोस्त है। तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई ऐसा बोलने की। मैं तो डर गया और सॉरी बोलने लगा। और ऑन्टी से मिन्नते करने लगा कि वो जरीना को कुछ ना बताए । मैं शराब के नशे में बहक गया था।

फिर ऑन्टी मुझे डांटते हुए फोन रख दी। इधर मेरा तो सारा नशा उतर गया था। और लंड सिकुड़ कर छुहाड़े की तरह मुरझा गया था। मानो उसमे जान ही ना हो। जो लन्ड अभी तक काले नाग की तरह फुंफकार रहा था, अब वो सिकुड़ कर मेरी अंडरवीअर में कहीं खो गया था।

मैं पड़े पड़े ऐसे सोच रहा था कि कहीं ऑन्टी जरीना को ना बता दे।

करीब एक घंटे बाद रुखसाना ऑन्टी के नम्बर से कॉल आया मैं डरतेडरते कॉल पिक किया और हेल्लो बोला। उधर से ऑन्टी ही थी और बोली सौरभ मुझे माफ़ करना मैं गुस्से में भला बुरा बोल दी तुम्हे। लेकिन क्या करूँ तुमने बात ही ऐसी बोली थी। फिर ऑन्टी बोली अभी कहाँ हो। तो मैंने बोला की घर पर हूँ। तो ऑन्टी बोली कि मेरे घर पर जाओ मैं तुमसे सामने से सॉरी बोलना चाहती हूँ।

तब मेरे जान में जान आयी। और फिर मैं ऑन्टी के घर जाने के लिए तैयार हो गया। उस वक़्त करीब 2 बज रहे थे। मैं ऑन्टी के घर पहुँचा। ऑन्टी ने दरवाजा खोला वो लाल रंग की चमकने वाली सूट पहनी हुई थी। जो उनके बदन में बिल्कुल फिट थी। उनके होंठो पर गाढ़ा लाल रंग का लिपस्टिक लगा हुआ था। वो बोली अंदर आ जाओ।

मैं अंदर गया वो भी दरवाजा अंदर से लॉक कर मेरे पीछे-पीछे आई और मुझे सोफा पर बैठने को बोला और वो खुद भी बैठ गई। तभी मैंने हाथ जोड़कर सॉरी बोला तो वो फट से मेरा हाथ पकड़ ली और कहने लगी ये क्या कर रहे हो। हाथ क्यों जोड़ रहे हो। माफी तो मुझे मांगनी चाहिए जो मैं तुम्हे इतना भला बुरा बोली।

मैंने कहा ऑन्टी आपको माफी मांगने कि कोई जरूरत नही है। मैने गलती किया है। तो वो बोली कोई बात नहीं सौरभ तुम्हारी उम्र में अक्सर ऐसा हो जाता है। अब तुम्हे पश्चाताप करने की कोई आवश्यकता नहीं है। फिर हम कैजुअली बातचीत करते रहे। करीब 10 मिनट बाद ऑन्टी बोली कि क्या पिओगे कोल्डड्रिंक या कॉफी मैंने कहा गर्मी है तो कोल्ड्रिंक ही।

ऑन्टी अंदर चली गई और करीब 10 मिनट बाद आई। मैं तो उन्हें देखते ही दंग रह गया। मेरी आँखें फ़टी की फटी रह गई। और मुँह खुला का खुला रह गया।

 ऑन्टी कपड़े चेंज कर ली थी और मेरे सामने ब्लैक रंग की जालीदार गाउन पहने हुए आयी थी। जो नाम मात्र का ही कपड़ा था। उस गाउन से उनकी चुचियाँ और और उनकी दोनो जांघो के बिच कसी हुई उनकी चुत और उस चुत का बड़ा सा दाना (क्लाइटोरिस) बाहर निकला हुआ साफ दिख रहा था।

और ऑन्टी के एक हाथ मे कोल्डड्रिंक और दूसरी हाथ मे प्लेट जिसमे चिप्स थे।

और ऑन्टी कातिल अदाओं से मुस्कुराते हुए बोली। सौरभ तुम्हारे सामने हॉट एंड कोल्ड दोनो है पहले कौन सा पीना पसन्द करोगे।

मैं तो उनकी इशारा समझ गया और उठकर उन्हें गले लगा लिया और उनकी होंठो को चूसने लगा। वो भी मेरा साथ देने लगी। तभी मेरा हाथ नीचे गया और रुखसाना ऑन्टी के चुत को जोर से मसल दिया। ऑन्टी बोली ऊऊईईईईईईईइईईई… माँन्नंन्नंन्नंन्नं… आराम से मेरी जान। फिर ऑन्टी बोली रुको प्लेट तो रखने दो। मैं थोड़ा पीछे हुआ। और ऑन्टी प्लेट और कोल्डड्रिंक को टेबल पर रख दी। और मुझे दबोच ली।  (आप यह कहानी https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं।)

मैं भी कहाँ पीछे रहने वाला था। मैं उनके होठों को जोर जोर से चूसने लगा। और उनकी चुचियों को दबाने लगा। वो आह हहहहहहहहहहहहह करने लगी।

और फिर मैं उनकी गाउन को नीचे से उठाया और निकाल कर एक तरफ फेंक दिया। रुखसाना ऑन्टी का दूधिया बदन चमकने लगा। तबतक मेरा जींद भी नीचे गिर चुका था। फिर मैंने अपना जीन्स और अंडरवियर उतार दिया। और नीचे बैठ गया। और ऑन्टी का एक पैर उठाकर सोफे पर रख दिया। और उनकी चुत पर मुँह लगा दिया वो तो पागल हो गयी और आहहहहहहहहह ओह हहहहहहहहकरने लगी। और मेरा सर पकड़कर अपना कमर हिलाने लगी। मैं उनकी चुत को जोर जोर से चाट रहा था और उनकी चुत में जीभ डाल कर चूस रहा था।

 ऑन्टी मस्त होके बोल रही थी।  ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ खा आआआ जाओ मेरी चुत….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… मेरी जान कितना अच्छा चुत चाटता है तू। चाटो सौरभ..ओहहहहहहह हहहहहहह…… चाटो मेरी चुत………… ओहहहहहहहहहहहहह बेटा। और फिर ऑन्टी की चुत रसधार छोड़ने लगी। ऑन्टी की चूत पूरी प्रेशर के साथ पानी छोड़ रहा था। …. और ऑन्टी मेरी सर जोर से अपनी चुत पर दबा दी…..  और अओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ खा आआआ जाओ मेरी चुत….. आहहहहहहहहहहहहहहह…… मेरी जान कितना अच्छा चुत चाटता है तू। चाटो सौरभ चाटो मेरी चुत………… ओहहहहहहहहहहहहह सौरभ मैं झड़ रही हूँ बेटा…. चाटो और जोर से मेरे शेर….. खा जाओ अपनी ऑन्टी की चूत……. ये चुत अब तुम्हारे नाम हुई मेरे राजा……. ओहहहहहहहहहहहहह…… आहहहहहहहहहहहहहहहह…. मेरे राजा………

ऑन्टी को बहुत मजा आया। फिर वो मुझे उठाई और मेरे होंठो पर टूट पड़ी। और जोर जोर से किस करने लगी। 5 मिनट तक किस करने के बाद वो मुझे धक्का दी जिससे मैं सोफे पर गिर गया। और वो नीचे बैठी और मेरे लंड पर टूट पड़ी।

थोड़ी देर पहले जो रंडी औरत मुझे डांट रही थी अब वो मेरे लंड को ऐसे खाने लगी जैसे जिंदगी में कभी लंड नहीं मिला और वर्षो की लंड की भूखी हो।

करीब 10 मिनट तक वो मेरी लंड चूसी और मैं उनकी मुँह में ही वीर्य छोड़ दिया। वो मेरे लंड का सारा वीर्य निगल गई। और फिर अच्छे से चाट कर मेरे लंड को साफ की।

अब वो उठी और सोफे पर चढ़ गई और अपना चुत मेरे मुँह पर रख दी। और चुत को मेरे मुँह पर रगड़ने लगी। मैं भी उनकी चुत को जोर जोर से चाटने और चूसने लगा। और बोला ऑन्टी आप तो बहुत गर्म हो बहुत भूखी हो। तो ऑन्टी बोली मुझे ऑन्टी मत बोलो रुखसाना बोलो। मैं तुम्हारी रुखसाना हूँ।

करीब 10 मिनट तक ऑन्टी अपना चुत चटवाती रही। इधर मेरा भी लंड अब फिर से खड़ा हो गया था उधर रुखसाना का चुत फिर से रस किसी झरने की तरह बहने लगा। और मैं उसके चुत का सारा पानी पी गया।

रुखसाना ऑन्टी बोली घुसा दो अपना मोटा लंड मेरी चुत में

अब ऑन्टी सोफे पर आधी लेट गई और अपनी दोनों टांगो को फैलाते हुए दोनों हाथों से चुत को फैलाई और बोली घुसा दो मेरी चुत में अपना मोटा लंड। मेरी चुत वर्षो की प्यासी है सौरभ। आज मेरी चुत के चोद के मेरे चुत का यस बुझा दे। मैं भी कहाँ पीछे रहने वाला था। मैं झट से रुखसाना के चुत पर लंड रखा और एक जोरदार झटका मारा रुखसाना की चुत इतना गिला था कि मेरा समूचा लंड उसकी चुत में समा गया। अब मैं जोर जोर से झटके मारना शुरू कर दिया। और वो चिल्लाने लगी। ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह… तू तो सच्चा मर्द निकला मेरे शेर….. चोदो सौरभ…. चोदो मेरी चुत……. फाड् दो मेरी चुत को… मेरी चुत को चोद के भोसड़ा बना दो….ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.को…………तुम्हारा लंड मेरे चुत से होते हुए अंदर मेरी गांड तक जा रहा है.. बहुत बड़ा लंड है तुम्हारा… ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… अंदर तक धक्का मार रहा है…… बहुत मजा आ रहा है मेरे लाल……फाड् दो मेरी चुत सौरभ.. मेरी चुत की धज्जियां उड़ा दो।…. ऑन्टी 2 बार झड़ चुकी थी। फिर ऑन्टी मुझे झटके में नीचे गिरा दी और मेरे ऊपर आकर चोदने लगी। हम चुदाई में। इतने मशगूल थे कि हमे समय का जरा। ही अंदाजा नही लगा। और अचानक मेरी नजर जरीना पर पड़ी। वो पता नही कबसे आके हमारी चुदाई की खेल देख रही थी। लेकिन मैं कुछ नहीं बोला और रुखसाना जोर।जोर से चोदते रही। फिर जरीना अपने रूम में चली गई। करीब 15 मिनट बित चुका था तब रुखसाना बोली .. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह…….. जोर से झटके मारो… आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा चुत चोदता है तू। ……ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मेरी जान चोदो.  आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत।  मारो मेरे राजाआआआ हहहहहहहहहहहहह……..….. मैं फिर से झड़ रही हूँ। नीचे से तुम जोर जोर से चोदो।…… और फिर रुखसाना की चूत पानी छोड़ने लगा।.. रुखसाना की चूत से पानी निकलकर मेरे अंडकोषों और जांघो को भिगोते हुए, सोफे पर फैल गया।…  रुखसाना की चूत ने हर बार की तरह इस बार भी बहुत पानी छोड़ा।

फिर वो अचानक मेरा लंड अपने चुत से निकाली और अपने गांड मे डाल ली। और जोरजोर से ऊपर नीचे उछलने लगी। उसकी गांड बहुत टाइट थी। इस कारण मुझे उसकी चुत से ज्यादा मजा उसकी गांड में रहा था। अब मैं नीचे से जोर जोर से कमर उठा उठाकर उसकी गांड चोदने लगा। और वो ऊपर से जोर जोर से गांड में लंड लेने लगी। और चिल्लाने लगी। ….. ओहहहहहहहहहहहहह बेटा। …..  अओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. सौरभ मारो मेरी गांड… आआआ चोदो मेरी गांड……. आहहहहहहहहहहहहहहह…… बेटा कितना अच्छा गांड मारता  है तू। मारो सौरभ…. तेजी से मारो मेरी गांड और………… उधर जरीना अपने रूम से हमारी चुदाई का सारा खेल देख रही थी।… करीब 10 मिनट बाद रुखसाना फिर से झड़ने लगी। ओहहहहहहहहहहहहह बेटा मैं झड़ रही हूँ बेटा…. चोदो और जोर से मेरे लाल……. चोद ले अपनी रुखसाना की चूत और गांड……. ये चुत और गांड अब तंवर नाम हुई मेरे राजा……. ओहहहहहहहहहहहहह…… आहहहहहहहहहहहहहहहह…. मेरे राजा बेटे………. तभी मेरा लंड भी रुखसाना के गांड में वीर्य छोड़ने लगा। और फिर हमदोनों शांत हो गए। करीब 5 मिनट तक रुखसाना मेरा लंड गांड में डाले वैसे ही पड़ी रही। और जब उठ कर बाथरूम जाने लगी तो उसके गांड से मेरा वीर्य टपक रहा था।  (आप यह कहानी https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं)

मैं फिर कपड़े पहना और सोफे पर बैठ गया।

करीब 10 मिनट बाद रुखसाना नंगे ही बाथरूम से निकलकर आयी और मुझे किस की। तो मैंने बोला जरीना ने हमें चुदाई करते हुए देख ली है।

तो वो बोली घबराओ मत जरीना और मैं नकली लंड (डिल्डो, स्ट्रैप ऑन) से रोज चुदाई करते हैं। जरीना की चुत प्यासी नहीं रहती इसीलिए वो तुमसे नही चुदवाती थी।

लेकिन चिंता मत करो। 2 दिन बाद ईद है। और इस बार जरीना के अब्बू भी ईद पर नहीं रहे। इस बार की ईद तुम्हारे साथ मनाएंगे। और उसी दिन जरीना की चुत भी तुम्हे मैं दिलवाऊंगी।

इतना बोल के रुखसाना मेरा हाथ पकड़कर जोर से अपने चुत पर रगड़ दी।शाम को करीब 5 बज चुके थे। फिर मैं अपने घर आ गया।

और फिर 2 दिन बाद ईद को मैं रुखसाना ऑन्टी के घर गया। तो पढ़िए अगले भाग में की कैसे मैंने रुखसाना ऑन्टी और अपनी गर्लफ्रेंड जरीना को एक साथ चोदा।

ऐसी कयामत भरी चुदास कहानी पढ़ने के लिए https://nightqueenstories.com पर बने रहना। हम आपको पूरा यकीन दिलाते हैं आपकी पसंद की हर कहानियां लेकर आएंगे। और चुत औऱ लन्ड की गर्मी शांत करते रहेंगे।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “सेक्स की भूख”

हिंदी की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे Indian Antarvasna Sexy Hindi Seductive Stories

इंग्लिश की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे  Best Real English Hot Free Sex Stories

धन्यवाद।

आपसब अपना ख्याल रखिएगा। और अपना प्यार इसी तरह बनाए रखिएगा।

नमस्कार।

Meet Women Online!!

The End

 

100% LikesVS
0% Dislikes

2 thoughts on “उसकी अम्मी को चोदा भाग-1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *