फर्स्ट क्लास चुदाई भाग -2

 37 

राजधानी एक्सप्रेस के फर्स्ट एसी में फर्स्ट क्लास चुदाई भाग -2

मैं पिछले 10 मिनट से उसकी चूत को चाट रहा था, और तभी एक बार फिर से उसकी शरीर ऐंठने लगी और उसकी चूत से झरना बहने लगा। इस बार उसकी चूत से प्रेशर के साथ पानी बाहर आया था जो मेरे चेहरे पर भी पड़ गया था। और फिर से मैं उसकी चूत को चाट के साफ किया। और उसकी तेज तेज सांसे उसकी बूब्स को ऊपर नीचे कर रही थी। जिससे वह बहुत सेक्सी लग रही थी। अब उसने मुझे अपने ऊपर खींचा और किस करने लगी।

तभी दरवाजे पर नोक हुआ तो हम अलग हुए। और फिर मैं बोला जी कहिए, तो बाहर पेंटरी वाला था और सुबह के नाश्ते के बारे में पूछ रहा था। फिर मैं नम्रता से पूछकर उसे बता दिया। और वह चला गया। और फिर हम केबिन अंदर से लॉक कर लिए। और फिर से हम एक दूसरे को किस करने लगे।

और फिर वह अपने ऊपर मुझे खींच ली। और भूखे शेरनी की तरह किस करने लगी। फिर वह उठी और मुझे नीचे कर दी। और मेरा टी शर्ट उतार के मेरे निप्पल,चेस्ट गले और पेट पर किस करने लगी इस दौरान मैं उसके चूत को रगड़ रहा था। फिर वह मेरे हाफ पैंट को अलग कर दी। और अंडरवियर के ऊपर से मेरे लंड को जीभ से चाटने लगी। उसकी इस हरकत ने मेरे जिस्म में हजार वोल्ट का करंट दौड़ा दिया था। अब वह मेरे अंडरवियर में हाथ डाली और मेरे लंड को पकड़ के बाहर खींच ली। और पहले तो मेरे लंड पर वह किस की और फिर जोर जोर से हिलाने लगी।

नम्रता की चुदाई की भूख ने कैसे उसे मेरे लंड का दीवाना बना दिया

हेलो मेरे प्यारे दोस्तों और https://nightqueenstories.com के पाठकों, कैसे हो आपसब, उम्मीद करता हूं सभी अच्छे होंगे। दोस्तों मैं अनुभव सिन्हा हूं। सभी की तरह आप भी मुझे प्यार से अभी बुला सकते हैं। मैं 30 साल का हूं, और पेशे से एक इंजीनियर हूं। मुझे एक गर्लफ्रेंड रखने में कोई दिलचस्पी नहीं है। प्यार मोहब्बत का खेल मुझे जरा भी पसंद नहीं है। मैं लड़कियों औरतों को पटाया चोदा और तुम अपने रास्ते मैं अपने। ये कह सकते हैं की मैं एक अय्याश इंसान हूं, लेकिन आपकी नजरों में। मैं अपनी नजरों में तो एक महान व्यक्ति हूं। मैं रांची (झारखंड) में रहता हूं क्योंकि मेरा पोस्टिंग यहीं है।

यह कहानी का दूसरा भाग आप पढ़ रहे हैं और अगर आप इसका पहला भाग नहीं पढ़े हैं तो कृपया पहले उसे पढ़ें, तभी आपको कहानी का असली आनंद आएगा।

इसका पहला भाग का शीर्षक है राजधानी एक्सप्रेस के फर्स्ट एसी में फर्स्ट क्लास चुदाई भाग -1

तो पहले भाग में आपने पढ़ा की कैसे मैं और नम्रता जल्दी ही नजदीक आ गए। मेरी अय्याश्पन और नम्रता को लंड की भूख ने हम दोनो को चुदाई की आग में धकेल चुका था, और नम्रता मेरे लंड को हाथों में लेकर जोर जोर से हिलाने लगी। और फिर उसने नीचे झुका और मेरे लंड के सुपाड़े पर बिलकुल हल्के से ऐसे सेक्सी अंदाज में जीभ चलाई की मेरा पूरा शरीर सिहर गया। मैं समझ चुका था की नम्रता ना सिर्फ चुदाई की भूखी है बल्कि वह एक नंबर की चुदक्कड़ भी है और उसे चुदाई का हर गुण मालूम है। अब वह मेरे लंड को चाटना शुरू की और मुझे वह जन्नत का एहसास दिला रही थी जो आज से पहले मुझे नही मिला था।

दोस्तों चूत तो मैं बहुत चोदा था, लेकिन नम्रता जिस तरह मेरे लंड को चूस और चाट रही थी, अपने जीभ के कला से मेरे लंड के सुपाड़े में जो सनसनी मचा रही थी वह सच में बहुत स्पेशल था। अब मैं अपना एक हाथ आगे किया और उसके चूत पर लगा दिया तो वह अपना पैर फैला दी और मेरा हाथ अब आसानी से उसकी गीली चूत पर चलाना शुरू कर दिया। अब उसे भी बहुत मजा आने लगा। थोड़ी देर बाद मैने उसे 69 पोजिशन में आने को बोला तो वह अपना चूत मेरे मुंह पर रखकर आगे झुक गई और मेरे लंड को चूसने लगी। उधर मैं भी उसके चूत में जीभ डाल दिया और अंदर बाहर करने लगा। नम्रता पूरी तरह सिहर गई और अपनी चूत मेरे मुंह पर दबाने और रगड़ने लगी।

नम्रता बोली मेरे साजन जब तुम्हारी जीभ और उंगली मुझे जन्नत का सैर करा दी तो जब तुम्हारा लंड मेरी चूत में जाएगा तो मेरा क्या होगा

हम दोनो लगातार एक दूसरे को उत्तेजित कर रहे थे। और फिर मैं अपनी 2 उंगली का कोन बनाया और उसकी चूत में डाल दिया और जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा। और उसकी चूत के मोटे दाने को रगड़ने लगा। उसे यह हरकत बहुत अच्छा लगा और उसकी कमर अपने आप ऊपर नीचे होने लगी। मैं उसकी चूत में बहुत तेजी से उंगली कर रहा था। अब उसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसकी मुंह से जोर जोर से सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई निकलने लगी और वह मस्ती में चिल्लाने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओह अभी ये कैसा जादू तुमने मेरे चूत में कर दिया। ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. आज से पहले मुझे इतना मजा कभी नही आया। मेरीचुट को कभी नसीब नहीं हुआ इतना चटवाने का आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. तुम्हारी उंगलियां और जीभ तो लंड से भी ज्यादा मजा देता है आज तक मुझे लंड से भी इतना मजा नही आया ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. बेबी आज तो मैं खुशी खुशी तुमसे चूत फडवा लूंगी। आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. जब तुम जीभ और उंगली से इतना मजा दे रहे हो तो तुम्हारा लंड जब मेरे चूत में जायेगा मैं तो जन्नत पा लूंगी मेरी जान ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. हार्ड लिक माय बेबी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. चाटो मेरी चूत मेरे राजा उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. बहुत मजा दे रहे हो खा जाओ मेरी चूत को मेरी चूत से सारा पानी निकाल दो बेबी उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह…. सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. मैं तो धन्य हो गई मेरे सैयां।

आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. लगता है अब और नहीं रोक पाएगी मेरी चूत मेरे राजा ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. जोर से करो बेबी जोर से चाटो मैं झड़ने वाली हूं जान जोर से करो और वह अपनी चूत दबा के जोर जोर से मेरे मुंह पर रगड़ने लगी, और तभी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई… करते हुए उसकी चूत मेरे मुंह में स्वादिष्ट कामरस छोड़ने लगी सारा माल उसकी चूत से निकला और मेरे मुंह में आ गया मैं उस मल्टीविटामिन कामरस को पी गया और चाटकर उसकी चूत से एक एक बूंद निगल लिया अब वह शांत हो गई। लेकिन मैं भी भी लगातार उसकी चूत चाटे जा रहा था। वह भी मेरे लंड पर और जोर जोर से हमला बोल रही थी। उसकी थूक से मेरे लंड में पूरा गीलापन आ चुका था। और वह मुट्ठी में भर के मेरा लंड जोर जोर से हिला रही थी। उसके थूक से गीला होने के कारण मुझे बहुत मजा आ रहा था। और फिर मुझे लगा की मेरा भी लंड अब वीर्य उगल देगा, तो मैं बोला नम्रता मेरा माल बाहर आने वाला है तो वह और जोर जोर से लंड हिलाने लगी और जैसे ही मेरा कमर हिलना शुरू हुआ वह मेरे लंड को मुंह में भर व और जोर जोर से ऊपर नीचे करने लगी। और मेरा पूरा माल उसके मुंह में गिर गया। शायद उसे वीर्य पीना पसंद था इसीलिए वह मेरे लंड से निकले आखिरी बूंद तक निगल गई। और फिर मेरे लंड को चाटकर साफ़ की। फिर वह सीधा हुई और मेरे ऊपर आ गई। और मुझे किस करने लगी। मैं भी उसे बांहों में जोर से भींच लिया और जोर जोर से किस करने लगा।

नम्रता मेरे लंड को अपने चूत के छेद पर लगाकर अपना कमर जोर से नीचे दबाई तो खचाक की आवाज के साथ मेरा समूचा लंड उसकी चूत में समा गया

फिर वह अपना जीभ मेरे मुंह में दे दी और मैं उसके जीभ को चूसने लगा। और अपना हाथ नीचे ले जाकर उसके गोल मटोल चूतड़ों को दबाने लगा। उसके अंदर फिर से मस्ती चढ़ने लगा और वह अपना कमर हिलाने लगी जिससे मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा। उसके चूत पर हल्के हल्के बाल थे जिस कारण मेरे लंड में चुभ रहा था जो एक अलग सनसनी दे रहा था। अब मेरा लंड पूरे जोश में फिर से आ चुका था। और नम्रता की कमर भी तेजी से हिलने लगा था। अब वह थोड़ा और ऊपर हो गई जिससे मेरा लंड का घर्षण उसके चूत के दाने पर होने लगा। वह अपने चूत पर मेरे लंड का स्पर्श पाकर पूरी जोश में आ चुकी थी। और जोश में उसने मेरे होंठो को दांत से काट ली। वह बहुत सेक्सी थी और पूरी हॉर्नी हो चुकी थी। फिर वह सीधा हुई और मेरे लंड को हाथों से पकड़ी और अपने चूत के छेद पर लगाई। और जोर से नीचे दबा दी, जिससे मेरा लंड जड़ तक उसकी चूत में समा गया। और फिर वो आगे झुकी और मुझे किस करने लगी मैं उसके कमर और चूतड़ों को दबाने लगा। और फिर वह सीधा हो गई और जोर जोर से मेरे लंड पर कूदने लगी।

वह पूरी रफ्तार से चोदते हुए सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हाफ हार्ड बेब फक हार्ड सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह की कामुक आवाज निकाल रही थी। पूरा केबिन मादक सिसकारियां से गूंज रहा था। और शायद बाहर भी ये आवाज जा रहा था क्योंकि एसी कंपार्टमेंट में बहुत शांति और सन्नाटा रहता है। लेकिन हमारा ध्यान ऐसी बातों पर था कहां हम तो बस चुदाई के महासागर में गोते लगा रहे थे। नम्रता जोर जोर जोर से चोदे जा रही थी। और मैं उसकी चूत पर चुदाई का आनंद ले रहा था। चुदाई करते लगभग 15 मिनट हो गया था और नम्रता 2 बार झड़ चुकी थी। और वो जब भी झड़ती थी पूरा सिट हिला देती थी। उसके चूत का पूरा जोर मेरे लंड पर निकलता था। अब वो थोड़ा थकने सी लगी थी। तो वह नीचे झुकी और मुझे किस करने लगी और मुझसे बोली जान मैं अब थक चुकी हूं अब तुम मोर्चा संभालो और मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दो। जितना मर्जी मुझे चोद लो। फिर मैं उसे नीचे किया और उसकी गांड के नीचे 2 तकिया लगाया जिससे उसकी चूत बिलकुल ऊपर हो गया, और फिर मैं पूरे रफ्तार से उसे चोदना शुरू किया।

जल्दी ही उसे मजे के सातवें आसमान का एहसास होने लगा और वह चिल्लाना शुरू कर दी फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हाफ हार्ड बेब फक हार्ड सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह…..फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हाफ हार्ड बेब फक हार्ड आहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत अभी फाड़ दो मेरी चूत। चोदो हहहहहहहहहहहह…….. जोर से चोदो आहहहहहहहहहहहहहहह……

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह….फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हाफ हार्ड बेब फक हार्ड फक माइ पुसी बेब फक ओह अभी यु आर सो सेक्सी जान उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह…. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. इरर्राहहहहहहहहह.. चोदो मेरी जान चोदो…. आआआहहहहहहह चोदो मेरी चुत। चोदो इरर्राहहहहहहहहहहहहहह…….. फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हार्ड बेब फक हार्ड फक माइ पुसी बेब फक ओह जानू यु आर सो नाइस हैंडसम हंक यु आर किंग बेब यु और माय हर्टबीट आहहहहहहहहहहहहहहह……

आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह….फक मि डार्लिंग फक मि। आहहहहहहहहहहहहहहहहह, हाफ हार्ड बेब फक हार्ड फक माइ पुसी बेब फक ओह उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. फक हार्ड स्वीटहार्ट डीप फक फक माय जूसी पुसी हनी फक हार्ड यु आर बुल बेब फक माइ जुसी पुसी उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… .सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ईईर्ररर्राहहहहहहहहह… ऊँहऊँहऊँहउहहहहहहहहहहह बेबी….. सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. फक मय पुसी किंग ओह माइ किंग ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहह

नम्रता बोली जान तुम्हारा आदमी का लंड है या घोड़े का। इतना चुदाई के बाद भी इसका पेट नही भरा। और फिर से चूत के लिए फूंफकारने लगा तो मैने कहा जान यह फिर से चूत के लिए नहीं बल्कि तुम्हारी सीलबंद गांड के लिए फुंफकार रहा है

मैं पिछले 20 मिनट से उसे चोद रहा था हमारी चुदाई को आधे घंटे से अधिक हो गया था और नम्रता 4 बार झड़ चुकी थी। फिर मेरा लंड से माल गिरना शुरू हो गया और नम्रता अपना कमर उठा उठा कर मेरे लंड का पानी अपने चूत में सोखने लगी। और बोली जान अपने लंड का पूरा रस मेरे चूत को पिलाओ एक बूंद भी बाहर नहीं गिरना चाहिए। और वह मैं शांत हो गया और उसके ऊपर लेट गया तो वह अपने पैर से मेरे कमर को कस ली और बोली बेबी अभी मत हटना पूरा माल मेरे बच्चेदानी में जाने दो मैं चाहती हूं तुम्हारा वीर्य का आखिरी कतरा तक मेरी बच्चेदानी सोख ले।

अब हम दोनो ठंडे हो चुके थे। फिर 10 मिनट बाद उसके ऊपर से हटा और उसी सिट पर उससे चिपक के लेट गया। और हम फिर से एक दूसरे को चुम्मा चाटी करने लगे तो जल्दी ही मेरा लंड फिर से सलामी मारने लगा तो नम्रता बोली जान तुम्हारा आदमी का लंड है या घोड़े का। इतना चुदाई के बाद भी इसका पेट नही भरा। और फिर से चूत के लिए फूंफकारने लगा। तो मैं धीरे से उसकी कान में बोला बेबी यह फिर से जरूर अकड़ गया है लेकिन इसे अबकी चूत नही बल्कि गांड चाहिए। तो नम्रता बोली नही बेबी मैं कभी गांड नही मरवाई हूं, मैं नहीं कर सकती मैने सुना है बहुत दर्द होता है, और फिर मैं उसको समझाया की जान मैं आराम से चोदूंगा। अगर दर्द होगा तो मैं निकाल लूंगा। बड़ी मुश्किल से वह गांड मरवाने के लिए तैयार हुई। और फिर मैं उसकी गांड भी मारा। पहली बार वह गांड मरवाई थी इसलिए शुरुआत में उसे दर्द जरूर हुआ लेकिन फिर उसे बहुत मजा आया तो वह गांड उठा उठा के गांड मरवाई।

उस रात हम 3 बार चुदाई किए और दिल्ली 1 बजे ट्रेन से उतरने से पहले भी एक बार चुदाई किए। और फिर हम दोनो एक दूसरे का नंबर एक्सचेंज किए,और मैं उसे शाम के सिस्टर के एनिवर्सरी के लिए इनवाइट किया तो वह मान गई। और फिर हम अलविदा हो गए।

उसके बाद मैं उसे सिस्टर के घर में उस रात चोदा और सिस्टर से बोल के उसे अपने घर में ही रखवा दिया और फिर हम दोनो वहां एक हफ्ते रुके और जम के चुदाई किए। और फिर उसी दौरान वह बताई की उसके हसबैंड में स्पर्म की समस्या है इसीलिए हमारा बच्चा नहीं हो रहा है। और फिर हम रांची आ गए लेकिन रांची आते ही वो एक महीने के लिए अपने हसबैंड के पास कलकत्ता चली गई। और एक दिन मुझे मैसेज की।बधाई हो अभी तुम बाप बनने वाले हो। और मैं तुम्हारे बच्चे की मां बनने वाली हूं।

दो दोस्तों यह सफर की चुदाई आपको कैसी लगी कितना मजा आपको आया कमेंट करके बताना मत भूलना।

ऐसी कयामत भरी चुदास कहानी पढ़ने के लिए https://nightqueenstories.com पर बने रहना। हम आपको पूरा यकीन दिलाते हैं आपकी पसंद की हर कहानियां लेकर आएंगे। और चुत औऱ लन्ड की गर्मी शांत करते रहेंगे।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “फर्स्ट क्लास चुदाई भाग -1

हिंदी की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे Indian Antarvasna Sexy Hindi Seductive Stories

इंग्लिश की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे  Best Real English Hot Free Sex Stories

Meet Women Online!!

धन्यवाद।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *