झाटो वाली चुत की चाहत

झाटो वाली चुत की चाहत – Pregnant अफ्शा को चोदता था जुनेद!

 

“साकिब , यार ये बता की आज कल लड़कियों को हो क्या गया है ?”

“अरे भाई जुनेद , मसला भी तो बता , आज कल की लड़कियों से तुझे क्या तकल्लूफ है ?”

“भाईजान , झाट के बाल ही नहीं होते इनके। ”

साकिब हो हसी आगई जुनेद की ये बात सुनकर और उसने जुनेद से आगे कहा , “तो ये अच्छी बात है की चिकनी चुत चूसने और चोदने का मौका मिलता है हमे। ”

“भाईजान , झटो वाली चुत का मज़ा ही कुछ और है। खेर छोड़ो आप नहीं समझोगे। ” अपने मन की ये अनजान लालसा अपने साथ लेकर जुनेद वहा से चला गया।

Cheating Wife

वैसे जुनेद शादी शुदा था लेकिन उसे बहार चुदाई करने का भी शोक था , उसकी कुछ girlfriends थी जिनके साथ अपनी मन मर्ज़ी के हिसाब से वह सोता था और उसकी हर girlfriend की कोई न कोई खासियत थी जिसकी वजह से उसे उन में रूचि थी। अब उसे किसी ऐसी औरत की तलाश थी जिसके काफी ज़यादा झाट के बाल हो। जुनेद के पास पेसो की भी कोई कमी नहीं थी , वह एक pharma factory का मालिक था।

एक दिन घर पर सोये जुनेद की आखे अचानक से खुल गई , उसने चुदाई का सपना देखा जिसमे वह एक काफी लम्बे झाटो वाली औरत की चुदाई कर रहा था। उसके सर पर हवस सवार थी और उसकी बगल में उसकी बीवी गहरी नींद सो रही थी। जुनेद ने अपनी बीवी की सलवार खोली और उसके पैर फैलाकर उसकी चुत को चाटने लगा।

जुनेद की बीवी की चुत गीली होती जा रही थी , उसकी बीवी नींद में ही बड़बड़ाने लगी , “आह… शफी , आज तो काफी जोर दार मुद बनाकर आये हो। ”

शफी ये नाम सुनकर जुनेद के होश ही उड़ गए , शफी जुनेद की factory में काम करता था और जुनेद के सारा भागदौड़ वाले काम संभालता था। जुनेद ने चुत की चटाई रोक दी और अपनी बेगम को निनद से उठाकर उसके साथ काफी झगड़ा किया। जुनेद की बेगम को भी जुनेद की बेवफाई की पूरी जानकारी थी , इसीलिए वह ज़यादा कुछ नहीं कर पाया और घर से चला गया।

रात को उस वक़्त उसे बस एक ही दोस्त का ख्याल आया और उसने साकिब को call लगाया। साकिब जुनेद की तरह राईस नहीं था , उसकी एक आम नौकरी थी और एक छोटे से मकन में वह रहता था। लेकिन दिल खोल कर उसने जुनेद का घर में स्वागत किया , जुनेद ने सारी बात साकिब को बताई और फिर साकिब ने उसे शांत करके अपने hall वाले sofa पर सुलादिया।

कुछ देर बाद अचानक पायल के हकले शोर से जुनेद की आँख खुल गई और उसने उठ कर यहाँ वहा देखा। कोई नज़र नहीं आया तो आवाज़ का पीछा करते हुए कमरे से बहार गया।

तभी उसे एक बेहद खूबसूरत सी pregnant औरत दिखी जो बहार बने bathroom में जा रही थी। चुप चुप कर जुनेद ने उसका पीछा किया और फिर bathroom के दरवाजे में बने crack से अंदर भी उसे देखा। औरत पेशाब करने bathroom आई थी , उसने अपना gown उठाया और पेरो को फैलाकर बैठी और पेशाब की लम्बी धार छोड़ी।

ओह उसके कमाल के जिस्म को देख तो जुनेद पूरी तरह से उस वक़्त हवस में दुब गया। उस औरत की गोरी गोरी टैंगो के बीच काले बालो का घना गुच्छ था , उसके झाट के बाल काफी बड़े थे और उसका pregnant पेट भी काफी ज़यादा sexy था।

जुनेद को लगा जैसे की जिस लड़की की उसे तलाश थी चुदाई के लिए वह यही लड़की थी। पेशाब होने के बाद उस औरत ने पानी से अपनी चुत साफ़ की और जुनेद थोड़ी दूर जाकर दोबारा चुप गया। जुनेद उसे देखर मुठ मरने लगा और झड़ भी गया , उसे ठीक से नींद नहीं आई उस रात उसे सुबह का इंतज़ार था। साकिब से बात करके उसे इस लड़की के बारे में सबकुछ पता करना था।

सुबह जैसे ही उसे साकिब दिखा वह साकिब के पास गया जल्दी से और उसने साकिब से पूछा , “भाई वह लड़की कौन है जो pregnant है ?”

“क्यों ?तू कब मिला उससे?”

“मै उसे मिला नहीं बस देखा मेने उसे कल रात। ”

“अच्छा , वह मेरी साली है अफ्शा , कुछ दिन हमारे साथ रहने आई है। ”

“ओहो। ”

“कमीने क्या तूने उसपर अपनी नज़र गड़ादी ? मेने तुजे रहने की जगह दी और तू…”

“अरे भाई नाराज़ क्यों होता है , मैं कहा कुछ कह रहा हु। ”

“हाँ बस , ये गन्दा ख्याल भी अपने ज़ेहन मे मत लाना। ”

“हम्म ठीक है भाई , शुक्रिया मुझे कल घर पर रखने के लिए , चल अब मैं चलता हु। ”

जुनेद साकिब के घर से चला गया और उस दिन पूरा वक़्त अफ्शा के खयालो में ही डूबा रहा। उसने ठान ली थी की वह किसी भी हाल में अफ्शा को चुदाई के लिए मना लेगा।

चोरी चुपके अगले कुछ दिनों तक उसने अफ्शा का पीछा किया और फिर एक दिन सब्ज़ी मंडी में उसे अकेला देख कर वह अफ्शा से मिला। “सलाम , आप अफ्शा है ना?”

“सलाम , माफ़ करे लेकिन मेने आपको पेहछाना नहीं। ”

“मेरे नाम जुनेद है और मैं साकिब भाई का दोस्त हु , काफी करीबी , मेने आपको ऐसे अकेले देखा तो सोचा आपको अपनी गाड़ी मैं घर छोड़ दू। ”

“अरे अब ख्याल आया मुझे , आप एक रात के लिए हमारे घर रूखे थे ना। ”

“जी बिलकुल। ”

“अरे आप तकल्लुफ ना करे मैं घर चली जाउंगी। ”

“बिलकुल नहीं , इसमें कोई तकल्लुफ नहीं है। आप चले मेरे साथ , में आपको घर छोड़ देता हु। ”

बातो बातो में जुनेद ने अफ्शा को अपने साथ आने के लिए मना लिया और अपनी गाड़ी में उसे बिठाकर चल पड़ा।

गाड़ी में काफी मीठी मीठी बाते की जुनेद ने और फिर उसने अफ्शा से पूछा , “आपके सोहर ?”

“वह काम के लिए दुबई में है , में यहाँ बस अपने सास और ससुर के साथ रहती हु। ”

“हम्म , वैसे अफ्शा अगर आप बुरा ना मनो तो एक बात कहना चाहता हु आपसे। ”

HairyPussy

“हाँ कहो बिलकुल। ”

“आप बेहद खूबसूरत है। ”

जुनेद से अपनी तारीफ सुनकर अफ्शा का खून मानो जैसे उसके गालो में उतर गया था , वह जुनेद से कुछ भी नहीं कह पाई। जुनेद ने आगे कहा , “आपको पता है , मेरी हालत भी आपकी ही तरह है। आपके शोहर आपसे दूर है और मेरी बीवी मेरे पास होते हुए भी मेरे पास नहीं। ”

“मतलब ?”

“उसे मुझसे बस नफरत सी है , कभी बताया नहीं क्यों लेकिन बस अंजानो की तरह साथ जीते है। ”

“”तो आपके कोई बच्चे नहीं है ? ”

“नहीं , शादी के बाद भी हमारा कोई जिस्मानी रिश्ता नहीं हो पाया। ”

“ओह , बहुत अजीब सी बात है ये तो। ”

“अजीब बात ये नहीं , मैं जो अब कहूंगा वह है। ”

“मतलब। ”

“देखो अफ्शा , मैं नहीं जनता सही या गलत क्या है , लेकिन मुझे तुम बेहद खूबसूरत लगती हो। क्या तुम बस थोड़ी देर के लिए ये भूल सकती हो की तुम किसी की बीवी हो। ”

“ये क्या कह रहे है आप। ” अफ्शा हैरान थी लेकिन नाराज़ नहीं , उसका भी अपना अलग दर्द था , जो शायद जुनेद ने बहुत खूब उसके चेहरे पर पड़ लिया था।

“बात बहुत साफ़ है। ” अफ्शा खामोश रही और जुनेद ने गाड़ी को एक समसाम जगह रोक दिया। दोनों की नज़रे मिली और फिर जुनेद ने अफ्शा के होठो को चुम लिया। अफ्शा के जिस्म में हलचल सी मच गई , कही महीनो से उसे किसी ने इस तरह छुआ नहीं था। चूमते हुए जुनेद अफ्शा के पुरे जिस्म को महसूस करने लगा। अफ्शा को काफी अच्छा लग रहा था जिस तरह से जुनेद उसे चुम रहा था और छू रहा था।

उसने अफ्शा की चूचियों को दबाया तो उनमे से दूध निकल आया। अफ्शा ज़ोर सी चीखी , “आह…”

जुनेद , “आपकी चूचियों में दूध है ? पिने में बहुत मज़ा आएगा। ”

“ठीक है , रुको में अपनी कमीज ऊपर करदेती हु। ”

अफ्शा ने अपनी कमीज को ऊपर करदिया , उसने bra नहीं पहना था , अफ्शा की चूचिया दूध बनने के कारन काफी बड़ी हो गई थी और उसके nipple भी काफी लम्बे थे , भूरे किशमिश की तरह। जुनेद उन्हें हलके से दबाते हुए अफ्शा का दूध पीने लगा। “वा अफ्शा , बहुत मीठा दूध है तुम्हारा। ”

“हम्म , अच्छा लग रहा है जिस तरह से तुम चूस रहे हो। ”

फिर जुनेद ने अफ्शा की सलवार में अपना हाथ डाला और अफ्शा ने उसे रोकने की कोशिश की यह कहकर की , “जुनेद मेरी वहा बाल है। ”

“यही तो सबसे अच्छी बात है , मुझे झाटो वाली चुत पसंद है। ”

फिर जुनेद ने अपना हाथ अफ्शा की सलवार में डाला और उसकी चूचिया चूसते हुए उसकी चुत में ऊँगली करता रहा।

जब अफ्शा की चुत काफी गीली होगई थी , तब जुनेद ने उसकी सलवार पूरी हटाई और गाड़ी की seat को पीछे कर उसने अफ्शा को लेटा दिया। अफ्शा की टैंगो के बीच आकर उसने अपना लंड अफ्शा की चुत में डाला।

उस वक़्त जुनेद काफी horny होगया था और उसने अफ्शा को अच्छे से पेला अपनी गाड़ी में , काफी वक्त बाद अफ्शा ने भी चुदाई का मज़ा उठाया। जबसे वह pregnant हुई थी उसकी चुदाई नहीं हुई थी और उसका काफी मन करता था।

ठुकाई के बाद जुनेद ने अफ्शा को घर छोड़ते वक़्त कहा , “अफ्शा में तुम्हे इस pregnant पेट के साथ पूरा नंगा देखना चाहता हु। ”

“आज रात आजाओ , में चुपके से बहार निकल सकती हु और फिर हम कही जा सकते है पूरी रात साथ बिताने। ”

Outdoor

“ठीक है फिर , रात के एक बजे तुम तयार रहना , में तुम्हे लेने आऊंगा। ”

जुनेद फिर अपने घर चला गया और अफ्शा ने उसे अपनी काफी सारि नंगी तस्वीरें भेजी। दोनों को रात होने का इंतज़ार था , जुनेद ने एक होटल का कमरा book कर रखा था चुदाई के लिए।

अफ्शा चुपके से एक बजे घर के बाहर निकली और उसने देखा की जुनेद की car gate के पास ही खड़ी हुई थी। वह जल्दी से जा कर कार में बैठ गई और उसने जुनेद की आखो में देखा। जुनेद की आखे अफ्शा को देख चमक रही थी , ख़ुशी के मारे। अफ्शा ने मुस्कुराते हुए कहा , “तुम्हारे लिए मेने एक खास इतर भी लगाया है। अब चलो जल्दी। ”

जुनेद ने गाड़ी वहा से निकाली और दोनों ने hotel में check in किया। कमरे के अंदर आते ही अफ्शा bathroom में गई और जुनेद से कहा, “इस बार मुझे चोदते वक़्त तुम condom मत पहनना। ”

जुनेद अपना खड़ा लंड खोलकर पूरा नंगा होगया और अफ्शा भी जब बाहर आई तो वह पूरी नंगी थी। pregnant पेट और झट के बालो के साथ अफ्शा जुनेद को बहुत ज़यादा sexy लग रही थी। वह मटकते हुए जुनेद के पास आई और फिर उसके लंड के पास झुक गई , अफ्शा जुनेद का लंड चूसने लगी , उसने जुनेद के लंड को अपने दूध से भी नहलाया जिसका जुनेद ने बहुत मज़ा लिया।

फिर जुनेद ने अफ्शा को बिस्तर पर लेटाया और कहा , “यार तुम्हारी झाटो वाली चुत को चाटने का बहुत मन था मेरा। ”

अफ्शा ने अपनी टैंगो को फैलाया और जुनेद से कहा , “अच्छे से चाटो मुझे। ”

जुनेद ने पहले तो चुत को चूमिया दी और फिर उसने अफ्शा की चुत को चाटना और चूसना शुरू किया। अफ्शा माज़े से कराह रही थी , “आ आ… जुनेद, अब बस चोदो मुझे जल्दी से। ”

फिर जुनेद ने अपना लंड अफ्शा की चुत में डाला। अफ्शा की टंगे पूरी तरह फैली थी और वह बिस्तर के कोने पर लेटी थी, जुनेद खड़ा होकर अफ्शा को चोद रहा था। अफ्शा की बड़ी चूचिया और पेट दोनों हिल रहे थे जुनेद की चुदाई से। टपाटप टपाटप जुनेद ने अफ्शा को चोदा और फिर उसके बदन पर झडगाया , वह अफ्शा के पास लेटा और तब अफ्शा ने उसे पूछा , “तुम्हे मेरे झट के बाल क्यों इतने पसंद है। ”

“क्युकी तुम्हारे झाट के बाल तुम्हारी चुत की खुशबु को बरक़रार रखते है। ”

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

तो आप सब अपना ख्याल रखिएगा। कोविड का सिचुएशन है तो अपना विशेष ख्याल रखिएगा। नमस्कार।

50% LikesVS
50% Dislikes

One thought on “झाटो वाली चुत की चाहत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *