चांदनी रात में नग्न समंदर बीच पर पति-पत्नी की थ्रीसम चुदाई। पार्ट-2

अब मेरी बारी थी।

आपने देखा कि कैसे मेरी प्यारी पत्नी लायबा सबके सामने समंदर किनारे बीच पर मैक्स और उसके दोस्त के मोटे तगड़े लंड से अपनी चूत की आग बुझाई। और एक रंडी की तरह मेरे मुँह में उसका वीर्य गिराई।

अब बारी मेरा था। इस नग्न बीच पर अलग एहसास मिल रहा था। चांदनी रात में समंदर चमक रही थी। साथ ही नंगी लड़कियों के जिस्म भी। जिसमे कइयों के चूत बिल्कुल साफ दिख रहे थे। तो कइयों के चूत हल्के बालों से ढके हुए थे। जिनमे ज्यादातर अधेड़ महिलाएं थी। हाँ कुछ ऐसी भी महिलाएं थी जो पैंटी में थीं लेकिन उनकी चुचियाँ किसी फुटबॉल की तरह खुले हिल रही थी। ज्यादातर मर्द बिल्कुल नंगे ही थे। जिनके लंड लटक रहे थे। कुछ मर्द औरतें खुलकर चुदाई कर रही थी। तो कुछ किसी के लंड को चूस रही थी कुछ मर्द औरतों के चूत को चाट रहे थे। मतलब कुल मिलाकर ज्यादातर जोड़े चुदाई में व्यस्त थे। कुछ जोड़े तो पानी मे ही चुदाई का आनंद ले रहे थे।

लायबा जब अपनी चूत मैक्स से चुदवाकर आई तो थोड़ी थक गई थी। और आते ही लेट गई। और थोड़ी ही देर में उसे नींद आ गई। फिर मैं धीरे से उठा और पानी में तैरने चला गया।  कुछ देर तैरने के बाद, मैंने देखा कि उन्ही जोड़े में से एक महिला जिसका नाम निक्की था, मेरे पास आई और मुझसे बात करने लगी, वह बहुत खुश थी।  मैंने देखा कि उसका साथी रेत पर बैठा है और हाथ हिला कर हमें चीयर कर रहा है। फिर थोड़ी दसर ऐसे ही बात करने के बाद,  फिर उसने कहा कि चलो अब चलते हैं। हम पानी से बाहर निकले।   वह मेरा हाथ पकड़े हुए थी।  हम वहां पहुंचे जहां निक्की का साथी स्मिथ था।, उसने हमें बैठने के लिए कहा।  मेरी पत्नी अभी भी सो रही थी।  तब निक्की ने पूछा कि किसका वीर्य तुम्हारे मुंह में गिरा था।  यह थोड़ा शर्मनाक था।  तब स्मिथ ने कहा कि क्या तुम निक्की की चूत चाटना और चोदना चाहोगे। मैंने कहा कि मैं यह सब अपनी पत्नी की अनुमति के बिना नहीं करना चाहता।  तो निक्की ने कहा ओह कम ऑन बेबी, ज्यादा वक्त नहीं लगेगा।  और तुम्हारी पत्नी भी अब सो रही है, उसे कुछ पता नहीं चलेगा।  बीच पर एक तंबू था जिसमे बाहर से अंदर कुछ नहीं दिखाई देता था। निक्की मेरा हाथ पकड़ कर उठ खड़ी हुई।

 और हम तीनों खाली तम्बू में पहुँच गए।  और जैसे ही हम अंदर गए निक्की ने मुझे हल्का सा धक्का दिया और मैं रेत पर पसर गया।  निक्की मेरे पास आई और अपनी चूत मेरे मुँह पर रख दी।  उसकी चूत से एक अजीब सी महक आ रही थी, साथ ही उसकी चूत से रस भी निकल रहा था।  मैं उसकी चूत चाटने लगा और वो अपनी चूत मेरे मुँह पर रगड़ने लगी।  स्मिथ ने आगे आकर अपना मोटा लंड निक्की के मुंह में डाल दिया.  उसने उसका सिर पकड़ लिया और उसके मुंह में चोदने लगा।  निक्की भी उत्तेजित हो गई और अपनी चूत को मेरे मुँह पर जोर से रगड़ने लगी।  और स्मिथ का लंड चूसने लगी। उसकी लंड को वो पूरी तरह निगल ले रही थी। कभी कभी तो स्मिथ इतना जोर से उसके मुंह मे लंड को दबा रहा था कि उसकी सांसे बन्द हो जा रही थी।  फिर निक्की ने अपनी गांड उठाई और कुत्ते की तरह आगे झुक गई और मेरे मुँह के सामने उसकी चूत थी।  फिर स्मिथ ने वापस आकर निक्की की चूत में अपना बड़ा लंड एक झटके में डाल दिया। और जोर जोर से चोदने लगा। वह खूब जोर जोर से उसकी चूत को चोद रहा था। जिससे निक्की की चूत से पानी निकलकर मेरे मुंह पर चु रहा था।

निक्की टेंट के पोल को पकड़े हुए थी।  यह मेरे लिए एक नया अनुभव था, फिर निक्की ने चाटने का इशारा किया।  और मैं स्मिथ के लटके हुए अंडों को चाटने और सहलाने लगा।  साथ ही मैं निक्की की चूत के दाने को भी अपने हाथों से रगड़ रहा था।  मैंने अपने जीवन में पहली बार किसी दूसरे आदमी का लंड और अंडा चाटा।  अचानक स्मिथ ने निक्की की चूत से अपना लंड खींच कर मेरे मुँह में डाल दिया.  मुझे थोड़ा अटपटा लगा लेकिन वह थोड़ी देर शांत रहा और फिर  मैं सहज हो गया और उसका लंड चाटने लगा।  कुछ देर बाद निक्की ने फिर से स्मिथ का लंड मेरे मुँह से निकाला और अपनी चूत में डाल ली। क्योंकि वह अभी भी चुदना चाहती थी।  फिर स्मिथ जोर जोर से चोदने लगा। निक्की आहहहहहहह हहहहहहह  उहहहहहहहहहहहह चीला रही थी। वह जोर जोर से कह रही थी। कि चोदो मेरी चूत स्मिथ। जोर जोर से चोदो। वह उसे गाली भी दे रही थी। मैं तो आश्चर्य हो गया। वह कह रही थी। चोद साले भड़वे चोद मेरी चूत को। चोद चोद कर फाड़ दे मेरे चूत को। मेरी प्यासी बुर की आग बुझा साले हरामी। अपनी रंडी निक्की के चूत को फाड़ दे। मैं तो तेरे लंड की इसीलिए दीवानी हूँ। तू हर बार मुझे चरमसुख का अनुभव कराता है। आह हहहहहहह हहहहहहह, आह हहहहहहह हहहहह मेरे सैंया क्या मस्त चोदता है रे तू। तेरा मोटा लंड मेरी चूत को चोद चोद के सूजा देता है।  दूसरी तरफ मेरा लंड भी पूरी तरह सूज गया था.  और ऊपर और नीचे हो रहा था।  इसी बीच निक्की की चूत पानी छोड़ने लगी। वह चिलाई आहहहहहहहहह आहहहहहहहहह मैं झड़ रही हूं। स्मिथ चोदो अपना लंड मेरे बुर में

दबा के चोदो जान। और उसकी चूत से झरने की तरह पानी बहने लगा और मेरे मुँह में गिरने लगा।  मुझे भी यह अहसास बहुत पसंद आया।  और मैंने उसकी चूत रस पिया।  फिर निक्की शांत होने लगी।  अब वह पूरी तरह से ठंढी हो गई थी। अब मुझे भी चूत की जरूरत थी। तभी  फिर निक्की अलग हो गई और स्मिथ ने अपना लंड मेरे मुंह में डाल दिया और चोदने लगा।  उधर निक्की ने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और अपनी मुट्ठी में ले लिया, और जोर-जोर से हिलाने लगी।  फिर स्मिथ के लंड ने मेरे मुँह में गर्म वीर्य डालना शुरू कर दिया, उसका स्वाद नमक जैसा था।  मैंने कुछ वीर्य निगल लिया लेकिन कुछ अपने मुँह से निकाल लिया। तभी मुझे लगा कि मेरे लंड से भी पानी निकलने वाला है.  और फिर मैंने निक्की के मुंह में जोर से चोदना शुरू कर दिया।  और फिर वो समय भी आया और मेरे लंड ने निक्की के मुँह में गर्म वीर्य डाल दिया।  निक्की ने उसे पी लिया और फिर चाट कर मेरा लंड साफ कर दिया।  मैं निक्की का चूत चोदना चाहता था लेकिन मैं बिना चूत में लंड डाले ही जल्दी झड़ गया, जिसकी वजह से मुझे थोड़ी शर्मिंदगी भी महसूस हुई।

और फिर हमने इस वादे के साथ फ़ोन नंबर साझा किए कि हम भविष्य में फिर से इस तरह का चुदाई का मज़ा लेंगे। निक्की ने भी कहा कि अगली बार मैं तेरा लंड अपने चूत में लुंगी।   इतना कहकर हम टेंट से बाहर आ गए।

और मैंने देखा मेरी प्यारी बीवी अभी भी सो रही थी।  मैं लायबा के पास गया, उसे धीरे से उठाया फिर हम उस नग्न समुद्र तट से घर वापस आ गए।  मैं और मेरी पत्नी दोनों बहुत खुश थे।  यह मजेदार और अलग सी चुदाई अब हमारे जीवन का हिस्सा था।  हम इसे अब पूरी तरह से जीना चाहते थे।  सब कुछ बहुत ही रोमांचक और अनोखा था।

कुछ दिनों बाद मेरे नंबर पर कुछ फोटो आई और मैंने देखा कि मैं कैसे लंड चूस रहा था।  और कैसे मेरी प्यारी लायबा अपनी खूबसूरत प्यासी चूत को चटवा रही थी। और मोटे लंड से चुद रही थी।

 मैं जल्द ही अपना अगला अनुभव और असली सेक्स कहानी लेकर आऊंगा।  और मैं तुम सब को चूत और लंड के रस से गीला कर दूँगा।  तो फिर मिलते हैं तब तक के लिए दीजिए इजाजत…………

100% LikesVS
0% Dislikes

One thought on “चांदनी रात में नग्न समंदर बीच पर पति-पत्नी की थ्रीसम चुदाई। पार्ट-2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *