Amateur sex Aunty ki chudai Balo wali chut Behan chudai Bhabhi ki chudai Chachi ki pyasi chut Chikni chut Desi ladki Desi sex stories Erotic Stories Gand chudai Garm chut Hindi sex stories Hindi Stories Lust Stories milf Nangi ladki pyasi chut Romantic Sex Kahani Sex stories Sexstory अमीर औरत की चुदाई इंडियन बीवी की चुदाई ऑफिस सेक्स कमसिन कली किचन में चुदाई कुँवारी चुत कोई देख रहा है कोई मिल गया गर्म चुत गर्लफ्रेंड की चुदाई गांड की चुदाई चाची की चुदाई दर्दभरी चुदाई देसी चुदाई कहानी देहाती लड़का नौकर से चुदाई पुलिसवाली की चुदाई बस में चुदाई बहन की रसीली चुत बाथटब चुदाई बालकनी में चुदाई बुआ की चुदाई बड़ी चूचिया भाई बहन की चुदाई भाभी की चुदाई भूखी मलाईदार चुत माँ की प्यासी चुत रंडी बनी माँ रसदार चुत रसीली चुत राजनीति और हवस शहर की चुत सामूहिक चुदाई सिनेमा हॉल में चुदाई सेक्स कहानी सेक्स स्टोरी सेक्सी कहानी

कॉल गर्ल का सफर

कॉलेज गर्ल से कॉल गर्ल तक का सफर

मैं हूँ ऋचा और ये मेरी कहानी है मेरी अपनी। जिसे मैंने जिया है। एक स्टूडेंट जो पढ़ाई में मेधावी थी। जिसे सहेलियों के रोमांस और अय्याशियों से कोई सरोकार नहीं था। था तो सिर्फ एक बात और वह था पढ़ाई और कुछ करने गुजरने की लालसा।

जी हाँ दोस्तों सही सुना आपने यह कहानी कुछ ऐसे ही है। दरअसल मैं एक होनहार स्टूडेंट थी लेकिन मेरी एक गलती ने मुझे कॉलेज गर्ल से कॉल गर्ल मतलब वेश्या बना दिया।

यह कहानी आज से 7 साल पहले का है। मैं एक प्राइवेट कॉलेज से BBA कर रही थी। उस समय मेरी उम्र 21 साल था। मेरी सभी सहेलियों के बॉयफ्रेंड थे लेकिन मुझे इसमें कोई इंटरेस्ट नही था। सभी सहेलिया मुझे इस बात का ताना देती थी कि तुझमे सेक्स नही है क्या तू है इतनी खूबसूरत पूरा कॉलेज तुमपर पागल हुआ रहता है लेकिन तुझे कोई मतलब ही नही।

मेरी सभी सहेलियों के बॉयफ्रेंड थे कुछ के तो एक से ज्यादा। ही थे। और सभी सहेलिया चुदवाती थी और बॉयफ्रेंड के पैसों पर अय्यासी करती थी। उनके बॉयफ्रेंड उनपर खूब पैसा लुटाते थे।

मैं एक मिडिल क्लास परिवार से बिलोंग करती थी। मेरे पिता ऑटो ड्राइवर थे। और बड़ी मुश्किल से हम भाई बहनों को पढ़ाई लिखाई करवाये थे। मैं जब BBA करने गई तो मैं एक हॉस्टल में रह रही थी। वह गर्ल्स हॉस्टल था । लेकिन पैसा जो ना करवाए। होस्टल का वार्डन एक नम्बर का लालची और पियक्कड़ था। उसे बस 100 रुपए के नोट या दारू की पौआ मिल जाता था फिर लड़कियां पूरी रात बाहर रहती थी और कुछ के बॉयफ्रेंड तो हॉस्टल में ही रात गुजार देते थे।

मैं मेरा फिफ्थ सेमेस्टर चल रहा था और एग्जाम होने वाला था। लेकिन मेरे पास बुक लेने और कॉलेज के दूसरे कामो के लिए पैसे की कमी हो गई। मैं हमेशा से किसी तरह मैनेज करती थी लेकिन उस दौरान पिछले 3 , 4 महीनों से मुझे घर से पैसे कम मिल रहे थे। क्योंकि मेरे माँ का इलाज चल रहा था।

एक मेधावी छात्रा शहर की सबसे चर्चित सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत कॉल गर्ल कैसे बनी

मेरी 2 रूम पार्टनर थी। एक का नाम आभा और दूसरी का नाम चावी था। और दोनो के बॉयफ्रेंड थे। थी तो वो भी मिडल क्लास परिवार से लेकिन वो ऐसे रहती थी जैसे किसी राजा की बेटी हों शायद उनके बॉयफ्रेंड उनपर पैसे काफी खर्च करते थे। मेरी दोनो रूममेट अक्सर ही रात बाहर चली जाती थी और अपने बॉयफ्रेंड के साथ रहती थी।

उनका रहन सहन अमीरों जैसा हो गया था। और ढेर सारे ब्रांडेड कपड़े ज्वेलरी सबकुछ था उनके पास।

तो मुझे एग्जाम के फॉर्म फिलअप करने थे और कुछ बुक्स लेने थे लेकिन मेरे पास उतने पैसे नही थे। तो मैं उदास बैठी थी और सोच रही थी कैसे मैनेज करूँ। उस मेरी एक रूममेट गांव गयी हुई थी और 3 दिन बाद आने वाली थी। एक रूममेट रात बाहर बिता कर आई थी तो सो रही थी। वह 4 बजे ही हॉस्टल में आई थी। पूरी रात बाहर ही थी। तो दिन के 10 बजे थे। मैं बैठ के यही सोच रही थी कैसे मैनेज करूँ। तभी वह उठी और बाथरूम चली गई। जब बाहर आई तो मुझे उदास देखकर पूछी क्या हुआ तो मैं बोली कुछ नही। तो वह जोर देकर पूछने लगी तो मैं बताई की यार मेरे पास पैसे नही हैं और एग्जाम के फॉर्म भी भरने हैं। और बुक्स नही ले।पाऊंगी तो पढूंगी कैसे तो वह मुझे 4 हजार रुपये दी और बोली फॉर्म भर दो और बुक्स भी ले लो। तो मैं बोली कि यार तुमनये पैसे रहने दे क्योंकि तुझे भी जरूरत होगी और मैं अभी लौटा भी नाही पाऊंगी तो वो बोली तुम्हे जब लौटाना होगा तभी लौटाना अभी अपना काम करो। एयर मेरे पास हैं मैं काम चला लुंगी।

फिर मैं उसको थैंक्स बोली और दूसरे दिन फॉर्म भर के जमा कर दी और बुक्स भी ले आयी। शाम में हम दोनों रूममेट बैठे हुए थे जो मैं उससे पूछी तुम्हारा बॉयफ्रेंड कौसा है तो वो बोली ठीक है। अभी गांव गया हुआ है 15 दिन बाद लौटेगा।

तो मैं शॉक्ड हो गई क्योंकि कल तो वो यही बता के गई थी और पूरी रात बाहर थी कि बॉयफ्रेंड से मिलने जा रही हूँ। तभी उसे एहसास हुआ कि उससे गलती हो गई और अनजाने में सच बोल दी।

और वो मुझे घूरने लगी। फिर मैं बोली अब सच बताओ। तो वह बात को घुमाने लगी तो मैं बोली आभा बताओ तुम कल रात कहाँ गई थी। और तुम्हारा बॉयफ्रेंड गांव कब गया है। टैब वो बोली कि यार कैसे बताऊं मैं तुझे।

तो मैं बोली कि अब मुझसे भी बताने के लिए तुम्हे सोचना पड़ रहा है तो जरूर कुछ है जो तू मुझसे छुपा रही है बताओ क्या बात है।

तो वह बोली कि यार मैं बॉयफ्रेंड से मिलने नही गई थी वो तो पिछले 1 महीने से गांव पर है। तो मैं बोली लेकिन तुम तो हार्नदूसरे तीसरे दिन उससे मिलने जा रही हो। तो किस्से मिलने जाती थी।(यह कहानी आप https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं।)

तो वह जो बोली मैं शॉक्ड हो गई। दरअसल वो रात को हॉस्टल से बॉयफ्रेंड से मिलने नही जाती थी बल्कि क्लाइंट के साथ रात बिताती थी वह कॉल गर्ल यानी वेश्यावृति करती थी। वह चुत चुदवाकर पैसे कमाती थी।

वह बोली कि ऋचा तू तो जानती है कि मैं भी एक मिडिल क्लास परिवार से हूँ और बड़ी मुश्किल से मेरे पेरेंट्स मुझेंपैसे भेज पाते हैं और जो भेजते हैं उसमें कुछ होना नही है तू खुद इस चीज को झेल रही है तो समझ सकती है। तो मैं एक होटल वाले के।सम्पर्क में रहती हूँ और जब भी कोई ग्राहक आता है तो मुझे बताया देता है। और मैं वही जाती हूँ। मैं एक वेश्या हूँ। होटल वाला मुझे जितना मिलता है उसका 20% कमीशन रख लेता है।

मैं उसकी बातों को सुनकर सत्र थी मुझे कुछ शहद नही सूझ रहे थे उसके जवाब के लेकिन मैं फिर भी बोली। कि यार ये कब्स चल रहा है तो वह बताई की ये पिछले एक साल से मैं कॉल गर्ल का धंधा कर रही हूँ और मेरा बॉयफ्रेंड ही मुझे इस काम के लिए सबसे पहले बोला था।

तो मैं बोली लेकिन यार ये तो गलत है तू बाहर जाती है और ऑसि करती है अगर काभिनकुच हो गया तो। तो वह बोली कि रिस्क तो है लेकिन क्या करें माँ बाप पर कितना बोझ बनी सो रास्ता मिला तो अपना ली। फिर वह बताई की चावी भी यही करती है। हमदोनों ही उसी होटल के परमानेंट कॉल गर्ल हैं और हमारे जैसे कई कॉलग गर्ल और ऑन्टी भी उस होटल में धंधा करती हैं और पैसे कमाती हैं।

वो जैज़ जैसे ये सब बताते जा रही थी मैं और शॉक्ड होते जा रही थी। उस रात हम ढेर सारी बातें किये। और आभा मुझे सबकुछ बताई। अगले 2 दिन तो ऐसे बीत गए फिर तीसरे दिन उसका कॉल आया और वो रात 8 बजे निकल गई। और मैं पूरी रात इसी बारे में सोचती रही। फिर अगले दिन वो जब सो के उठी तो मि उससे पूछी की कैसा था रात। तो वह बोली कि आज का ग्राहक बहुत हरामी था। वह गैंडा की तरह मोटा था। उसके लन्ड भी साले के छोटे थे। पहले तो जल्दी खड़ी नही हो रहे थे और जब खड़े हुए तो साले का मेरी चुत में डालने से पहले ही उसका वीर्य निकल गया और मेरी चुत पर गिर गया। वो हरामी कंडोम भी नही पहना। मेरे लाख कहने के बाद भी।

अब जब भी वो बाहर जाती दूसरे दिन सबकुछ बताती तो एक दिन वह मजाक मजाक में बोली कि तू इतनी खूबसूरत है इस खूबसूरती और जावानी का फायदा क्यो नही उठाती। अगर तू ये शुरू कर दी तो हमे जितना मिलता है एक रात का उसका 3 गुना ज्यादा तुझे मिलेगा। जानेमन अपनी हॉट जावानी का फायदा उठाओ वतन ढल जाएगा तो कोई कदर नही करेगा।(यह कहानी आप https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं।)

उस दिन मेरे दिमाग मे पूरे दिन ये बात घूमते रही। फिर शाम को आभा चली गई और सुबह 4 बजे आयी तो मैं जगी हुई थी तो वह बोली कि तू सोई नही या जग गई है। तो मैं कुछ नही बोली। फिर वह सो गई। और जब उठी तो मैं उससे पूछी की तुझे एक रात के कितने मिलते हैं। तो वह बताई की ये कोई फिक्स नही है ग्राहक पर डिपेंड करता है। मोटा माल वाला ग्राहक है तो 10 , 15 हजार भी मिल जाते हैं वरना कभी कभी एक हजार से भी काम चलाने पड़ते हैं। लेकिन मैं 2000 से नीचे वाले ग्राहकों के पास कम ही जाती हूँ। मैं शॉक्ड हो गई कि एक रात के 15 हजार तक

फिर वह बोली जानेमन तू बाजार में जिस दिन आ गई तो आग लग जायेगी और तू जितना डिमांड करेगी उतना तुझे मिलेगा। बोल चलेगी मेरे साथ। लेकिन मैं उस टाइम कुछ नही बोली। और शाम में उससे बोली कि ठीक है मैं करूँगी। तो उसने अगले दिन मेरा फोटो होटल वाले को भेज दी। और होटल वाला मेरा दाम 50 हजार लगाया। दूसरे दिन कॉल आया तो मुझे बताई की तुझे बुलाया गया है आज शाम से तेरी भी दुकान का दरवाजा खुला जाएगा। हम शाम को वार्डन को 200 रुपए दिए और चले गए। वेसे तो मैं पहली भी चुदवा चुकी थि और रोज चुत में उँगली भी करती थी लेकिन मैं ये बात किसी को बताई नही थी। दरअसल मेरा अपने ही चचेरे भाई के साथ अफेयर था। और वो मुझे घर पर रोज चोदता था। लेकिन मैं जबसे होस्टल में आई टैब से बहुत कम चुदाई हुई थी। फिर बाद में वो चेन्नई में रहने लगा और उसकी शादी भी हो गई थी।

तो हम दोनों होटल पहुँचे होटल वाला खुद गाड़ी लेकर आया था क्योंकि जो ग्राहक मुझे चोदने वाला था वह 4 घंटे के 50 हजार पेड़ किये थे।

मैं होतल पहुँची। आभा अपना एक एक्सट्रा ड्रेश मेरे लिए भी लेते आयी थी। दरअसल होटल आने के बाद और ग्राहक के पास जाने से पहले थोड़ी भड़कीले ड्रेश पहनना पड़ता था। तो हम चेंजिंग रूम में गए। आभा के लिए भी एक ग्राहक था। तो हमदोनों चेंज किये मैं जो ड्रेश पहनी थी वह एक मिनी स्कर्ट थी जो सिर्फ चूतड़ों को ढकी हुई थी बाकी पूरा टांग खाली था। और ऊपर सिर्फ एक ब्रा के आकार का था। मुझे तो शर्म आ रहे थे।

मेरी टाइमिंग 11 बजे रात से 3 बजे तक थे। तो हम वही रूम में वेट करने लगे। आभा का टाइमिंग मेरे से एक घंटे पहले से था तो वह चली गई। और मैं उस कमरे में अकेले थी। 10,45 पर वही आदमी जो हमे गाड़ी से लेने गया था आया और बोला कि आप तैयार हैं तो मैं हाँ बोली। तो वह मुझे बताया कि मैडम ये ग्राहक बहुत खास हैं। अगर आप इनको खुश कर दि तो आप मालामाल हो जाएंगी और आपको किसी लोगो के पास जाने का झंझट नही रहेगा। ये हमारे हमेशा के ग्राहक हैं और बहुत अमीर हैं। फिर वह चला गया और बोला आप तैयार हो जाइए। मैं 5 मिनट में आता हूँ। और आपको उनके कमरे तक छोड़ दूंगा। फिर मैं खुद को आईने में देखकर ठीक की। फिर वह आया और मैं उसके साथ चल दिया मेरा दिल जोरो से धड़क रहा था लेकिन फिर भी मैं हिम्मत नही हारी थी और सोच ली थी जो होगा देखेंगे। और फिर वो मुझे रूम के बाहर छोड़कर वापस चले गए मैं डोर खटखटाई तो अंदर से आवाज आया कि आ जाइए।

मैं जैसे अंदर गई चौंक गई लेकिन खुद को संभाली। दरअसल सामने बैठा व्यक्ति कोई 50 साल का बुजुर्ग रहा होगा सफेद दाढ़ी सफेद बाल लेकिन बिल्कुल अंग्रेज की तरह लाल चमड़ी। फिर वह मुझसे पूछा कैसे हैं आप। तो मैं बोली ठीक हूँ। धन्यवाद। आप कैसे हैं। तो वह बोला आपके सामने हैं देख लीजिए। मैं उससे ऐसी जवाब की उम्मीद नही की थी। लेकिन फिर भी मि उसकी इस जवाब की कायल हो गई थी।

फिर वह मुझे बिस्तर पर बैठने को कहा वह खुद पैर नीचे करके बिस्तर पर बैठा हुआ था। मैं बैठी तो वह मेरा नाम पूछा और बोल आप बहुत खूबसूरत हैं वह आप खनके ही मुझे बोल रहा था। मसि ये सोचने लगी को बातों से तो यह बिल्कुल सरीफ लगता है लेकिन अय्याशी करता है। फिर पहले मेरे हाथों को पकड़ा फिर धीरे धीरे मुझे किस करने लगा और अंत मे उसने अपनी लन्ड मेरी चुत में उतार दिया। और जल्द ही वह मेरे चुत में ही माल झाड़ दिया।(यह कहानी आप https://nightqueenstories.com पर पढ़ रहे हैं।)

दोस्तों यह तो पहला दिन था उसके बाद तो मैं हर रोज एक ग्राहक के पास जाने लगी। और एक महीने में ही अथाह पैसा कमा ली। अब मैं फुल टाइम रंडी बन गई और होस्टल छोड़कर एक फ्लैट ले ली। और जब तक मैं कॉलेज से पास आउट हुए तबतक मैं शहर की सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत वैश्या बन चुकी थी। अब मेरे पास सबकुछ है। करोड़ो की मालकिन हूँ। और अब मैं सिर्फ चंद बिजनेसमैन और पॉलिटिशियन को सेवा देती हूँ।

दोस्तों कहानी का एक सब्से रोमांचक वाकया है जो मैं आपके अनुरोध पर ही लेकर आऊंगी। तो आप ज्यादा से ज्यादा कमेंट करके मुझे बताइए कि कहानी आपको कितना पसन्द आया।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

तो मिलते हैं जल्द हिनक कहानी में। नमस्कार।।

 

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *